• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • COVID-19 Crisis के बीच वापस लौट रहे कामगारों पर आप सांसद ने थपथपाई दिल्ली सरकार की पीठ

COVID-19 Crisis के बीच वापस लौट रहे कामगारों पर आप सांसद ने थपथपाई दिल्ली सरकार की पीठ

एक बार फिर शहरों की तरफ लौट रहे प्रवासी मजदूर (फाइल तस्वीर)

एक बार फिर शहरों की तरफ लौट रहे प्रवासी मजदूर (फाइल तस्वीर)

आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) सांसद सुशील गुप्ता का दावा है कि दिल्ली फिर से कामगारों के लिए सबसे बेहतरीन राज्य बनती जा रही है.

  • Share this:
नई दिल्ली. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) के संक्रमण से बचाव के मद्देनजर हुए लॉकडाउन (Lockdown) के बाद मजदूरों के पलायन (Migration of workers)  की कवायद शुरू हो गई थी. दिल्ली से हजारों की संख्या में मजदूरों के पलायन का दृश्य अभी भी हमारे मस्तिष्क पर बना हुआ है. लेकिन जब से अनलॉक (Unlock) प्रक्रिया शुरू हुई है दिल्ली में मजदूरों का आगमन फिर से शुरू हो गया है. दिल्ली से आम आदमी पार्टी सांसद सुशील गुप्ता ने इस मसले पर दिल्ली सरकार की तारीफ़ करते हुए कहा कि उनका मानना है कि पांच मुख्य कारण है जिसके चलते मजदूर फिर से दिल्ली वापस आ रहे हैं. साथ ही उन्होंने यह भी दावा किया कि दिल्ली फिर से कामगारों के लिए सबसे बेहतरीन राज्य बनती जा रही है.

ये भी पढ़ें- दिल्ली में अब घर-घर पहुंचाया जाएगा राशन, सीएम केजरीवाल ने किया ऐलान

इन पांच कारणों से दिल्ली में फिर से मजदूर आ रहे हैं
1. दिल्ली में कोरोना को बेहतर तरीके से नियंत्रित किया. जुलाई के महीने में कोरोनावायरस संक्रमित लोगों की संख्या साढे़ पांच लाख पहुंचने तक के अनुमान के इतर संक्रमित लोगों की संख्या डेढ़ लाख से भी कम रही. इसके साथ ही साथ अब नए संक्रमित मामले से अधिक ठीक होने वालों की संख्या है.
2. कामगारों के रहने के लिए दिल्ली ज्यादा सुविधाजनक होने का दावा दिल्ली से आम आदमी पार्टी के सांसद कर रहे हैं. दिल्ली में 200 यूनिट फ्री है और 10000 लीटर तक पानी फ्री में मिलता है. महिलाओं के लिए दिल्ली में बसों को फ्री किया गया है.
3. वन राशन वन नेशन लागू होने के बाद किसी भी राज्य के लोग किसी अन्य राज्य में भी अपना राशन ले सकते हैं. इस कारण भी अब प्रवासी कामगारों को दिल्ली में कोई दिक्कत नहीं हो रही है.
4. दिल्ली में न्यूनतम मजदूरी का 15000 ₹ से अधिक है कई राज्यों से बेहतर है. विभिन्न राज्यों के लोगों को काम देने का प्रयास के बावजूद कामगारों को यह फिर से दिल्ली की ओर आकर्षित कर रहा है.
5. शिक्षा के क्षेत्र में इन दिनों दिल्ली काफी काम किया है. प्राथमिक शिक्षा के साथ-साथ माध्यमिक और उच्च शिक्षा को लेकर के दिल्ली सरकार ने कई योजनाएं शुरू की हैं जिसका परिणाम हालिया रिजल्ट में देखने को मिल रहा है. मजदूरों को यह भी आकर्षित कर रही है.

हालांकि इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता कि कोरोना संकट के इस समय में जब अर्थव्यवस्था रसातल में जा रही है. कामगारों के पास काम नहीं है. रोजी-रोटी का संकट है ऐसे में भुखमरी से बचने के लिए जान जोखिम में डाल कर काम पर वापस लौटना उनकी मजबूरी है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज