• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • पंजाब इकाई का विवाद सुलझा कर कांग्रेस चली राजस्थान मंत्रिमंडल का विस्तार करने

पंजाब इकाई का विवाद सुलझा कर कांग्रेस चली राजस्थान मंत्रिमंडल का विस्तार करने

उम्मीद की जा रही है कि विस्तार को लेकर दोनों गुटों में सहमति बनते ही मंत्रिमंडल का विस्तार हो जाएगा.

उम्मीद की जा रही है कि विस्तार को लेकर दोनों गुटों में सहमति बनते ही मंत्रिमंडल का विस्तार हो जाएगा.

Rajasthan Cabinet Expansion : राजस्थान में एक-दो दिन के भीतर मंत्रिमंडल विस्तार की संभावना दिख रही है. राज्य के प्रभारी अजय माकन और संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल जयपुर के लिए रवाना हो रहे हैं. सड़क मार्ग से वे देर शाम जयपुर पहुच जाएंगे.

  • Share this:
दिल्ली. कांग्रेस की पंजाब इकाई का विवाद सुलझने के बाद अब राजस्थान कांग्रेस में हलचल तेज हो गई है. राज्य में अशोक गहलोत मंत्रिमंडल में विस्तार व फेरबदल होने हैं. इसके अलावा हजारों की संख्या में राजनीतिक नियुक्तियां की जानी हैं. राजनीतिक नियुक्तियों की मांग लगातार पार्टी के भीतर से उठती रही है. फिलहाल राजस्थान में एक-दो दिन के भीतर मंत्रिमंडल विस्तार की संभावना दिख रही है. राज्य के प्रभारी अजय माकन और संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल जयपुर के लिए रवाना हो रहे हैं. सड़क मार्ग से वे देर शाम जयपुर पहुच जाएंगे. यह जानकारी कांग्रेस के सूत्रों ने दी है.

फेजवाइज कुछ भी नहीं, सारे काम एकसाथ

बताया जा रहा है कि दिल्ली से जा रहे नेताओं को यह जिम्मेवारी सौंपी गई है कि राजस्थान में कई चीजें एक साथ करनी हैं. फेजवाइज काम नहीं किया जाएगा, सारे काम एकसाथ निबटाने हैं. बताया जा रहा है कि राजस्थान प्रभारी अजय माकन और संगठन महासचिव जयपुर पहुंचते ही मंत्रिमंडल विस्तार को अंतिम रूप देने में जुट जाएंगे. गहलोत और पायलट गुट में सहमति बन गई तो मंत्रिमंडल का विस्तार तुरंत किया जाएगा.

जिला अध्यक्षों की नियुक्ति पर भी होगी चर्चा

सूत्रों ने यह भी बताया कि राजस्थान में जिला अध्यक्षों की भी नियुक्ति पर चर्चा होगी. बोर्ड निगम के चेयरमैन भी तय किए जाएंगे. लेकिन इन सबसे पहले मंत्रिमंडल विस्तार की कवायद पूरी की जाएगी. प्रदेश में पहले यह चर्चा हो रही थी कि सारी कवायद को अंतिम रूप देने के लिए मुख्यमंत्री गहलोत दिल्ली आएंगे. लेकिन जयपुर में मुख्यमंत्री कार्यालय के सूत्रों ने शनिवार को कहा कि फिलहाल सीएम अशोक गहलोत का दिल्ली जाने का कोई कार्यक्रम नहीं है. कम से एक-दो दिन वह कहीं नहीं जा रहे. सूत्रों ने वेणुगोपाल की गहलोत से संभावित मुलाकात के बारे में कहा कि कांग्रेस के संगठन महासचिव का आधिकारिक कार्यक्रम हमें अभी नहीं मिला है. माना जा रहा है अजय माकन व वेणुगोपाल की गहलोत से मुलाकात के बाद राज्य में मंत्रिमंडल विस्तार की राह साफ हो सकती है.

9 मंत्री और बनाए जा सकते हैं

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि पंजाब के मसले के समाधान के बाद अब सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी और राहुल गांधी का पूरा फोकस राजस्थान को लेकर है. पार्टी आलाकमान ने अजय माकन से साफ कहा है कि राजस्थान के सियासी मसले का समाधान जुलाई में ही हो जाना चाहिए. आपको बता दें कि राजस्थान मंत्रिमंडल के मौजूदा हिसाब से गहलोत सरकार में 9 और मंत्री बनाए जा सकते हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज