विकास दुबे Encounter के बाद UP Police कितने हिस्ट्रीशीटर की कर रही है तलाश?
Lucknow News in Hindi

विकास दुबे Encounter के बाद UP Police कितने हिस्ट्रीशीटर की कर रही है तलाश?
यूपी पुलिस लगातार कह रही है कि विकास दुबे जैसे कई और हिस्ट्रीशीटर की प्रदेश में पहचान की जा रही है.

गाजियाबाद (Ghaziabad) के एसएसपी कलानिधि नैथानी (SSP Kalanidhi Naithani) कहते हैं, 'हिस्ट्रीशीटर (History-Sheeter) अपराधी की मृत्यु पर ही निगरानी खत्म की जाती है. मतलब एक बार हिस्ट्रीशीटर बन गए तो ताउम्र निगरानी होती है. यह मात्र एक अभिलेख ही नहीं, सामाजिक कलंक भी है.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 12, 2020, 11:16 PM IST
  • Share this:
गाजियाबाद. कानपुर (Kanpur) में 8 पुलिसवालों की हत्या का आरोपी हिस्ट्रीशीटर (History-Sheeter) विकास दुबे (Vikas Dubey) का एनकाउंटर (Encounter) हो चुका है. सिर्फ विकास दुबे ही नहीं उसके 6 साथियों को भी यूपी पुलिस (UP Police) ने ढेर कर दिया है. बचे हुए साथी अभी भी एनकाउंटर से बचने के लिए इधर-उधर भाग रहे हैं. विकास दुबे के ऊपर कई आपराधिक मामले चल रहे थे. कानपुर घटना के बाद यूपी पुलिस लगातार कह रही है कि विकास दुबे जैसे कई और हिस्ट्रीशीटर की प्रदेश में पहचान की जा रही है. यूपी पुलिस ने हत्या, लूट और डकैती करने वाले इन हिस्ट्रीशीटर्स के खिलाफ अब पूरी तरह से जंग शुरू कर दिया है. विकास दुबे की हत्या के बाद पूरे उत्तर प्रदेश में बदमाशों को हिस्ट्रीशीट में नाम लिखवाने की कवायद चल रही है.

अपराधियों के पुराने रिकॉर्ड्स को खंगाले जा रहे हैं
कानपुर जैसी घटना किसी दूसरे जिले में न हो इसके लिए यूपी पुलिस पूरे प्रदेश में अपराधियों पर कई तरह से नकेल कस रही है. गाजियाबाद में भी 300 से ज्यादा अपराधियों की हिस्ट्रीशीट खोलने की तैयारी चल रही है. इसी तरह पूरे प्रदेश में लगभग 20 हजार हिस्ट्रीशीटर का रिकॉर्ड्स यूपी पुलिस खंगाल रही है. यूपी पुलिस का मकसद है कि अपराधियों पर मनोवैज्ञानिक दबाव बना कर उसको समाज से अलग-थलग कर दिया जाए. समाज उसके अपराधों को किसी तरह से सपोर्ट न करे.

History Sheeter, kanpur encounter, history-sheeter meaning, history sheeter meaning in hindi, Kalanidhi Naithani, ghaziabad,history-sheeter types, विकास दुबे, history sheet, vikas dubey encounter,vikas dubey,up police, ghaziabad police, yogi adityanath, cm yogi adityanath, जानिए क्या होता है हिस्ट्रीशीटर का मतलब, एनकाउंटर में मारा गया विकास दुबे, गाजियाबाद, एसएसपी कलानिधि नैथानी, हिस्ट्रीशीट, हिस्ट्रीशीटर मीनिंग, हिस्ट्रीशीटर, After Vikas Dubey Encounter how many history sheeters are targared UP Police stf nodrss
यूपी पुलिस पूरे प्रदेश में अपराधियों पर कई तरह से नकेल कसने लगी है.

गाजियाबाद के एसएसपी कलानिधि नैथानी कहते हैं, 'हिस्ट्रीशीट अपराधी की मृत्यु पर ही खत्म की जाती है. मतलब एक बार हिस्ट्रीशीटर बन गए तो ताउम्र निगरानी होती है. यह मात्र एक अभिलेख ही नहीं, सामाजिक कलंक भी है. हिस्ट्रीशीटर कहलाए जाने से बचने के लिए अपराधमुक्त साधारण जीवन व्यतीत करना एकमात्र विकल्प है.'



हिस्ट्रीशीटर का मतलब क्या होता है?
बता दें कि हिस्ट्रीशीटर का मतलब होता है कि आपराधिक गतिविधियों में संलिप्त व्‍यक्ति, जिसका पहले से भी कई आपराधिक रिकॉर्ड्स रहा हो. साथ ही वह शख्स लगातार अपराध करता रहा होता है. उसके अपराधों के रिकार्ड्स को एक जगह रखा जाता है. अमूमन किसी बड़े अपराधी का आपराधिक रिकॉर्ड्स जिले के एसपी और एसएसपी ऑफिस में मौजूद रहता है, जिसे हिस्ट्रीशीट कहते हैं.

History Sheeter, kanpur encounter, history-sheeter meaning, history sheeter meaning in hindi, Kalanidhi Naithani, ghaziabad,history-sheeter types, विकास दुबे, history sheet, vikas dubey encounter,vikas dubey,up police, ghaziabad police, yogi adityanath, cm yogi adityanath, जानिए क्या होता है हिस्ट्रीशीटर का मतलब, एनकाउंटर में मारा गया विकास दुबे, गाजियाबाद, एसएसपी कलानिधि नैथानी, हिस्ट्रीशीट, हिस्ट्रीशीटर मीनिंग, हिस्ट्रीशीटर, विकास दुबे जैसे अपराधियों की तलाश कर रही है यूपी पुलिस.Kanpur Encounter, Vikas Dubey, Inside Story, Notorious Gangster, Uttar Pradesh Crime, UP police, उत्तर प्रदेश में अपराध, क्राइम, विकास दुबे, इनसाइड स्टोरी, पुलिस जवानों की हत्या, गैंगस्टर, Rajsthan News
विकास दुबे जैसे अपराधियों की तलाश कर रही है यूपी पुलिस.


जिले या राज्य में जब कोई बड़ी घटना घटती है तो अपराधियों के पुराने रिकॉर्ड्स को खंगाला जाता है. हर थाना अपराधियों के पुराने रिकॉर्ड्स को जिले के एसपी, एसएसपी को भेजती है. एसपी और एसएसपी अपने विवेक के आधार पर और पुराने रिकॉर्ड्स को देखते हुए उस अपराधी का पुराना रिकॉर्ड्स खोल देते हैं. इसके लिए थाने में अपराधियों के पुराने इतिहास का विवरण लिख कर कोर्ट में पेश किया जाता है. साथ ही पुराने मामलों में कोर्ट के निर्णय को भी संलग्न किया जाता है. एक तरह से कोर्ट को बताया जाता है कि इस अपराधी पर दोबारा से अनुसंधान करने की जरूरत है.

ये भी पढ़ें: कार चोरी होने के 20 दिन बाद ट्रैफिक पुलिस ने तस्वीर के साथ भेजा तेज गति से वाहन चलाने का चालान

किसी अपराधी का अगर हिस्ट्रीशीट बनती है तो इसका मतलब यह है कि जबतक वह अपराधी जिंदा है उसका नाम हिस्ट्रीशीट में रहेगा. किसी बड़ी घटना के बाद उस अपराधी का हिस्ट्रीशीट खोला जाता है. हिस्ट्रीशीट खुलने के बाद पुलिस उस शख्स पर नजर रखती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading