Delhi Corona Death: दिल्‍ली में कोरोना से हाहाकार, रविवार को हुआ 666 शवों का अंतिम संस्‍कार

दिल्‍ली में रविवार को 350 लोगों ने दम तोड़ा.

दिल्‍ली में रविवार को 350 लोगों ने दम तोड़ा.

Delhi Corona Death: कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से दिल्‍ली में कोहराम मचा हुआ है. इस बीच रविवार को दिल्‍ली में 666 मरीजों के अंतिम संस्‍कार से खलबली मची हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 26, 2021, 12:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश की राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से हाहाकार मचा हुआ है. इस समय दिल्‍ली में पिछले काफी दिनों से न सिर्फ लगातार 20 हजार से अधिक कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं बल्कि मरने वालों का आंकड़ा भी रिकॉर्ड (Delhi Corona Death) बनाता जा रहा है. यही नहीं, रविवार को कोरोना से 350 मरीजों की मौत होने हड़कंप मच गया है. वहीं, कोरोना से लगातार मरने वालों शवों के अंतिम संस्‍कार के लिए श्‍मशान और कब्रिस्‍तान में जगह कम पड़ने लगी है. इस बीच दिल्‍ली में रविवार को एक दिन में 666 मरीजों के अंतिम संस्‍कार से खलबली मच गयी है.

भाजपा शासित दिल्‍ली नगर निगम द्वारा 25 अप्रैल शाम 6 बजे तक जारी आंकड़ों के मुताबिक, राजधानी में रविवार को कुल 666 लोगों के शवों का अंतिम संस्कार (दाह संस्‍कार और दफन) किया गया है. बता दें कि दिल्‍ली में तीनों नगर निगम के 9 क्षेत्रों में 21 श्मशान और कब्रिस्‍तान हैं, लेकिन लगातार बढ़ती मौतों के कारण हर जगह वेटिंग चल रही है.

सराय काले खां पार्क में तैयार हो रहे 50 प्‍लेटफॉर्म

यही नहीं, दिल्‍ली के सराय काले खां एरिया में कोरोना से जान गंवाने वालों के अंतिम संस्‍कार के लिए पार्क में अलग से 50 प्‍लेटफॉर्म तैयार किए जा रहे हैं. जबकि सराय काले खां श्‍मशान घाट में पहले से 20 प्‍लेटफॉर्म थे. इस बीच प्‍लेटफॉर्म तैयार करने वाले ठेकेदार ने कहा, 'यहां शव इतने आ रहे हैं कि श्‍मशान घाट छोटा पड़ गया है, इसलिए नये प्‍लेटफॉर्म तैयार किए जा रहे हैं.'
बता दें कि बीते 24 घंटों में कोरोना के 22933 नए संक्रमित मिले, तो 350 लोगों की संक्रमण से मौत हो गई है. वहीं,पॉजिटिविटी रेट 30.21 प्रतिशत हो गया है. इसमें भी शनिवार के मुकाबले दो फीसदी की कमी देखी गई है. हालांकि दिल्‍ली में अभी एक्टिव केस 94,592 हैं. इसके अलावा अब तक प्रदेश में कोरोना संक्रमण से कुल 9,18,875 मुक्त हो चुके हैं, तो 14,248 लोगों की मौत हो चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज