होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /मोहल्ला क्लिनिक में गलत इलाज से 3 बच्चों की मौत, कांग्रेस और BJP नेताओं ने ऐसे बोला अरविंद केजरीवाल पर हमला

मोहल्ला क्लिनिक में गलत इलाज से 3 बच्चों की मौत, कांग्रेस और BJP नेताओं ने ऐसे बोला अरविंद केजरीवाल पर हमला

मोहल्ला क्लिनिक में गलत इलाज से 3 बच्चों की मौत के मामले में केजरीवाल सरकार पर विपक्षी पार्टियां हमलावर हो गई हैं. (फाइल फोटो)

मोहल्ला क्लिनिक में गलत इलाज से 3 बच्चों की मौत के मामले में केजरीवाल सरकार पर विपक्षी पार्टियां हमलावर हो गई हैं. (फाइल फोटो)

दिल्ली की केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) मोहल्ला क्लिनिक (Mohalla clinic) को लेकर एक बार फिर से निशाने पर है. दिल ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. दिल्ली की केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) मोहल्ला क्लिनिक (Mohalla clinic) को लेकर एक बार फिर से निशाने पर है. दिल्ली की दो प्रमुख विपक्षी पार्टियां बीजेपी और कांग्रेस ने केजरीवाल सरकार पर आरोप लगाया है कि मोहल्ला क्लिनिक में गलत इलाज करने से तीन बच्चों की मौत हो गई और 13 बच्चों का इलाज कलावती शरण अस्पताल में चल रहा है. इस मुद्दे को लेकर अब बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता, पूर्व अध्यक्ष और बीजेपी सांसद मनोज तिवारी और गौतम गंभीर के अलावा बीजेपी के राष्ट्रीय मीडिया सेल के प्रभारी अमित मालवीय ने भी मोर्चा थाम लिया है. साथ ही कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने भी ‘आप’ सरकार को इस मुद्दे पर घेरना शुरू कर दिया है. इन विपक्षी नेताओं का दावा है कि दिल्ली सरकार के मोहल्ला क्लिनिक में डेक्स्ट्रोमिथॉर्फन सिरप (Dextromethorphan) देने से 16 बच्चे बीमार हो गए थे, जिसमें 3 बच्चों की मौत हो गई थी. हालांकि, इस घटना के सामने आने के चार महीने बाद दिल्ली सरकार ने तीन डॉक्टरों को बर्खास्त कर दिया है और एक जांच कमेटी का भी गठन कर दिया है.

ये है डायरेक्टर जनरल हेल्थ सर्विसेज की रिपोर्ट
बता दें कि दिल्ली में तीन बच्चों की मौत का मामला अब तूल पकड़ लिया है. भारत सरकार के डायरेक्टर जनरल हेल्थ सर्विसेज (DGHS) ने दिल्ली सरकार के डीजीएचएस को निर्देश दिया था कि वह सभी मोहल्ला क्लिनिकों बताए कि चार साल से कम उम्र के बच्चों को डेक्स्ट्रोमिथॉर्फन सिरप प्रिसक्राइब नहीं करे. इसके बाद से ही बीजेपी नेताओं ने इस लेटर को ट्वीट कर अरविंद केजरीवाल पर हमला बोलना शुरू कर दिया. सोमवार शाम को दिल्ली सरकार ने इस मामले को लेकर एक चार सदस्यों की कमेटी का गठन कर दिया है. साथ ही तीन डॉक्टरों को बर्खास्तगी की सिफारिश भी कर दिया है.

Mohalla Clinic, Dextromethorphan, Delhi Mohalla Clinic News, what is Dextromethorphan, who can use Dextromethorphan, Amit malvia, manoj tiwari, adesh gupta, gautam gambhir, arvind kejriwal, satyendra jain, मोहल्ला क्लिनिक में तीन बच्चों की मौत, केजरीवाल सरकार, दिल्ली सरकार, अमित मालवीय, मनोज तिवारी, गौतम गंभीर, चौधरी अनिल कुमार, बीजेपी, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, आप सरकार, अरविंद केजरीवाल, सत्येंद्र जैन, बच्चों की मौत कैसे हुई, अनट्रेंड डॉक्टर, मोहल्ला क्लीनिक, 3 children died due to wrong treatment in Mohalla Clinic BJP and congress leaders attacked Arvind Kejriwal nodrss

मोहल्ला क्लिनिक में 3 बच्चों की मौत के मामले में केजरीवाल सरकार एक्शन में आ गई है.

बीजेपी नेता अमित मालवीय ने इस घटना के बाद मोहल्ला क्लिनिक के डाक्टरों को अयोग्य कहा. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘केजरीवाल के हाथों में खून लगा है. जो सीरप दिया गया वो 4 साल से अधिक उम्र के बच्चों के लिए होता है.’

गंभीर ने अरविंद केजरीवाल को लेकर ये कहा
वहीं, बीजेपी के सांसद और पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी गौतम गंभीर ने कहा कि मोहल्ला क्लिनिक की असलियत अब सबके सामने आ चुकी है. इसमें अधिकतर अनट्रेंड डॉक्टर हैं. ऐसे ही डॉक्टरों ने ही गलत दवा दिया जिससे 3 बच्चों की मौत हुई और 13 बच्चे जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं. गंभीर ने कहा, ‘केजरीवाल को अब जवाब देना चाहिए कि क्यों न उन्हें इन बच्चों की मौत का जिम्मेदार ठहराया जाना चाहिए?’

मनोज तिवारी ने लगया ये आऱोप
वहीं, दिल्ली बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष और उत्तर-पूर्व दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी के ऑफिस ने भी प्रेस नोट जारी कर केजरीवाल को घेरा. तिवारी ने कहा, ‘दिल्ली के मोहल्ला क्लीनिकों में गलत दवा देने से तीन बच्चों की मौत हो गई है और 13 बीमार हैं. दिल्ली सरकार को फौरन हरकत में आना चाहिए. दिल्ली की दो करोड़ जनता को जो संभाल नहीं रहा है वह चला है पंजाब, यूपी का सपना देखने..’

पहले भी उठ रहे थे मोहल्ला क्लिनिक पर सवाल
वहीं, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की निगरानी में दिल्ली के मोहल्ला क्लिनिकों में खुलेआम मरीजों की जान से खिलवाड़ हो रहा है. मोहल्ला क्लिनिकों की आड़ में झूठी वाहवाही लूटने वाले केजरीवाल दिल्लीवालों को क्लिनिकों में दवाई के नाम पर मौत परोस रहे हैं, क्योंकि डेक्सट्रोमैथार्फन नामक दवाई जो 4 साल से अधिक उम्र के बच्चों को दी जानी चाहिए थी, मोहल्ला क्लिनिक में नियुक्त डाक्टरों ने 3 वर्ष के बच्चों को दी थी. मोहल्ला क्लिनिकों में गलत दवाई देने के कारण हुई 3 बच्चों की मौत के लिए नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मुख्यमंत्री केजरीवाल माफी मांगे और दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री तुरंत इस्तीफा दें. मृतक बच्चों के परिवार वालों को एक करोड़ का मुआवजा तथा बीमार बच्चों को 10 लाख रुपये का मुआवजा दे.’

ये भी पढ़ें: दिल्ली: प्रदूषण नियंत्रण से जुड़े इन 14 नियमों का पालन कर ही अब आप कर सकेंगे कंस्ट्रक्शन का काम

बता दें कि विपक्षी पार्टियां पहले से ही मोहल्ला क्लिनिक को लेकर केजरीवाल सरकार पर तरह-तरह के आरोप लगाती रही है. खासकर, कोरोना काल की पहली और दूसरी लहर के दौरान भी मोहल्ला क्लिनिक को लेकर कई सवाल पूछे गए थे. वैक्सीनेशन के दौरान भी मोहल्ला क्लिनिक की उपयोगिता पर सवाल उठे थे.

Tags: AAP Government, BJP, Children, CM Arvind Kejriwal, Congress, Death, Delhi news, Health News

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें