दिल्‍ली-NCR में रहते हैं तो हो जाएं सावधान! 5 दिनों तक प्रभावित रह सकती है पानी की सप्‍लाई

गंग नहर की सफाई के चलते पीने के पानी की कमी हो सकती है. Demo Pic.
गंग नहर की सफाई के चलते पीने के पानी की कमी हो सकती है. Demo Pic.

Water Supply: गंग नहर में सालाना मेंटेनेंस का काम शुरू होने के चलते पूर्वी और दक्षिणी दिल्‍ली में पानी की आपूर्ति प्रभावित हो सकती है. हालांकि, दिल्‍ली सरकार ने वैकल्पिक व्‍यवस्‍था करने की बात कही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 1:01 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पानी की सप्लाई (Water Supply) को लेकर कुछ दिन के लिए दिल्ली-एनसीआर (Delhi NCR) में हाहाकार की स्थिति उत्‍पन्‍न हो सकती है. दिल्ली-एनसीआर को पानी की सप्लाई देने वाली गंग नहर (Ganga Canal) को रखरखाव का काम शुरू होने के चलते कुछ दिन के लिए इसे बंद रखा जाएगा. हर साल उत्तराखण्ड सरकार नहर का मेंटेनेंस करती है. ऐसे में इसके चलते दिल्ली-एनसीआर वालों को खासी परेशानी उठानी पड़ सकती है. हालांकि, दिल्ली सरकार का कहना है कि एक जगह से पानी की सप्लाई (Water Crisis) कम होने की स्थिति में दूसरी जगह से इंतज़ाम किया जा रहा है. दिल्ली वालों को पानी को लेकर किसी भी तरह की परेशानी नहीं होने दी जाएगी.

नहर की सफाई होने से कम होने वाली पानी की सप्लाई से इतना फर्क नहीं पड़ता, लेकिन सफाई के दौरान ही यमुना में भी पानी की कमी हो गई है. गंग नहर में मेंटेनेंस का काम होने की वजह से भागीरथी और सोनिया विहार प्लांट प्रभावित होंगे. वहीं, अगर बात पूर्वी और दक्षिणी दिल्ली की करें तो दोनों जगहों पर एनडीएमसी एरिया वाटर सप्लाई प्रभावित रहेगी. अगले 4 से 5 दिनों तक वाटर सप्लाई प्रभावित होने के आसार हैं. सोमवार से सफाई का काम शुरू हो गया है.

यह भी पढ़ें: दिल्ली हिंसा: पुलिस ने 13 जोड़ी फीमेल अंडर गार्मेंट्स किए बरामद, 8 युवाओं के गैंग पर लूट का आरोप



सरकार प्रयासरत
आप नेता और राजेंद्र नगर से विधायक राघव चड्डा का कहना है कि अपर गंग कैनाल से जो पानी का बहाव होता है, उसमें थोड़ी सी कमी आयी है. उत्तर प्रदेश सरकार सालाना रखरखाव के लिए उसे बंद करती है. उसके कई विकल्प निकाले गए हैं. अगर एक जगह से सोर्स ऑफ वाटर कम होता है तो दूसरी जगह से उसकी भरपाई करेंगे. इस समस्या से ईस्ट और साउथ दिल्ली में कुछ कमी की संभावना थी. हम इसका वैकल्पिक रास्ता तलाश रहे हैं. हम UP सरकार से भी चर्चा कर रहे हैं कि जल्दी मेंटनेंस का काम पूरा कर लें.

दूसरी तरफ, दिल्ली सरकार ने प्रदूषण रोकने के लिए 'रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ' नाम से अभियान शुरू किया है. दिल्ली के बड़े सिग्नल पर आम आदमी पार्टी के वालेंटियर सड़क पर पम्फलेट लेकर और सिग्नल की रेप्लिका लेकर ये संदेश दे रहे हैं. वाहन चालकों का कहना है लोगों को इसमें हिस्सा लेना होगा. वहीं आप नेता और राजेंद्र नगर से विधायक राघव चड्डा ने भी इस अभियान में हिस्सा लिया. राघव चड्डा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल सरकार प्रदूषण कम करने का प्रयास कर रही है.

आंकड़ो के ज़रिए हम समझा रहे हैं कि बड़े सिग्नल पर अगर आप इंजन बंद कर दे तो वाहनों से होने वाला प्रदूषण कम होगा. हमें उम्मीद है ये लड़ाई हम जीतेंगे और वायु प्रदूषण हारेगा. राजेन्द्र नगर विधानसभा में हमने शुरू किया है. बड़े जंक्शन पर हम जागरूकता अभियान चला रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज