दिल्ली मेट्रो में सफर कर रहे गुजरात के शख्स से 35 लाख बरामद, तफ्तीश में जुटा IT डिपार्टमेंट

IT मामले की जांच कर रही है.
IT मामले की जांच कर रही है.

आरोपी अजमलभाई को मेट्रो स्टेशन (Delhi Metro Station) पर जांच के दौरान पकड़ा गया. फिलहाल, इनकम टैक्स (IT) के अधिकारी मामले की तफ्तीश कर रहे हैं. 

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 25, 2020, 8:10 PM IST
  • Share this:
दिल्ली. अर्धसैनिक बल सीआईएसएफ (CISF ) के जवानों की सतर्कता की वजह से एक ऐसे संदिग्ध युवक को हिरासत में लिया गया है जो 35 लाख रुपये नकदी के साथ मेट्रो की यात्रा करने वाला था. उस पैसों के बारे में जब पूछताछ की गई तो वो परेशान हो गया. उसकी संदिग्ध हालत और सही तरीके से जवाब नहीं देने की वजह से उसे हिरासत में लिया गया. हिरासत में लिए गए शख्स का नाम अजमलभाई है , जो मूल रूप से गुजरात (Gujarat ) के पाटन का रहने वाला है. सीआईएसएफ के जवानों ने अजमलभाई को टैगोर गार्डेन मेट्रो स्टेशन (Delhi Metro) पर यात्रा करने से पहले जांच के दौरान हिरासत में लिया था. उसके बाद उससे हुई पूछताछ के बाद सीआईएसएफ के जवानों ने स्थानिय पुलिस (Delhi police ) और इनकम टैक्स विभाग (Income tax ) को सूचित किया गया. फिलहाल इनकम टैक्स के अधिकारी अजमलभाई से पूछताछ कर रहे हैं.

इनकम टैक्स की तफ्तीश 

दरअसल, पूछताछ का मुख्य मसला है कि वो 35 लाख रुपये लेकर कहां से आया था और कहां जा रहा था ? क्या इस पैसे का कोई हवाला कनेक्शन तो नहीं है ? लिहाजा इसी मामले की गंभीरता को देखते हुए अजमलभाई से पूछताछ चल रही है. पर सबसे बड़ा मसला था कि गुजरात के रहने वाले इस शख्स का दिल्ली में  इतने बड़े रकम के साथ यात्रा करना अपने आप में बड़ी बात थी. इनकम टैक्स की टीम उस पैसों के लाने के सोर्स के बारे में जानकारियां तलाश रही है. इसके साथ ही गुजरात में उसके फैमली बैकग्राउंड और उसके कामकाज के बारे में भी पता करवा रही है, जिससे ये पता चल सके कि ये शख्स मूल रूप से काम क्या करता है और क्या ये वाकई में कारोबारी है या कोई हवाला कारोबारी.



delhi latest news, delhi metro, 35 lakh cash recovered in delhi metro, delhi crime news, income tax department, CISF , दिल्ली ब्रेकिंग न्यूज, दिल्ली मेट्रो में 35 लाख बरामद, दिल्ली मेट्रो में जांच, दिल्ली पुलिस, दिल्ली क्राइम न्यूज
दिल्ली में इतने बड़े रकम के साथ यात्रा करना अपने आप में बड़ी बात थी.

ये भी पढ़ें: टैलेंट को तराशेगी गहलोत सरकार, राजस्थान में खुलेंगे 8 नए एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय



ऐसे खुला मामला

अजमलभाई को 25 सितंबर को शाम करीब साढे़ पांच बजे सीआईएसएफ के कांस्टेबल ललन कुमार ने उस वक्त जांच के दौरान रोका जब उसने अपना बैक जांच के लिए X-BIS मशीन में डाला. हर सामान को गौर से देखना ही ललन कुमार का काम था.  X-BIS मशीन में हैंड बैग को गौर से देखने के बाद ये समझ गया की उसमें काफी नगदी है. लिहाजा कांस्टेबल ने इस मामले की जानकारी सीनियर अधिकारियों को दी. पूछताछ के दौरान वो शख्स काफी देर तक अपना नाम और कहां का रहने वाला है ये भी बता नहीं रहा रहा था. फिर सीआईएसएफ के कंट्रोल रूम में उसे बैठाकर काफी देर तक पूछताछ की गई. इस दौरान  उस व्यक्ति का हावभाव काफी संदिग्ध लगा. फिर स्थानिय पुलिस और इनकम टैक्स विभाग को जानकारी दी गई. फिलहाल इनकम टैक्स विभाग इस मामले में विस्तार से पूछताछ कर रही है. जल्द ही इनकम टैक्स विभाग पूछताछ के बाद कुछ और खुलासे कर सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज