AAP ने पूछा सवाल-BJP राज्यों में ड्रिंकिंग एज 21 साल तो दिल्ली में परेशानी क्यों?

नई एक्साइज पॉलिसी लागू करने को लेकर आम आदमी पार्टी पर विपक्ष लगातार हमलावर है.

नई एक्साइज पॉलिसी लागू करने को लेकर आम आदमी पार्टी पर विपक्ष लगातार हमलावर है.

नई एक्साइज पॉलिसी (New Excise Policy) लागू करने को लेकर आम आदमी पार्टी पर विपक्ष लगातार हमलावर है. इसको लेकर अब 'आप' भी पूरी तरीके से डिफेंसिव मोड में आ गई है. AAP की वरिष्ठ नेता और विधायक आतिशी ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा है कि भाजपा शासित कई राज्यों में लीगल ड्रिंकिंग एज 18 साल निर्धारित की हुई है. वहीं कई राज्यों में यह 21 साल है.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली सरकार (Delhi Government) की ओर से हाल ही में नई एक्साइज पॉलिसी (New Excise Policy) लागू करने को लेकर आम आदमी पार्टी पर विपक्ष लगातार हमलावर है. इसको लेकर अब आम आदमी पार्टी (Aam Adami Party) भी पूरी तरीके से डिफेंसिव मोड में आ गई है.

आम आदमी पार्टी और दिल्ली सरकार विपक्ष पर शराब माफियाओं को संरक्षण देने के गंभीर आरोप लगाती आ रही है. वहीं अब उसने विपक्ष खासकर भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा है कि केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) जब से शराब माफियाओं को दिल्ली में खत्म करने के लिए नई एक्साइज पॉलिसी लेकर आई है तब से भाजपा काफी परेशान है. वह हर रोज इसको लेकर विरोध भी कर रहे हैं.

आम आदमी पार्टी (AAP) की वरिष्ठ नेता और विधायक आतिशी (Atishi) ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा है कि भाजपा शासित कई राज्यों में लीगल ड्रिंकिंग एज 18 साल निर्धारित की हुई है. वहीं कई राज्यों में यह 21 साल है.

भाजपा शासित राज्यों की बात करें तो गोवा, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक आदि में तो ड्रिंकिंग एज 18 साल निर्धारित है. लेकिन भाजपा आम आदमी पार्टी सरकार की ओर से ड्रिंकिंग एज को 21 साल करने के बाद से बवाल मचाए हुए हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा इसलिए विरोध कर रही है कि जब 21 साल की आयु के लोग पब और बार रेस्टोरेंट में आते हैं तो हफ्ता वसूली की जाती है. अगर दिल्ली सरकार ड्रिंकिंग एज को 21 साल कर देती है तो भाजपा की यह हफ्ता वसूली और उससे होने वाली काली कमाई खत्म हो जाएगी.
आम आदमी पार्टी की नेता आतिशी ने यह भी गंभीर आरोप लगाए कि अभी तक दिल्ली में बहुत-सी ऐसी जगह है जहां पर दिल्ली में कई इलाके ऐसे हैं, जहां पर सरकारी शराब की दुकान नहीं हैं. इसकी वजह से वहां गैर-कानूनी शराब का गोरखधंधा खूब तेजी से होता है.

उन्होंने आरोप लगाया कि इन शराब माफियाओं से भाजपा की जेब में भारी भरकम काली कमाई जाती है. उन्होंने कहा कि यही दो वजह हैं जिनकी वजह से भाजपा नई एक्साइज पॉलिसी को लेकर लगातार परेशान हो रही है.

बताते चलें कि भाजपा (BJP) की ओर से कल राजघाट पर भी नई एक्साइज पॉलिसी विशेषकर ड्रिंकिंग एज को 21 साल किए जाने को लेकर विरोध प्रदर्शन किया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज