Home /News /delhi-ncr /

गुरुग्राम में बिजली चोरी रोकने के लिए एक दर्जन टीमें गठित

गुरुग्राम में बिजली चोरी रोकने के लिए एक दर्जन टीमें गठित

सांकेतिक तस्‍वीर.

सांकेतिक तस्‍वीर.

महकमे ने बिजली चोरी पकड़ने के लिए आधा दर्जन टीमें बनाई थीं. इसके बाद गुरुग्राम में बिजली चोरी की शिकायतों में कमी आई और विभाग का लाइन लॉस भी घटकर साढ़े 11 फीसदी हो गया.

हरियाणा की साइबर सिटी गुरुग्राम में बिजली चोरी को रोकने के लिए और महकमे के नुकसान की भरपाई करने लिए बिजली चोरी रोकने वाली एक दर्जन से ज्यादा टीमों का गठन किया गया है. अधिकारियों को उम्‍मीद है कि इससे हर महीने हो रहे करोड़ों रुपए के नुकसान से विभाग को उबारा जा सकेगा.

बिजली विभाग गुरुग्राम के चीफ इंजीनियर संजीव चोपड़ा ने बताया कि गुरुग्राम में पूर्व में करीब 16.5 फीसदी बिजली चोरी हो रही थी. महकमे ने बिजली चोरी पकड़ने के लिए आधा दर्जन टीमें बनाई थीं. इसके बाद गुरुग्राम में बिजली चोरी की शिकायतों में कमी आई और विभाग का लाइन लॉस भी घटकर साढ़े 11 फीसदी हो गया. अब बिजली विभाग ने इस काम को और बड़ा करते हुए कुछ और टीमों का गठन किया है. साथ ही दावा किया है कि इस साल के आखिरी तक बिजली चोरी को साढ़े 7 फीसदी तक ले आया जाएगा.

आपको बता दें कि गुरुग्राम प्रदेशभर में सबसे ज्यादा बिजली रेवेन्यू देता है. यहां हर महीने बिजली बिल के 570 करोड़ रुपए वसूले जाते हैं. गुरुग्राम में 10 फीसदी से ज्यादा बिजली चोरी हो रही है. इससे इस बात का आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि विभाग को अब भी करोड़ों का चूना लगाया जा रहा है. हाल ही गुरुग्राम बिजली विभाग की टीम ने एक महीने में 3 करोड़ की बिजली चोरी पकड़ कर प्रदेशभर में रिकॉर्ड बनाया था. बहरहाल गुरुग्राम जैसे शहर में बिजली चोरी का ये हाल है तो प्रदेश के बाकी के जिलों का क्‍या हाल होगा, आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता हैं.

Tags: Electricity, Gurugram

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर