AAP के नेता संजय सिंह ने ट्वीट किया 'केंद्र में एक अजब अहंकार ग्रस्त सरकार चल रही है'
Delhi-Ncr News in Hindi

AAP के नेता संजय सिंह ने ट्वीट किया 'केंद्र में एक अजब अहंकार ग्रस्त सरकार चल रही है'
संजय सिंह ने कहा कि केंद्र को तय करना है कि सबको साथ लेकर चलना है कि नहीं. (फाइल फोटो)

AAP के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय सिंह (Sanjay Singh) ने एक ट्वीट कर केंद्र सरकार को अंहकारी सरकार बताया है. उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी एक महत्वपूर्ण पार्टी है. दिल्ली में इसकी सरकार है. लेकिन किसी महत्वपूर्ण विष पर भाजपा को आप की राय नहीं चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 18, 2020, 11:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. एक तरफ तो गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) कोविड के लगातार बढ़ रहे मामले पर लगातार मंथन कर रहे हैं. गुरुवार को भी केजरीवाल ने ट्वीट कर जानकारी दी कि गृह मंत्री अमित शाह से एनसीआर (NCR) को कोविड-19 (COVID-19) के संक्रमण से बचाने के मुद्दे पर बातचीत हुई. दिल्ली (Delhi), गुरुग्राम (Gurugram), फरीदाबाद (Faridabad) और नोएडा (Noida) सभी एक ही हैं. लेकिन इसी बीच AAP के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय सिंह (Sanjay Singh) ने एक ट्वीट कर केंद्र सरकार को अंहकारी सरकार बताया है. उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी एक महत्वपूर्ण पार्टी है. दिल्ली में इसकी सरकार है. पंजाब में मुख्य विपक्षी पार्टी है. चार सांसद हैं. देश भर में पार्टी का संगठन है. लेकिन किसी महत्वपूर्ण विष पर भाजपा को आप की राय नहीं चाहिए.


उन्होंने ट्वीट किया 'केन्द्र में एक अजीब अहंकार ग्रस्त सरकार चल रही है आम आदमी पार्टी की दिल्ली में सरकार है पंजाब में मुख्य विपक्षी पार्टी है 4 सांसद हैं देश भर में संगठन लेकिन किसी महत्वपूर्ण विषय पर भाजपा को AAP की राय नही चाहिये कल की बैठक में प्रधानमंत्री जी क्या बोलेंगे पूरे देश को इंतज़ार है?'
बताते चलें कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए गृह मंत्री अमित शाल हाल के दिनों में दिल्ली और एनसीआर को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल और अन्य लोगों से लगातार मंथन कर रहे हैं. अमित शाह ने गुरुवार को दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र के अफसरों के साथ बैठक की. गृह मंत्री ने अधिकारियों को कहा कि दिल्ली की तरह NCR के सभी जिलों में भी कोरोना टेस्ट (Coronavirus Test ) रेट कम कर दिए जाएं. उन्होंने 2400 रुपये में कोरोना टेस्ट करने के आदेश दिए.

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, 'अगर कोरोना टेस्ट की कीमत यूपी और हरियाणा में अधिक लगे तो वह आंतरिक परामर्श के बाद अपनी कीमतें कम करने का फैसला ले सकते हैं.' अमित शाह ने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ सभी को एकजुट होकर आम रणनीति के तहत काम करने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि जो कोई भी टेस्ट कराना चाहते हैं, उनका टेस्ट करें.



केंद्र सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि बैठक में दिल्ली एवं एनसीआर जिलों में लोगों के आवागमन पर भी चर्चा की गई. गृह मंत्री ने वायरस को फैलने से रोकने के लिए उठाए गए कदमों की समीक्षा की. अधिकारी के अनुसार, 'गृह मंत्री ने अधिकारियों से पूरे NCR को एक क्षेत्र के रूप में मानने के लिए कहा है.' उन्होंने कहा, 'नीति और प्रोटोकॉल के मामले में कोई अंतर नहीं होना चाहिए, यह सभी वरिष्ठ अधिकारियों से स्पष्ट कहा गया है.'

बैठक में केजरीवाल भी रहे मौजूद

इस बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, दिल्ली के पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव, दिल्ली-नोएडा-गाजियाबाद-गुड़गांव-फरीदाबाद समेत आसपास के अन्य जिलों के डीएम और डीसी, गृह एवं स्वास्थ्य मंत्रालय और आईसीएमआर के वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया. हरियाणा, उत्तर प्रदेश और दिल्ली के प्राधिकारियों ने लॉकडाउन के दौरान विभिन्न समय पर राज्यों में लोगों के आवागमन पर प्रतिबंध लागू किए हैं, जिसके कारण कई लोगों को दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है.

अमित शाह ने कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ सभी को एकजुट होकर आम रणनीति के तहत काम करने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि जो कोई भी टेस्ट कराना चाहते हैं, उनका टेस्ट करें. गृहमंत्री ने उत्तर प्रदेश और हरियाणा के अधिकारियों को कोरोना वायरस बेड, वेंटिलेटर, ऑक्सीजन सिलेंडर, आईसीयू और उनके साथ उपलब्ध एंबुलेंस जैसे संसाधनों को बढ़ाने की योजना के बारे में 15 जुलाई तक गृह मंत्रालय को जानकारी देने का निर्देश दिए हैं, ताकि एनसीआर में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में एक आम रणनीति तैयार की जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज