• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • महाठग सुकेश पर नजर रखने के लिये लगाये 55 CCTV, 4 कर्मियों का 24 घंटे पहरा, लगा है ये बड़ा आरोप

महाठग सुकेश पर नजर रखने के लिये लगाये 55 CCTV, 4 कर्मियों का 24 घंटे पहरा, लगा है ये बड़ा आरोप

2017 में चुनाव आयोग रिश्वत मामले में सुकेश चंद्रशेखर को एक होटल से गिरफ्तार कर तिहाड़ जेल ले जाया गया था. (फोटो: News18 Tamil)

2017 में चुनाव आयोग रिश्वत मामले में सुकेश चंद्रशेखर को एक होटल से गिरफ्तार कर तिहाड़ जेल ले जाया गया था. (फोटो: News18 Tamil)

Tihar Jail News: जेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जेल प्रशासन ने उस पर नजर रखने के लिए पुख्ता इंतजाम किये हैं. उसका सेल कांग्रेस नेता सज्जन कुमार के बगल में है. उसके वार्ड में नजर रखने के लिये जेल प्रबंधन ने खास इंतजाम किये हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रमोटर शिविंदर सिंह की पत्नी अदिति सिंह से जेल में बैठकर 200 करोड़ रुपये की रंगदारी वसूलने के आरोपी सुकेश चंद्रशेखर पर लगातार नजर रखने के लिए तिहाड़ जेल प्रशासन ने कुछ खास उपाय किये हैं, जिनमें उसके वार्ड के चारों ओर 55 CCTV कैमरे लगाने से लेकर तमिलनाडु विशेष पुलिस (TNSP) के दो कर्मियों और दो जेल वार्डन को 24 घंटे के लिए पहरा लगाया गया है.

    इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, अदिति ने शिकायत दर्ज कर आरोप लगाया था कि एक व्यक्ति ने उन्हें विधि सचिव बनकर धोखा दिया था. उस ठग ने अपने पति के कानूनी मामलों में मदद करने का वादा किया था. चंद्रशेखर, उसके वकील बी मोहन राज, अभिनेत्री लीना पॉल, उसकी प्रबंधक जोएल जोस मैथ्यूज, सुकेश को चेन्नई में एक बंगला खरीदने में मदद करने वाले कमलेश कोठारी और लक्जरी कार खरीदने में मदद करने वाले अरुण मुथु के खिलाफ कड़े महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण अधिनियम (MCOCA) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

    जेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, “कुछ दिन पहले, सुकेश को न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेजा गया था. इस बार जेल प्रशासन ने उस पर नजर रखने के लिए पुख्ता इंतजाम किए हैं. उसका सेल कांग्रेस नेता सज्जन कुमार के बगल में है. उसके वार्ड में 50 CCTV कैमरे और उसके सेल में पांच हाई-एंड CCTV कैमरे लगाये गये हैं.”

    उसके सेल के बाहर पोस्टर लगाए गए हैं जिसमें कहा गया है कि किसी वरिष्ठ अधिकारी की अनुमति के बिना प्रवेश प्रतिबंधित है. अधिकारी ने कहा, “हमने उसके सेल के बाहर दोहरी सुरक्षा परत बनाई है और टीएनएसपी के दो कर्मियों और एक वार्डन के साथ एक हेड वार्डर को भी तैनात किया है.” तिहाड़ जेल प्रशासन ने रोहिणी जेल से चलाए जा रहे जबरन वसूली रैकेट की आंतरिक जांच के दौरान पाया कि सुकेश मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर रहा था और जेल अधिकारियों ने उसकी मदद की थी. एक सूत्र ने बताया, “उसे कुछ मदद की जा रही थी. जेल में रहते हुए, उसने बैरक के लिए अपनी बेडशीट का इस्तेमाल पर्दे के रूप में किया, ताकि सीसीटीवी में (उसकी गतिविधियां) कैद न हो सके.”

    अधिकारियों ने कहा कि जेल प्रशासन द्वारा दो कंबल उपलब्ध कराये गये हैं, और अब उसे ‘सामान्य पानी’ दिया जा रहा है. एक अधिकारी ने कहा, “उसने जेल अधीक्षक से बी श्रेणी का भोजन (जेल अधिकारियों के लिए और विशेष अनुरोध पर) प्रदान करने का अनुरोध किया था, लेकिन उसका अनुरोध ठुकरा दिया गया है.” एक अधिकारी ने कहा कि 2018 में उस वक्त एक हेड वार्डर को निलंबित कर दिया गया था, जब जेल प्रशासन का पता चला था कि सुकेश की प्रेमिका लीना उसके जन्मदिन पर उससे मिलने आई थी और उसके कक्ष में एक पार्टी का आयोजन किया गया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज