लाइव टीवी

Corona पीड़ितों का इलाज कर रहे AIIMS डॉक्टरों की सुनवाई, गृह मंत्री ने दिए निर्देश
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: March 24, 2020, 8:43 PM IST
Corona पीड़ितों का इलाज कर रहे AIIMS डॉक्टरों की सुनवाई, गृह मंत्री ने दिए निर्देश
एम्स के डॉक्टरों ने इस मामले में गृह मंत्री शाह को एक चिट्ठी लिखी है. (फाइल फोटो)

कोरोना वायरस के संक्रमण की खबरों के बीच एक तरफ जहां पूरे देश में डॉक्टरों और सरकारी कर्मियों की सहायता करने की बात कही जा रही है. वहीं, दूसरी ओर दिल्ली के AIIMS के डॉक्टरों को सामाजिक भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2020, 8:43 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस के संक्रमण की खबरों के बीच एक तरफ जहां पूरे देश में डॉक्टरों और सरकारी कर्मियों की सहायता करने की बात कही जा रही है. पीएम नरेंद्र मोदी कोरोना से लड़ने वाले योद्धाओं का उत्साह बढ़ाने की अपील कर रहे हैं. वहीं, दूसरी ओर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में स्थित देश के सबसे प्रतिष्ठित अस्पताल AIIMS के डॉक्टरों को सामाजिक भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है. एम्स के रेजिडेंट डॉक्टरों ने इसको लेकर गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है. इसमें डॉक्टरों ने कहा है कि कोरोना पीड़ितों का इलाज करने को लेकर उनके साथ भेदभाव किया जा रहा है. वे जिन किराए के मकानों में रह रहे हैं, वहां के मकान मालिक घर खाली करने की धमकी दे रहे हैं.

इसकी जानकारी मिलने के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर से बात की. शाह ने पुलिस को इस इस मामले में दोषी मकान मालिकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए है.



डॉक्टर-नर्स ने लगाई गुहार
एम्स के रेजीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के महासचिव डॉ. श्रीनिवास राजकुमार की ओर से जारी गृह मंत्री को लिखे गए पत्र में डॉक्टरों ने कहा है कि COVID-19 केयर से जुड़े स्टाफ को इस तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. पत्र में कहा गया है कि डॉक्टर, नर्स और अस्पताल के अन्य कर्मचारी जिन घरों में रह रहे हैं, वहां के मकान मालिक संदेह जताते हुए उनसे सवाल कर रहे हैं. कोरोना वायरस के संक्रमण के डर से डॉक्टरों, नर्सों और अन्य स्टाफ को मकान खाली करने की धमकी दी जा रही है.

सड़क पर बितानी पड़ रही रात
गृह मंत्री को लिखे पत्र में डॉक्टरों ने कहा है कि मकान खाली करने की धमकी की वजह से कई डॉक्टर सड़क पर आ गए हैं, क्योंकि उनके पास रहने को घर नहीं है. अस्पताल की ड्यूटी खत्म करने के बाद इन डॉक्टरों को सड़कों पर ही रात बितानी पड़ रही है. पत्र में यह भी कहा गया है कि कई डॉक्टरों को उनके मकान मालिकों ने बताया कि उनकी (डॉक्टरों की) वजह से कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा है, इसलिए वे मकान खाली कर दें. वहीं इस मामले में डॉक्टरों ने गृह मंत्री से मांग की है कि वे कोई ऐसा आदेश जारी करें, जिससे हेल्थ सेक्टर के लोगों को राहत मिल सके.

Coronavirus in India, coronavirus, lockdown, AIIMS, AIIMS Resident Doctors write to Home Mininster Amit Shah, गृह मंत्री, एम्स, रेजीडेंट डॉक्टर, कोरोना वायरस, अमित शाह, दिल्ली न्यूज, अरविंद केजरीवाल, कोरोना अलर्ट, कोरोना अलर्ट दिल्ली, दिल्ली के लोगों से अपील

सीएम ने की ये अपील
इस मामले में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने हस्तक्षेप करने की बात कही है. सीएम ने अपने एक ट्वीट में कहा, 'ये डॉक्टर हमारी जान बचा रहे हैं, अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं. इनके मकान मालिक ऐसा ना करें. ये ग़लत है. भगवान ना करे, कल अगर मकान मालिकों के परिवारों में किसी को करोना हो गया तो ये डॉक्टर ही काम आएंगे.'

ये भी पढ़ें:

कोरोना वायरस से जंग: 'जनता कर्फ्यू' और लॉक डाउन से दिल्ली में प्रदूषण खत्म

दिल्ली के लोगों को मौसम ने दी राहत, तेज आंधी के साथ हुई हल्की बारिश

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2020, 6:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर