Home /News /delhi-ncr /

aim to increase delhi green cover by 32 percent 35 lakh saplings to be planted in capital nodssp

Green Delhi: दिल्ली का ग्रीन कवर 32 फीसदी तक बढ़ाने का लक्ष्य, जानें इसके लिए क्या है सरकार का प्लान?

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि सरकार शहर में 11 जुलाई से 15 दिनों का पौधरोपण अभियान ‘वन महोत्सव’ शुरू करेगी.

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि सरकार शहर में 11 जुलाई से 15 दिनों का पौधरोपण अभियान ‘वन महोत्सव’ शुरू करेगी.

Van Mahotsav in Delhi: दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि सरकार शहर में 11 जुलाई से 15 दिनों का पौधरोपण अभियान ‘वन महोत्सव’ शुरू करेगी. हमारी सरकार शहर की आबोहवा सुधारने के लिए लगातार प्रयास कर रही है. प्रदूषण का मुकाबला करने के लिए हमने जो कदम उठाए हैं, उसने पूरे देश के लिए उदाहरण पेश किया है.

अधिक पढ़ें ...

नयी दिल्ली. दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने शनिवार को कहा कि प्रदूषण का प्रभावी तरीके से मुकाबला करने के लिए दिल्ली सरकार का राष्ट्रीय राजधानी में 35 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है. राय ने कहा कि हम दिल्ली के हरित क्षेत्र को और बढ़ाने के लिए कई कदम उठा रहे हैं तथा हमारा लक्ष्य इस साल विभिन्न एजेंसियों के माध्यम से राष्ट्रीय राजधानी में 35 लाख पौधे लगाना है.

उन्होंने कहा कि सरकार शहर में 11 जुलाई से 15 दिनों का पौधरोपण अभियान ‘वन महोत्सव’ शुरू करेगी. राय ने कहा, ‘‘दिल्ली सरकार शहर की आबोहवा सुधारने के लिए लगातार प्रयास कर रही है. प्रदूषण का मुकाबला करने के लिए हमने जो कदम उठाए हैं, उसने पूरे देश के लिए उदाहरण पेश किया है.’’

ये भी पढ़ें… एलजी वीके सक्सेना ने क्यों कहा- कूड़े के गंदे पहाड़ न सिर्फ स्वास्थ्य के लिए खतरा, बल्कि राष्ट्रीय शर्म हैं?

पेड़ लगाने के लिए देंगे औषधीय पौधे
उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में 14 नर्सरियों के संपर्क नंबर लोगों को उपलब्ध कराए जाएंगे. राय ने यहां एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘दिल्ली ने अपना हरित क्षेत्र बढ़ाकर 32 प्रतिशत कर लिया है तथा हमारा लक्ष्य इसमें और वृद्धि लाना है.’’ इस कार्यक्रम में पर्यावरण मंत्री ने दिल्ली सरकार की पेड़ लगाने की पहल के तहत औषधीय पौधों का मुफ्त वितरण भी किया.

बता दें कि हर साल जाड़े के दिनों में दिल्ली गंभीर संकट से जूझता है, राजधानी की हवा खतरनाक स्तर तक जहरीली हो जाती है. इसे सुधारने के लिए तमाम उपाय सरकार द्वारा किये जा रहे हैं, लेकिन वह नाकाफी साबित हो रहे हैं.

उपराज्यपाल ने कहा- दिल्ली की लैंडफिल साइट स्वास्थ्य के लिए खतरा और राष्ट्रीय शर्म
दिल्ली के उपराज्यपाल (LG) ने राष्ट्रीय राजधानी के ‘लैंडफिल’ स्थलों को ‘स्वास्थ्य के लिए गंभीर खतरा’ और ‘राष्ट्रीय शर्म’ बताया है तथा लोगों से इससे निपटने के सुझाव देने का आग्रह किया है. एलजी ने ट्विटर पर एक पोस्टर साझा की है जिसकी टैगलाइन है, “ सालों से विरासत में मिली चुनौती! आइए इसे दूर करने के लिए एक साथ आएं.”

सक्सेना ने ट्वीट किया, “कूड़े के गंदे पहाड़ों ने दिल्ली को घेरा हुआ है. राजधानी के 50 मीटर से ज्यादा ऊंचे बदबूदार पहाड़ न सिर्फ स्वास्थ्य के लिए खतरा हैं, बल्कि राष्ट्रीय शर्म भी हैं. दिल्ली के 2.8 करोड़ मीट्रिक टन से ज्यादा कचरे से छुटकारा पाने के प्रयास में आपके सुझाव और भागीदारी मूल्यवान रहेगी.”

Tags: Delhi news, Delhi news update

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर