लाइव टीवी

दिल्ली हिंसा: खुद पर लगे आरोपों पर बोले ताहिर हुसैन- किसी भी तरह की जांच के लिए तैयार
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 28, 2020, 12:03 PM IST
दिल्ली हिंसा: खुद पर लगे आरोपों पर बोले ताहिर हुसैन- किसी भी तरह की जांच के लिए तैयार
आम आदमी पार्टी के नेता ताहिर हुसैन ने दिल्ली हिंसा मामले में अपने ऊपर लगे आरोपों से इनकार किया है

News 18 India के साथ बातचीत में आम आदमी पार्टी के पार्षद और IB ऑफिसर अंकित शर्मा मर्डर मामले में आरोपी ताहिर हुसैन ने सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो को गलत करार दिया. ताहिर हुसैन ने कहा कि वह दिल्ली पुलिस की जांच में सहयोग करने के लिए तैयार हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2020, 12:03 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) और IB अफसर अंकित शर्मा मर्डर मामले में आरोपी आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) खुद को निर्दोष बताया है. न्यूज़ 18 के साथ बातचीत में AAP पार्षद ताहिर हुसैन ने इस पर सफाई देते हुए कहा कि वीडियो (Video) को गलत रूप में पेश किया गया है. उन्होंने अंकित शर्मा हत्याकांड में लगे अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज किया. ताहिर ने कहा कि अंकित शर्मा की मौत से मैं भी आहत हूं और मामले की जांच के लिए पुलिस को मेरा किसी भी तरह का सहयोग चाहिए, तो मैं उसके लिए तैयार हूं.

'मुझे डर लग रहा था'
न्यूज18 इंडिया के साथ बातचीत में ताहिर हुसैन ने कहा, 'सोशल मीडिया पर जो वीडियो डाला गया है उसमें मैंने सिर्फ उन लोगों के लिए डंडा उठाया था, जो मेरे घर की छत पर चढ़ने की कोशिश कर रहे थे. मुझे सबसे बड़ा डर था कि कोई मेरे परिवार को कुछ ना कर दे. पीछे हिंदू समाज के भी लोग रहते हैं तो मैं उनके लिए भी चिंतित था. आप वीडियो में देख सकते हैं कि कुछ लोग नीचे की ओर जा रहे हैं, उन्हें मैंने ही भगाया. उन्हीं को भगाने के लिए मैंने डंडा उठाया था.'



'साढ़े सात बजे आई पुलिस'
ताहिर हुसैन ने कहा, '24 फरवरी को मैंने 6 बार 100 नंबर पर कॉल की थी. इसी बीच जब किसी तरह की कार्रवाई नहीं हुई तो मैंने मजबूर होकर साढ़े चार बजे आप सांसद संजय सिंह को फोन किया और पूरी जानकारी दी. उन्होंने डीसीपी को फोन किया और मुझे भी उनका नंबर दिया. लेकिन उस नंबर पर उनसे बात नहीं हो पाई. लेकिन बाद में संजय सिंह ने कॉन्फ्रेंस पर मुझसे डीसीपी की बात करवाई. उसके बाद साढ़े सात बजे पुलिस मेरे आवास पर आई. फिर जब मैं आठ बजे नीचे आया तो लोग वहां काफी शोर मचा रहे थे.'

'पुलिस ने मुझे जाने के लिए कहा'
ताहिर ने कहा, 'जब 25 को मैं सुबह साढ़े आठ बजे बाहर आया तो बाहर खड़े लोग मुझे देखकर हूटिंग और नारेबाजी करने लगे, जिसे देखकर मैं घबरा गया. फिर पुलिस के जवानों ने मुझे वहां से जाने के लिए कह दिया था. उसके बाद मुझे नहीं पता कि आगे क्या हुआ.'

'अंकित की मौत से दुखी हूं'
आईबी के अधिकारी अंकित शर्मा की हत्‍या को लेकर ताहिर ने कहा, 'अंकित की मौत से मैं भी दुखी हूं. लेकिन मेरा इससे कोई लेना-देना नहीं है. दिल्ली की पुलिस को जांच के लिए मेरा जो भी सहयोग चाहिए होगा, मैं उसके लिए तैयार हूं. फिलहाल उसका परिवार दुख की घड़ी में है. मैं चाहता हूं कि अंकित और उसके परिवार को न्याय मिले.'



AAP ने किया निलंबित
आपको बता दें कि दिल्ली पुलिस द्वारा ताहिर हुसैन के खिलाफ लिए गए एक्शन के बाद आम आदमी पार्टी ने आरोपी पार्षद को पार्टी से निलंबित कर दिया है. इधर, गुरुवार को दिल्ली पुलिस ने ताहिर हुसैन के चांदबाग में स्थित घर और खजूरी खास स्थित फैक्ट्री को सील कर दिया है. इसके अलावा ताहिर के खिलाफ दयालपुर पुलिस स्टेशन में धारा 302 के तहत हत्या का मामला भी दर्ज किया गया है. आपको बता दें कि ताहिर पर आईबी (Intelligence Bureau) के अधिकारी अंकित शर्मा की हत्‍या का आरोप है. जानकारी के मुताबिक अंकित की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया है कि हमले के दौरान उन पर कई बार चाकुओं से वार किया गया है.

ये भी पढ़ें: अंकित शर्मा की हत्या पर बोले मनोज तिवारी- ताहिर के आका को भी मिले कड़ी सजा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2020, 11:24 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर