• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • COVID-19: लॉकडाउन में सहारा बना AAP विधायक का वोट मांगने वाला नंबर, बाप को बेटे से मिलाया और...

COVID-19: लॉकडाउन में सहारा बना AAP विधायक का वोट मांगने वाला नंबर, बाप को बेटे से मिलाया और...

विधायक राघव चड्ढा का हेल्पलाइन नंबर लॉकडाउन में लोगों के काम आ रहा है_

विधायक राघव चड्ढा का हेल्पलाइन नंबर लॉकडाउन में लोगों के काम आ रहा है_

दिल्‍ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के राजेन्द्र नगर से विधायक राघव चड्ढा (MLA Raghav Chadha) से जुड़ने के लिये शुरू किया गया हेल्पलाइन नंबर 9910944444 बहुत जल्द लॉकडाउन के दौरान इलाके के निवासियों के लिये जीवन रेखा बन गया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली के राजेन्द्र नगर विधानसभा क्षेत्र में एक हेल्पलाइन नंबर लोगों की कोरोना वायरस (Corona Virus) से संबंधित दिक्कतों को दूर करने में बहुत काम आ रहा है. इसके जरिये एक पिता को अपने बेटे को वापस पाने और एक गर्भवती महिला को चिकित्सा सहायता हासिल करने में मदद मिली है. दरअसल, आम आदमी पार्टी के राजेन्द्र नगर से विधायक राघव चड्ढा (MLA Raghav Chadha) से जुड़ने के लिये शुरू किया गया हेल्पलाइन नंबर 9910944444 बहुत जल्द लॉकडाउन के दौरान इलाके के निवासियों के लिये जीवन रेखा बन गया.

    विधायक राघव चड्ढा ने कही ये बात
    विधायक राघव चड्ढा ने कहा, 'हमारे शिकायत प्रकोष्ठ में हर टीम चौबीसों घंटे, सातों दिन काम करती है. हर जरूरी कॉल का जवाब दिया जाता है. समर्पित पेशेवरों की एक और टीम सोशल मीडिया पर जुटी रहती है, जरूरी सवालों का जवाब देती है और जरूरतों को पूरा करने में लगीं टीमों का सहयोग करती है.' उन्होंने कहा, 'हम समय पर दिक्कतों क‍ा हल सुनिश्चित कर रहे हैं. आरंभ में, शिकायत प्रकोष्ठ के पास रोजाना 25 से 70 कॉल आती थीं, लेकिन लॉकडाउन के दौरान हर रोज 70 से 600 कॉल आती हैं.'

    हेल्पलाइन टीम ने दी ये जानकारी
    हेल्पलाइन टीम ने बीते कुछ दिनों में निपटाए गए मामलों की जानकारी दी. ऐसे ही एक मामले में एक व्यक्ति अपने बच्चे के साथ ट्रक में सवार होकर दिल्ली लौट रहा था, लेकिन उसे सीमा पर रोक दिया गया. पुलिस ने उसके बच्चे को ले जाकर बाल आश्रय गृह में छोड़ दिया. उसने इस नंबर पर मदद मांगी. हेल्पलाइन टीम ने मजिस्ट्रेट कार्यालय से संपर्क कर बच्चे का पता लगाया और उस व्यक्ति को एक आपातकालीन पास जारी किया गया, जिसके जरिये वह नागरिक देखभाल गृह जाकर अपने बच्चे को ले आया.
    एक और मामले में, रेड जोन इलाके में रह रही गर्भवती महिला को तेज बुखार आने के कारण तत्काल चिकित्सा सहायता की जरूरत थी. उसने हेल्पलाइन नंबर पर फोन किया, जिसके बाद उसे लेने के लिये तुरंत एक एंबुलेंस भेजी गई. वहीं, नारायणा गांव के एक व्यक्ति की हाल ही में एम्स में सर्जरी हुई थी, वह अपनी दवाएं लेने के लिए बाहर नहीं जा पा रहा था. उसने हेल्पलाइन टीम से संपर्क किया और व्हाट्सएप के जरिए अपना पर्चा भेजा. एक स्वयंसेवक ने उसके घर पर दवाइयां पहुंचा दीं. इसके अलावा भी यह हेल्पलाइन नंबर कई तरह से लोगों के काम आ रहा है.

    आपको बता दें कि दिल्ली सरकार के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार तक 4,898 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं.

    (इनपुट;भाषा)

    ये भी पढ़ें

    पेट्रोल-डीजल और शराब के दाम बढ़ने पर बोले मनीष सिसोदिया- कठिन समय में...

    केजरीवाल सरकार ने शराब के बाद अब पेट्रोल-डीजल पर बढ़ाया टैक्‍स, जानें नया रेट

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज