होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /ग्रेटर नोएडा में 4 कंपनियां करेगी निवेश, बनाया जाएगा रोबोट, 11,000 लोगों को मिलेगा रोजगार

ग्रेटर नोएडा में 4 कंपनियां करेगी निवेश, बनाया जाएगा रोबोट, 11,000 लोगों को मिलेगा रोजगार

ग्रेटर नोएडा में चार बड़ी कंपनियों ने निवेश के लिए जमीन खरीदी है. 

ग्रेटर नोएडा में चार बड़ी कंपनियों ने निवेश के लिए जमीन खरीदी है. 

Jobs News: ग्रेटर नोएडा में जल्द ही 10 हजार से ज्यादा नौकरियों की बयार आने वाली है. यहां चार बड़ी कंपनियां निवेश के लिए ...अधिक पढ़ें

ग्रेटर नोएडा. ग्रेटर नोएडा में जल्द ही 10 हजार से ज्यादा नौकरियों की बहार आने वाली है. यहां चार बड़ी कंपनियों ने निवेश के लिए जमीन खरीदी है. इन कंपनियों में रोबोट (Robot) का निर्माण करने वाली कंपनी भी शामिल है. जानकारी के मुताबिक, इन चारों में से एक कंपनी डीएमआईसी आईआईटीजीएनएल की इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप में और बाकी तीन ग्रेटर नोएडा में अपनी इकाई स्थापित करेंगी. बताया जा रहा है कि इन कंपनियों से करीब 1600 करोड़ रुपये का निवेश आएग. इससे 11,250 युवाओं के लिए रोजगार  (Jobs) के दरवाजे खुलेंगे. वहीं इससे प्राधिकरण को 90 दिनों में बतौर जमीन की लागत के रूप में करीब 160 करोड़ रुपये प्राप्त होंगे.

ग्रेटर नोएडा और डीएमआईसी आईआईटीजीएनएल में जिन चार कंपनियों ने निवेश के लिए जमीन खरीदी है, उनमें एलनटेक इंडिया, एडवर्ब टेक्नोलॉजी, गुरु अमरदास इंटरनेशनल व टेरॉन माइक्रो सिस्टम हैं. मोबाइल पार्ट्स बनाने वाली कोरियन कंपनी एलेनटेक इंडिया ने ग्रेटर नोएडा के इकोटेक वन एक्सटेंशन वन में 20,235 वर्ग मीटर के एक साथ दो प्लॉट खरीदे हैं. इस जमीन की कीमत करीब 72 करोड़ रुपये है, जिसमें कंपनी करीब 1000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. इसमें 8000 युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे. कंपनी ने चरणबद्ध तरीके से प्लांट लगाएगी और चार साल में इसे पूरा करेगी.

रोबोट कंपनी में 2 हजार युवाओं को मिलेगा रोजगार

वहीं विश्व में रोबोट निर्माण की प्रमुख कंपनी एडवर्ब टेक्नोलॉजी ने ईकोटेक 10 में करीब 13 एकड़ जमीन खरीदी है. जमीन की लागत करीब 38 करोड़ रुपये है। यह कंपनी अगले चार साल में 500 करोड़ रुपये का निवेश कर यूनिट शुरू कर देगी. इससे करीब 2000 युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे. इसी तरह इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पाद बनाने वाली टेरॉन माइक्रो सिस्टम ने ईकोटेक वन एक्सटेंशन वन में 16 करोड़ रुपये में दो एकड़ जमीन खरीदी है. कंपनी इसमें 23 करोड़ रुपये का निवेश करेगी 150 युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे.

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने बताया कि ग्रेटर नोएडा और आईआईटीजीएनएल में औद्योगिक निवेश को बढ़ावा देने के लिए पुरजोर कोशिश जारी रहेगी. आवेदन के एक माह के भीतर उद्यमियों को जमीन उपलब्ध कराया जा रहा है, ताकि उत्पादन यूनिट लगाने में जमीन के लिए समय खराब न हो. इससे युवाओं को रोजगार के अवसर मिल सकेंगे.

Tags: Greater noida news, Jobs news, Robot

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें