Home /News /delhi-ncr /

गुरुग्राम के निजी स्कूल में 3 साल की मासूम के साथ हैवानियत, आरोपी गिरफ्तार

गुरुग्राम के निजी स्कूल में 3 साल की मासूम के साथ हैवानियत, आरोपी गिरफ्तार

तीन वर्ष की मासूम से दुष्कर्म का प्रयास करने वाला आरोपी गुरुग्राम पुलिस की हिरासत में

तीन वर्ष की मासूम से दुष्कर्म का प्रयास करने वाला आरोपी गुरुग्राम पुलिस की हिरासत में

मासूम के पिता ने जब इस मामले की सबसे पहले शिकायत स्कूल प्रबंधन से की तो स्कूल प्रबंधन ने बजाय एफएआईआर दर्ज करवाने करवाने के सिर्फ स्वीपर को निकाले जाने की बात कहकर इस अति गंभीर मामले में लीपापोती करने की कोशिश की.

गुरुग्राम के निजी स्कूल में 3 वर्षीय मासूम के साथ हैवानियत का मामला सामने आया है. आरोप है कि जब तीन साल की मासूम गुरुवार को जब स्कूल के टॉयलेट में गई तो वहां  पर मौजूद स्वीपर ने उसके साथ दुष्कर्म की नाकाम कोशिश की. मामले का खुलासा तब हुआ जब बच्ची घर पहुंची और उसने दर्द की शिकायत अपने परिजनों से की. मासूम के पिता ने जब प्यार से बच्ची से पूछा तो जो बयान मासूम ने किया वो काफी डराने वाला था. मासूम के पिता ने मामले की शिकायत बादशाहपुर पुलिस स्टेशन में दर्ज करवाई. उसके बाद हरकत आई गुरुग्राम पुलिस ने आरोपी स्वीपर कोमल को स्कूल परिसर से ही गिरफ्तार कर लिया.

वहीं मासूम के पिता ने जब इस मामले की सबसे पहले शिकायत स्कूल प्रबंधन से की तो स्कूल प्रबंधन ने बजाय एफएआईआर दर्ज करवाने करवाने के सिर्फ स्वीपर को निकाले जाने की बात कहकर इस अति गंभीर मामले में लीपापोती करने की कोशिश की. इस तरह स्कूल ने जिला प्रशासन द्वारा जारी की गई ऐसे मामलों में तमाम गाइडलाइन को दरकिनार कर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ने का काम किया.

गुरुग्राम पुलिस आरोपी स्वीपर कोमल से पूछताछ कर रही है. एसीपी क्राइम शमशेर सिंह ने बताया कि पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. गौरतलब है कि गुरुग्राम के ही नामी निजी में 7 वर्षीय प्रिंस की हत्या मामले के बाद से ही तमाम तरह की गाइडलाइन जारी की गई थी जिसमें तमाम स्टाफ की डिटेल्स के साथ-साथ पुलिस वेरिफिलेशन कराया जाना भी शामिल था.



यह भी पढ़ें- थम नहीं रहा स्वाइन फ्लू का कहर, अब चरखी दादरी में गर्भवती महिला की मौत


यह भी पढ़ें- एनएचएम कर्मियों की भूख हड़ताल जारी, तीन की हालत बिगड़ी

Tags: Gurgaon news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर