Home /News /delhi-ncr /

स्पेशल कॉरिडोर में 120 किमी की रफ्तार से दौड़ेगी Metro Train, जानिए प्लान

स्पेशल कॉरिडोर में 120 किमी की रफ्तार से दौड़ेगी Metro Train, जानिए प्लान

जेवर एयरपोर्ट से नई दिल्ली या शिवाजी मेट्रो स्टेशन तक सुपर फॉस्ट मेट्रो ट्रेन दौड़ाने की योजना ने रफ्तार पकड़ ली है. file photo

जेवर एयरपोर्ट से नई दिल्ली या शिवाजी मेट्रो स्टेशन तक सुपर फॉस्ट मेट्रो ट्रेन दौड़ाने की योजना ने रफ्तार पकड़ ली है. file photo

नॉलेज पार्क (knowledge park) से जेवर एयरपोर्ट तक का रूट गौतम बुद्ध नगर (Gautam Budh Nagar) का सबसे लम्बा रूट होगा. इस पूरे कॉरिडोर में 120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से मेट्रो ट्रेन दौड़ेगी. जिसका सीधा फायदा आईजीआई और जेवर एयरपोर्ट (Jewar Airport) के पैसेंजर को मिलेगा. दोनों फेज की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (DPR) तैयार कराने के लिए अथॉरिटी ने यह जिम्मेदारी डीएमआरसी (DMRC) को सौंपी है.

अधिक पढ़ें ...

    नोएडा. जेवर एयरपोर्ट से नई दिल्ली (New Delhi) या शिवाजी मेट्रो स्टेशन तक सुपर फॉस्ट मेट्रो ट्रेन दौड़ाने की योजना ने रफ्तार पकड़ ली है. दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) ने बेसिक रिपोर्ट तैयार कर यमुना अथॉरिटी (Yamuna Authority) को सौंप दी है. अब मेट्रो के लिए स्पेशल कॉरिडोर की फिजिबिलिटी रिपोर्ट और डीपीआर तैयार करने की जिम्मेदारी भी डीएमआरसी को दी गई है. सुपर फॉस्ट मेट्रो ट्रेन (Metro Train) चलाने के लिए दो से तीन विकल्प पर काम किया जा रहा है. वहीं नॉलेज पार्क (knowledge park) से जेवर एयरपोर्ट तक के रूट को भी मंजूरी दे दी गई है.

    दो एयरपोर्ट को मेट्रो से जोड़ने का यह है प्लान

    120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से सुपर फॉस्ट मेट्रो ट्रेन चलाने के लिए यमुना अथॉरिटी का प्लान है कि जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के साथ ही मेट्रो ट्रेन भी जेवर तक पहुंच जाए. इसके लिए अथॉरिटी पहले फेज में आईजीआई, दिल्ली एयरपोर्ट से लेकर नॉलेज पार्क (ग्रेटर नोएडा) के 38 किमी लम्बे रूट तक नया मेट्रो रेल कॉरिडोर तैयार किया जाए. इसके लिए पूरी लाइन नए तरीके से बिछाई जाएगी.

    दूसरा फेज 35.6 किमी का है. इस फेज में नॉलेज पार्क से लेकर जेवर एयरपोर्ट तक मेट्रो ट्रेन चलाने का प्लान है. नॉलेज पार्क से जेवर तक मेट्रो का रूट एलिवेटेड होगा. यह गौतम बुद्ध नगर का सबसे लम्बा रूट होगा. नोएडा और ग्रेटर नोएडा मेट्रो रूट की लम्बाई 29.7 किमी है.

    Noida अथॉरिटी 28 अक्टूबर से दे रही Online 122 प्रॉपर्टी खरीदने का मौका

    दोनों फेज की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार कराने के लिए अथॉरिटी ने यह जिम्मेदारी डीएमआरसी को सौंपी है. इसके साथ ही डीएमआरसी आईजीआई एयरपोर्ट से नॉलेज पार्क तक की फिजिबिलिटी रिपोर्ट भी तैयार करेगी. अथॉरिटी इसके लिए करीब 6 करोड़ रुपये का भुगतान डीएमआरसी को करेगी.

    आईजीआई एयरपोर्ट से ग्रेटर नोएडा तक बन सकता है मेट्रो रेल कॉरिडोर

    सूत्रों की मानें तो मेट्रो ट्रेन चलाने का जो प्लान है, उसके मुताबिक ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क से शिवाजी पार्क स्टेडियम तक मेट्रो रेल कॉरिडोर बनाया जा सकता है. इसी हिस्से की डीपीआर बनाने पर चर्चा हुई है. जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट से शिवाजी पार्क स्टेडियम को सुपर फॉस्ट मेट्रो रेल कॉरिडोर से जोड़ने के पीछे एक बड़ी वजह है. शिवाजी पार्क स्टेडियम मेट्रो स्टेशन पहले ही आईजीआई एयरपोर्ट के लिए बनाए गए डेडीकेटेड मेट्रो कॉरिडोर का स्टेशन है. वहां से ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क-2 तक आने वाली यह लाइन जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को दिल्ली एयरपोर्ट से जोड़ देगी.

    वहीं एक अन्य प्लान नॉलेज पार्क से नोएडा के बॉटनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन तक के लिए भी बनाया जा रहा है. मकसद है बॉटनिकल गार्डन के बाद शिवाजी पार्क या नई दिल्ली मेट्रो स्टेशन तक का रूट तैयार है. लेकिन दिक्कत यह है कि क्या इस पुराने रूट पर 120 किमी की रफ्तार से सुपर फॉस्ट मेट्रो ट्रेन दौड़ पाएगी.

    Tags: DMRC, IGI airport, Jewar airport, Noida news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर