दिल्ली: मंगोलपुरी में तीन किशोरों ने किया 9 वर्षीय बधिर लड़की से हैवानियत
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली: मंगोलपुरी में तीन किशोरों ने किया 9 वर्षीय बधिर लड़की से हैवानियत
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

पुलिस ने कहा कि लड़की का बयान दर्ज कर लिया गया है, साथ ही आरोपियों के खिलाफ पॉक्सो अधिनियम (POCSO Act) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 11, 2020, 7:02 AM IST
  • Share this:


नई दिल्ली. दिल्ली के मंगोलपुरी (Mangolpuri) इलाके में 9 वर्षीय बधिर लड़की (Deaf Girl) का उसके घर के निकट रहने वाले तीन किशोरों द्वारा कथित तौर पर यौन उत्पीड़न (sexual harassment) किये जाने का मामला सामने आया है. पुलिस ने गुरुवार को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि तीनों किशोरों को हिरासत में ले लिया गया है. अभी पूछताछ नहीं की गई है.


पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि घटना पिछले सप्ताह की है. पीड़ित बधिर है और उसने अपने परिजन को पहले घटना की जानकारी नहीं दी थी. अधिकारी ने कहा बाद में लड़की ने मां को घटना के बारे में बताया तो उन्होंने पुलिस को इसकी जानकारी दी और सोमवार को शिकायत दर्ज की गई.


पुलिस ने कहा कि लड़की का बयान दर्ज कर लिया गया है, साथ ही आरोपियों के खिलाफ पॉक्सो अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है. उन्होंने कहा कि एमएलसी रिपोर्ट में बलात्कार के संकेत नहीं मिले. पुलिस ने कहा कि लड़की ने अपने बयान में कहा कि उसका कई बार यौन उत्पीड़न किया जा चुका है.



 90 वर्षीय एक महिला के साथ दुष्कर्म 
वहीं हाल ही में दक्षिण पश्चिम दिल्ली के छावला इलाके में 90 वर्षीय एक महिला के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म किये जाने का मामला सामने आया था. पुलिस के मुताबिक इस घटना के सिलसिले में रेवला खानपुर निवासी आरोपी सोनू (37) को गिरफ्तार किया गया है. वह नलों और पानी की लाइन ठीक करने का काम करता है. पुलिस ने बताया कि यह घटना तब हुई जब बुजुर्ग महिला पास के एक गांव जा रही थी. रास्ते में आरोपी ने महिला को अपनी मोटरसाइकिल पर लिफ्ट देने की पेशकश की.

बेहद परेशान करने वाला मामला
उन्होंने कहा कि उसे उसके गंतव्य पर सुरक्षित रूप से छोड़ने के बहाने, वह उसे एक एकांत क्षेत्र में ले गया और उसके साथ बलात्कार किया. पुलिस उपायुक्त (द्वारका) संतोष कुमार मीणा ने कहा, “छावला पुलिस थाने में भादंसं की धारा 376 (बलात्कार) के तहत मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.” उन्होंने कहा कि पीड़िता की मेडिकल जांच कराई गई और उसका बयान दर्ज किया गया. पुलिस ने कहा कि महिला की हालत अब स्थिर है. मंगलवार को उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. इस बीच, दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) ने इसे बेहद परेशान करने वाला मामला बताया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज