AAP ने लगाया नॉर्थ दिल्ली के मेयर पर जमीन कब्जा करने का आरोप, बोले- अवैध मकान बनाया

आम आदमी पार्टी के निगम प्रभारी दुर्गेश पाठक ने मेयर जय प्रकाश पर दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड (DUSIB) की जमीन कब्जाने का आरोप लगाया है.

आम आदमी पार्टी के निगम प्रभारी दुर्गेश पाठक ने मेयर जय प्रकाश पर दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड (DUSIB) की जमीन कब्जाने का आरोप लगाया है.

AAP के निगम प्रभारी दुर्गेश पाठक ने नार्थ दिल्ली के मेयर पर जमीन में कब्जा करने का गंभीर लगाया है. उन्होंने कहा कि उनका मकान अवैध है. पाठक ने बीजेपी, नगर निगम और दिल्ली पुलिस से मेयर के खिलाफ कार्रवाई करने और मेयर जयप्रकाश को हटाने की मांग की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2021, 3:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी ने नॉर्थ दिल्ली के मेयर जय प्रकाश पर जमीन कब्जा कर अवैध मकान बनाने का गंभीर आरोप लगाया है. आम आदमी पार्टी के निगम प्रभारी दुर्गेश पाठक ने मेयर जय प्रकाश पर दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड (DUSIB) की जमीन कब्जाने का आरोप लगाया है. दुर्गेश पाठक के मुताबिक, सदर बाजार विधानसभा के अंदर जयप्रकाश का 4 मंजिला मकान है और मकान में उनके बेटे के नाम पर बिजली का बिल आता है. मकान कब्जे की जमीन पर बना है. दुर्गेश पाठक ने बीजेपी, नगर निगम और दिल्ली पुलिस से मेयर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. साथ ही मेयर जयप्रकाश को हटाने के लिए कहा है.

दुर्गेश पाठक ने आरोप लगाया कि जमीन गरीब लोगों का घर बनाने के लिए दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड (DUSIB) की होती है. 18 जून 2019 में जब ये घर बनना शुरू हुआ तो लोकल बारा हिन्दू राव थाना ने निगम के डिप्टी कमिश्नर को जानकारी दी, उसके बाद दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड ने भी लेटर देकर बताया कि जमीन उनकी है. इस पर अवैध कब्जा किया जा रहा है.

1 जुलाई 2020 को जमीन खाली करवाने के लिए नोटिस भेजा गया. इसके बाद फिर दोबारा नोटिस भेजा गया, लेकिन नगर निगम ने कोई एक्शन नहीं लिया, क्योंकि जयप्रकाश नगर निगम के बॉस हैं. बुधवार को एक बार फिर दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड ने शो कॉज नोटिस भेजकर तीन दिन में जवाब मांगा है.

भाजपा कार्यालय के लिए दे दी गई स्कूल की जमीन: AAP विधायक
इसी प्रेस कॉन्फ्रेंस में AAP विधायक सौरभ भारद्वाज ने दिल्ली विकास प्राधिकारण (DDA) और केंद्र सरकार पर दिल्ली के महंगे इलाके दीन दयाल उपाध्याय मार्ग पर दो करोड़ रुपए में दो एकड़ जमीन भाजपा कार्यालय बनाने के लिए आवंटित कर दी गई. आप पार्टी के विधायक ने आरोप लगाया कि जिस जमीन को भाजपा कार्यलय बनाने के लिए दे दिया गया, वह बच्चों का स्कूल बनाने के लिए आवंटित थी. लेकिन उसका आवंटन भाजपा को दिल्ली के उप राज्यपाल LG और DDA ने मिलकर कर दिया.

विधायक सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया कि क्या भाजपा इतनी गरीब पार्टी है जिसे 2 करोड़ के अंदर 10,000 गज ज़मीन दी गई? क्या ये सच नहीं कि ये जमीन बच्चों का स्कूल बनाने के लिए थी? जिस पार्टी की दिल्ली विधानसभा में 62 सीट आई हैं, उसे देने को सरकार के पास जमीन नहीं है. लेकिन 8 सीटों वाली पार्टी को 10,000 गज ज़मीन दे दी गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज