एशिया का सबसे बड़ा एयर शो Aero India 2021 आज से, घर बैठे हो सकते हैं शामिल

Aero India 2021: 5 फरवरी तक चलने वाला शो पहली बार हाईब्रिड मॉडल पर आधारित है.  (फाइल फोटो)

Aero India 2021: 5 फरवरी तक चलने वाला शो पहली बार हाईब्रिड मॉडल पर आधारित है. (फाइल फोटो)

Aero India 2021: 13वें एयरो इंडिया शो में देश-विदेश की 600 कंपनियां शामिल हो रही हैंं. इसमें 14 देशों की 78 कंपनियां शामिल होंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2021, 11:41 AM IST
  • Share this:

नई दिल्‍ली. एशिया (Asia) का सबसे बड़ा एयर शो (Air show) ‘एयरो इंडिया 2021’ (Aero India 2021) आज से बेंगलुरू में शुरू होने जा रहा है. इस एयर शो में लोग घर बैठे शामिल हो सकते हैं. कोरोना की वजह से पहली बार वर्चुअल एंट्री की व्‍यवस्‍था की गई है. यानी एयर शो के साथ-साथ वहां लगने वाली सारी एक्जिबिशन भी घर बैठे देख सकते हैं. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह सुबह 9.30 बजे एयरो इंडिया का उद्घाटन करेंगे. इसके बाद 10.15 बजे फ्लाइंग पास्‍ट होगा, जिसमें देश के स्‍वदेशी एयरक्राफ्ट और हेलीकॉप्‍टर भाग लेंगे.

नागरिक उड्डयन मंत्रालय (Ministry Of Civil Aviation) की संयुक्‍त सचिव ऊषा पाढे ने बताया कि 5 फरवरी तक चलने वाला शो पहली बार हाईब्रिड मॉडल पर आधारित है. इसमें लोगों को वर्चुअल एस्‍सेज की व्‍यवस्‍था की गई है. अभी तक लोग टीवी पर केवल एयर शो देख पाते थे, वहां लगी एक्जिबिशन केवल वही लोग देख पाते थे, जो वहां मौजूद रहते थे.

इस बार देश के किसी भी कोने में बैठा व्‍यक्ति देख सकता है. कोरोना की वजह से इस वर्ष एयरो इंडिया में आम लोगों का प्रवेश नहीं है. तीनों दिन बिजनेस डे हैं. इस वजह से पिछले वर्षों की तुलना में कम संख्‍या में लोग मौजूद रहेंगे. एयरो इंडिया में शामिल होने वाले लोगों को कोरोना की निगेटिव ‍रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य किया गया है.

संयुक्‍त सचिव ऊषा पाढे ने बताया कि इस दौरान नागरिक उड्यन मंत्रालय एक सेमीनार आयोजित करेगा, जिसका विषय द डायनमिज्‍म ऑफ सिविल एविएशन-मेकिंग इंडिया ए सिविल एविएशन हब (The dynamism of civil aviation –  Making India a civil aviation hub) है. इसमें एयर लाइंस, एयरपोर्ट, ड्रोन्‍स, आर एंड डी और मैन्‍युफैक्‍चरिंग जैसे विषय शामिल होंगे.
13वें  एयरो इंडिया शो में देश-विदेश की 600 कंपनियां शामिल हो रही हैंं. इसमें 14 देशों की 78 कंपनियां शामिल होंगी. इस वर्ष 203 कंपनियां वर्चुअल रूप में अपने हथियारों और दूसरे सैन्‍य सामान प्रदर्शित करेंगी. वर्चुअल होने की वजह से इसे हाईब्रिड मोड एक्जिबिशन नाम दिया गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज