दिल्ली कोरोना त्रासदी: श्मशानों में एक दिन में जलीं 290 शवों की चिताएं, रोज बन रहे रिकॉर्ड 

रविवार को दिल्ली में 290 शवों का अंतिम संस्कार का ताजा आंकड़ा दिल दहला देने वाला है. (File Photo)

Delhi Corona Death: दिल्ली के श्मशान घाटों पर कोरोना से मरने वालों की कतारें लग गईं हैं. श्मशानों और कब्रिस्तानों के एक दिन के आंकड़े से राजधानी में महामारी से होने वाली मौतों का भयानक तस्वीर सामने आई.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना त्रासदी में हालात लगातार भयावह हो रहे हैं. कोरोना संक्रमण की रफ्तार के साथ इससे होने वाली मौतों की रफ्तार भी लगातार तेज हो रही है. दिल्ली के श्मशान घाटों पर कोरोना से मरने वालों की कतारें लग गईं हैं. बीते रविवार का ही आंकड़ा देखें तो दिल्ली के श्मशान घाटों से चिताओं का नया रिकॉर्ड निकला है. इन श्मशान घाटों पर 290 कोविड शवों का अंतिम संस्कार किया गया. यहां के कई श्मशान घाटों पर तो क्षमता से अधिक कोरोना शवों के पहुंचने से व्यवस्थाएं लड़खड़ा गईं. कोविड से होने वाली मौतों के बाद उनके श्मशान पर अंतिम संस्कार का ये सिलसिला जारी है.

देश की राजधानी को कोरोना संक्रमण अपने प्रभाव में जकड़ता जा रहा है. कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. अस्पतालों में उपचार के लिए लंबी कतारें हैं. दिल्ली में रिकॉर्डतोड़ मौतों के बाद अंतिम संस्कार की संख्या भी रिकॉर्ड बना रही है. इसी रविवार को दिल्ली में 290 शवों का अंतिम संस्कार का ताजा आंकड़ा दिल दहला देने वाला है. यह एक दिन में होने वाले अंतिम संस्कार का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है.

New Delhi, Corona death, Cremation ghat, Corona deadbody funeral, कोरोना वायरस न्यूज
कारोना मौत: दिल्ली के श्मशानों पर जलती चिताएं बना रहीं हैं नए-नए रिकॉर्ड.


18 अप्रैल को हुए अंतिम संस्कारों को जो सूची पर नजर डालें तो वह अब तक  होने वाले अंतिम संस्कारों की सर्वाधिक संख्या की पुष्टि कर रही है. दिल्ली में सर्वाधिक अंतिम संस्कारों की क्षमता वाले निगम बोध घाट पर 48 शवों का अंतिम संस्कार हुआ. इसके साथ ही मंगोलपुरी पर 23, पंजाबी बाग पर 56, सेक्टर 24 द्वारका पर 22, लोधी रोड इलेक्ट्रिक शव गृह पर 35 अंतिम संस्कारों को पहली बार एक साथ देखा गया. इनमें लोधी रोड शव गृह पर तो 30 की क्षमता से अधिक 35 शवों का अंतिम संस्कार हुआ. इसके साथ ही सुभाष नगर, सेक्टर 24 द्वारका, गाजीपुर और सीमापुरी शवदाह गृहों पर क्षमता से कहीं अधिक चिताएं जलती दिख रहीं हैं.

बढ़ाई जा रही श्मशानों की क्षमता
निगम बोध संचालन समिति के अध्यक्ष सुमन गुप्ता की मानें तो शुरूआत में हमने 20 प्लेटफार्म आरक्षित किए थे, लेकिन जिस तेजी से लोगों की कोरोना से मौत हो रही उससे कोरोना के मृतकों के अंतिम संस्कार की संख्या भी बढ़ रही है. इसको देखते हुए अभी 120 में 55 प्लेटफार्म कोरोना से मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए आरक्षित किए गए हैं. चूंकि यह संख्या और बढ़ रही है इसलिए 20 नए प्लेटफार्म बनाए जा रहे हैं. ताकि लोगों को कोई दिक्कत न हो.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.