Home /News /delhi-ncr /

MCD Election 2022: Aam Aadmi Party का दावा-मई में एमसीडी में बनेगी आप की सरकार, माफ होगा सभी बढ़ा हुआ Property Tax

MCD Election 2022: Aam Aadmi Party का दावा-मई में एमसीडी में बनेगी आप की सरकार, माफ होगा सभी बढ़ा हुआ Property Tax

आम आदमी पार्टी ने जनता से अपील की है कि वह बढ़े हुए टैक्स ना दे, पांच माह बाद आप सरकार बनने पर आम जनता को राहत देगी.

आम आदमी पार्टी ने जनता से अपील की है कि वह बढ़े हुए टैक्स ना दे, पांच माह बाद आप सरकार बनने पर आम जनता को राहत देगी.

MCD Election 2022: आम आदमी पार्टी के एमसीडी प्रभारी और वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि किसी भी सरकार का बजट जनता की चिंताओं-समस्याओं के समाधान और आशा का दस्तावेज होता है. लेक‍िन भाजपा एमसीडी टैक्‍स के बोझ तले जनता का दबाने में जुटी है. दिल्ली में घरों पर जो हाउस टैक्स और व्यावसायिक संपत्ति पर कमर्शियल टैक्स लगता है, उसे बढ़ा दिया गया है. जहां भाजपा अपने मेनिफेस्टो में प्रस्ताव लेकर आई थी कि संपत्ति कर को जीरो कर देंगे, इसके उलट संपत्ति कर को 12 से 14 फीसदी तक बढ़ा दिया गया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भाजपा की एमसीडी (MCD) ने बजट में घरों और व्यावसायिक संपत्ति पर लगने वाले टैक्स को 14 फीसदी तक बढ़ा दिया है. आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने सिर्फ दिल्ली की जनता को कैसे लूटा जाए, इसका बजट‌ पेश किया है.

    दिल्ली में घरों पर हाउस टैक्स (House Tax) 12 से 14 फीसदी तक बढ़ा दिया गया है. व्यावसायिक संपत्ति के ऊपर टैक्स बढ़ाकर 20 फीसदी कर दिया गया है. संपत्ति खरीदने पर सीनियर सिटीजन, दिव्यांगों और महिलाओं को टैक्स में मिलने वाली छूट को 30 फीसदी से कम करके 20 फीसदी किया गया. दिल्ली की जनता से अपील हैं कि यह बढ़े हुए टैक्स मत देना. पांच माह बाद आम आदमी पार्टी सरकार (AAP Government) बनने पर आम जनता को राहत देंगे.

    ये भी पढ़ें: Delhi : द‍िल्‍लीवालों की जेब पर पड़ेगी मार, सभी कैटेगरी के प्रॉपर्टी टैक्‍स में होगी भारी बढ़ोत्‍तरी 

    आम आदमी पार्टी के एमसीडी प्रभारी और वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि किसी भी सरकार का बजट जनता की चिंताओं-समस्याओं के समाधान और आशा का दस्तावेज होता है. हर साल सरकारें अधिकारियों के साथ मिलकर बजट लेकर आती हैं. उसमें एक सपना होता है कि वह किस तरह का राज्य बनाना चाहती हैं और जनता को सहूलियत देना चाहती हैं. भाजपा की एमसीडी ने अपना आज बजट प्रस्ताव पेश किया है. इस बजट के हर तरफ गड़बड़ी है.

    दिल्ली में घरों पर जो हाउस टैक्स और व्यावसायिक संपत्ति पर कमर्शियल टैक्स लगता है, उसे बढ़ा दिया गया है. ए और ई श्रेणी के घरों पर संपत्ति कर 14 फीसदी अधिक लगेगा. इसके अलावा एफ और एच श्रेणी की संपत्ति पर हाउस टैक्स 12 फीसदी अधिक लगेगा. इस तरह संपत्ति कर 12 और 14 फीसदी बढ़ा दिया गया है. जहां भाजपा अपने मेनिफेस्टो में प्रस्ताव लेकर आई थी कि संपत्ति कर को जीरो कर देंगे, इसके उलट संपत्ति कर को 12 से 14 फीसदी तक बढ़ा दिया गया है.

    कोरोना के बाद ब‍िगड़ गईं पूरी तरह से आर्थिक गत‍िव‍िध‍ियां
    उन्होंने कहा कि दिल्ली के अंदर कोरोना के बाद आर्थिक गतिविधि किस तरह से बेहतर हो सकती हैं, इसके ऊपर बजट के अंदर एक विजन आना था. सभी व्यापारी इस बजट को ध्यान से देख रहे थे. बजट में कोई सहूलियत तो दी नहीं गई, इसके उलट अब जितने भी रेस्टोरेंट मालिक, व्यावसायिक कार्यालय, होटल मालिक हैं, उनको 20 फीसदी टैक्स देना पड़ेगा.

    ग्रामीण क्षेत्र ‌में लाल डोरा के अंदर भी लगाया प्रॉपर्टी टैक्‍स
    पाठक ने कहा कि दिल्ली के अंदर ग्रामीण क्षेत्र ‌में जो लाल डोरा के अंदर आते थे, वहां पर आज तक कभी भी हाउस टैक्स नहीं लगता था. इस बजट के बाद उनको भी हाउस टैक्स देना पड़ेगा. ग्रुप हाउसिंग सोसायटी, डीडीए के अंदर जो जमीन-घर लेते थे, उनको पहले 20 फीसदी की छूट मिलती थी. उसको अब कम करके 10 फीसदी कर दिया गया है.

    आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता नहीं होने देंगे क‍िसी प्रॉपर्टी की सील‍िंग
    उन्होंने कहा कि एमसीडी का अप्रैल में चुनाव होगा और मई में आम आदमी पार्टी की सरकार बनेगी. ऐसे में लगभग 5 से 6 महीने बचे हैं. दिल्ली की जनता से अपील करते हैं कि आप यह बढ़े हुए टैक्स मत देना. अगर घर या व्यावसायिक संपत्ति को सील करने का कोई आए तो हमें बताइएगा. आम आदमी पार्टी के लोग आएंगे और आपकी संपत्ति को सील नहीं होने देंगे. जब आम आदमी पार्टी की सरकार आएगी, तब बढ़े हुए टैक्स से आम जनता को राहत देगी.

    Tags: AAP Government, Delhi MCD, Delhi MCD Elections, Delhi news, MCD, Property tax

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर