लाइव टीवी

दिल्ली हिंसा: 72 घंटे से बिना सोए शिव मंदिर की रखवाली करता रहा मुस्लिम युवक
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 28, 2020, 9:30 PM IST
दिल्ली हिंसा: 72 घंटे से बिना सोए शिव मंदिर की रखवाली करता रहा मुस्लिम युवक
72 घंटे से बिना सोए शिव मंदिर की रखवाली करता रहा शकील (सांकेतिक फोटो)

शकील ने न्यूज़ 18 इंडिया से बातचीत में बताया कि उपद्रवी तोड़फोड़ के इरादे से उनके क्षेत्र तिहारा में आए, तो वहां के कुछ लोग मस्जिद की तरफ बढ़ गये तो कुछ मंदिर की हिफाजत में लग गये. उन्होंने कहा, 'उपद्रवी पहले मस्जिद की ओर बढ़ रहे थे लेकिन हमने ना ही उन्हें मस्जिद की ओर जाने दिया और ना ही शिव मंदिर की ओर'

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2020, 9:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) के बीच कई ऐसे मौके भी आए जब हिंदू-मुस्लिम एकता देखने को मिली. जब उत्तर-पूर्वी दिल्ली हिंसा की आग में जल रही थी तब एक मुस्लिम युवक ने तिहारा के चमन पार्क स्थित शिव मंदिर (Shiv Mandir) को बचाया. इस शख्स का नाम शकील अहमद है. बीते 25 फरवरी को जब यहां हिंसा हो रही थी तो उन्होंने स्थानीय लोगों के साथ मिलकर शिव मंदिर की रक्षा की. और उपद्रवियों को इसके आस-पास भी नहीं आने दिया.

शकील ने न्यूज़ 18 इंडिया से बातचीत में बताया कि उपद्रवी तोड़फोड़ के इरादे से उनके क्षेत्र तिहारा में आए, तो वहां के कुछ लोग मस्जिद की तरफ बढ़ गये तो कुछ मंदिर की हिफाजत में लग गये. उन्होंने कहा, 'उपद्रवी पहले मस्जिद की ओर बढ़ रहे थे लेकिन हमने ना ही उन्हें मस्जिद की ओर जाने दिया और ना ही शिव मंदिर की ओर.'

'72 घंटों से नहीं सोए'
शकील ने आगे बताया कि इस घटना को 72 घंटे से भी ज्यादा हो गये हैं लेकिन हमारी आंख अभी भी नहीं लगी है. घटना वाले दिन उपद्रवी अपने साथ हथियार लेकर आए थे लेकिन हमें अपने मंदिर और मस्जिद दोनों को को बचाना जरूरी था.






मुस्लिम भाइयों ने कहा- आराम से सो जाइए
वहीं, शिव विहार निवासी राम सेवक ने कहा, 'मैं यहां पिछले 35 साल से रह रहा हूं. इस इलाके में सिर्फ एक या दो ही हिंदू परिवार रहते हैं, लेकिन हमे कभी किसी तरह की परेशानी नहीं हुई. हिंसा के समय मेरे मुस्लिम भाइयों ने मुझसे कहा कि अंकल जी, आप आराम से सो जाइए. आपको कोई नुकसान नहीं होगा.'

दिल्ली हिंसा में अभी तक 42 की मौत
बता दें कि राजधानी दिल्ली के उत्तर पूर्वी क्षेत्र में हुई हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 42 तक पहुंच गई है. हिंसा में 56 पुलिसकर्मियों समेत 250 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं. शीर्ष पुलिस सूत्रों ने बताया कि हालात फिलहाल शांतिपूर्ण और नियंत्रण बना हुए है. पुलिस का फ्लैग मार्च जारी रहेगा. पुलिस का ये भी कहना है कि वो इस हिंसा में बाहरी लोगों के शामिल होने के आरोपों की जांच कर रही है.

ये भी पढ़ें: Delhi Violence: हिंसा रोकने को एसएन श्रीवास्तव को CP का अतिरिक्त प्रभार, कहा- सभी मामलों पर होगी कार्रवाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2020, 3:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading