AIIMS स्टाफ की कोविड-19 से मौत, महामारी शुरू होने के बाद एक दिन भी नहीं ली छुट्टी
Delhi-Ncr News in Hindi

AIIMS स्टाफ की कोविड-19 से मौत, महामारी शुरू होने के बाद एक दिन भी नहीं ली छुट्टी
महाराष्‍ट्र में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले.

दिल्ली स्थित एम्स (AIIMS, DELHI) अस्पताल में तैनात हीरा लाल की मौत 25 मई को हो गई. वह कोविड-19 (Covid-19) से संक्रमित थे.

  • Share this:
नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली स्थित एम्स (AIIMS, DELHI) अस्पताल में सीनियर सैनिटेशन सुपरवाइजर (Senior sanitation supervisor) हीरा लाल की मौत 25 मई को हो गई. हीरा लाल के पिछले मंगलवार को कोविड-19 (Covid-19) से संक्रमित होने की बात सामने आई थी. वह कोरोना वायरस महामारी शुरू होने के बाद से एक दिन भी ड्यूटी से अनुपस्थित नहीं रहे. उनके सहकर्मी बताते हैं कि हीरा लाल हमेशा मुस्कुराने वाले शख्‍स थे. उनकी नौकरी कीटाणुशोधन स्टाफ (disinfection staff), सफाईकर्मी और वॉर्ड ब्वॉय के बीच थी. उन्हें सफाईकर्मियों और वार्ड ब्‍वॉय के लगातार संपर्क में रहना पड़ता था. हीरा लाल में बीते मंगलवार को शुरुआती बीमारी के लक्षण दिखे और एक सप्ताह के अंदर वे दुनिया से चल बसे. एम्स नई दिल्ली में एससी और एसटी एसोसिएशन के महासचिव कुलदीप सिंह ने कहा कि हीरा जब बीमार हुए तो संस्थान ने उनका केवल बल्ड टेस्ट किया.

कुलदीप सिंह ने बताया कि एम्स के डॉक्टरों ने उन्हें घर जाने और आराम करने की सलाह दी थी और यह कहा था कि लक्षण में बढ़ोतरी होने पर हॉस्पिटल वापस आएं. दो दिन पहले उनकी हालत अचानक बिगड़ गई और उन्हें इमरजेंसी में ले जाया गया जहां उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था. शायद तब तक बहुत देर हो चुकी थी. उनका COVID-19 परीक्षण किया गया था. उन्होंने यह भी कहा कि हीरा लाल, जिन्होंने एम्स में पूरे स्वच्छता के मोर्चे को सभाला. उनके पास सुरक्षा के उपकरण तक नहीं थे.

'सुरक्षा उपकरण उपलब्ध कराया जाए'
कुलदीप सिंह ने कहा कि जिन लोगों की भूमिका संक्रमण को कम करने में होती है, उन्हें सुरक्षा के उपकरण प्राथमिकता के साथ उपलब्ध कराना चाहिए. अस्पताल में सैकड़ों स्वच्छता कर्मचारी हैं जो लगातार काम पर और जोखिम में हैं.
हीरा लाल की मौत से उठ रहे हैं कई सवाल


ट्रिब्यून इंडिया डॉटकॉम के अनुसार, कोविड-19 महामारी शुरू होने के बाद से हीरा लाल खुद ड्यूटी पर मौजूद रहे. एम्स में वरिष्ठ डॉक्टरों ने उनके मुस्कुराते चेहरे और उत्साही भावना के लिए उन्हें याद किया. अब उसकी मौत हो गई है ले​किन इस भीड़भाड़ वाले अस्पतालों में लगातार खतरों से जूझते स्वच्छता कर्मचारियों की सुरक्षा के उपायों के बारे में कई सवाल छोड़ गया है. दो दिन पहले एम्स के पूर्व एचओडी (मेडिसिन) जेएन पांडे की भी कोरोना वायरस के संक्रमण से मृत्यु हो गई थी.

ये भी पढ़ें: दिल्ली के तुगलकाबाद इलाके में लगी भयंकर आग, चपेट में आईं 700 झुग्गियां

दिल्ली पुलिस 916 विदेशी तबलीगी ज़मातियों के खिलाफ दायर करेगी चार्जशीट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading