होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /

Air Pollution: आज फिर दिल्‍ली की सुबह बेहद खराब, चांदनी चौक सहित ये इलाके रेड जोन में शामिल

Air Pollution: आज फिर दिल्‍ली की सुबह बेहद खराब, चांदनी चौक सहित ये इलाके रेड जोन में शामिल

दिल्‍ली के कई इलाके आज सुबह फिर वायु प्रदूषण के रेड जोन में आ गए हैं.

दिल्‍ली के कई इलाके आज सुबह फिर वायु प्रदूषण के रेड जोन में आ गए हैं.

Air Pollution in Delhi: सेंट्रल पॉल्‍यूशन कंट्रोल बोर्ड के नेशनल एयर क्‍वालिटी इंडेक्‍स के मुताबिक शनिवार सुबह 11 बजे दिल्‍ली की हवा बेहद खराब स्थिति में पहुंच गई है. दिल्‍ली का आनंद विहार इलाका सुबह रेड जोन में है और यहां प्रमुख प्रदूषक तत्‍व पीएम 2.5 की मात्रा औसतन 327 पहुंच गई है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. राजधानी में वायु प्रदूषण (Air Pollution) घटने का नाम नहीं ले रहा. सर्दी बढ़ने के साथ ही प्रदूषण स्‍तर भी बढ़ता जा रहा है. दिल्‍ली के कई इलाके आज सुबह फिर रेड जोन में आ गए हैं. इनमें कुछ ऐसे इलाके भी हैं जहां बहुत अधिक भीड़भाड़ रहती है. दिल्‍ली ही नहीं बाहर के राज्‍यों से भी यहां लोगों का आना-जाना रहता है. ऐसे में इन लोगों को प्रदूषण की वजह से सांस लेने में दिक्‍कतों के साथ ही अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी समस्‍याओं का सामना करना पड़ सकता है.

    सेंट्रल पॉल्‍यूशन कंट्रोल बोर्ड (CPCB) के नेशनल एयर क्‍वालिटी इंडेक्‍स (NAQI) के मुताबिक शनिवार सुबह 11 बजे दिल्‍ली की हवा बेहद खराब स्थिति में पहुंच गई है. दिल्‍ली का आनंद विहार (Anand Vihar) इलाका सुबह रेड जोन में है और यहां प्रमुख प्रदूषक तत्‍व पीएम 2.5 की मात्रा औसतन 327 पहुंच गई है. जबकि पीएम 10 की मात्रा 317 है लेकिन कई बार यह इसकी मात्रा अधिकतम 454 तक भी पहुंच गई है. हालांकि आनंद विहार अकेला ऐसा इलाका नहीं है जहां की हवा खराब है बल्कि दिल्‍ली के सबसे ज्‍यादा भीड़भाड़ वाले इलाके चांदनी चौक (Chandani Chowk) का और बुरा हाल है.

    चांदनी चौक, बवाना, पंजाबी बाग और द्वारका में हाल बेहाल
    सीपीसीबी के मुताबिक चांदनी चौक में पीएम 2.5 की औसत मात्रा 343 दर्ज की गई है जो कि हवा की बेहद खराब स्थिति है. जबकि इसकी अधिकतम मात्रा 446 तक पहुंच गई है. जबकि जहांगीर पुरी में पीएम 2.5 औसतन 340, द्वारका सेक्‍टर -8 में 321, मेजर ध्‍यानचंद नेशनल स्‍टेडियम के आसपास 309, बवाना में 305, अशोक विहार में 303, मुंडका 336, पंजाबी बाग 320, ओखला फेज-2 में 304, पूसा रोड 311, पटपड़गंज 308, विवेक विहार में 307, वजीरपुर में 305, आरके पुरम में 307 पीएम 2.5 की औसतन मात्रा दर्ज की गई है.

    बेहद खराब वायु गुणवत्‍ता में ये होती हैं मुश्किलें
    वायु प्रदूषण की बेहद खराब स्थिति में पहुंचे दिल्‍ली के इन इलाकों में लोगों का रहना काफी मुश्किल हो जाता है. यहां तक कि घरों के भीतर भी लोग प्रदूषण की मार से नहीं बच पाते और इसी हवा को अंदर खींचते हैं. विशेषज्ञों का कहना है कि बहुत खराब स्थिति में पहुंची एयर क्‍वालिटी से सांस लेने में तकलीफ होने के साथ ही रेस्पिरेटरी संबंधी समस्‍याएं होती हैं. जबकि सांस और फेफड़े संबंधी बीमारियां झेल रहे मरीजों की बीमारी या लक्षण बढ़ जाते हैं. ऐसे में दिल्‍ली के ज्‍यादातर इलाकों के रेड जोन में पहुंचने से लोगों के स्‍वास्‍थ्‍य पर काफी असर पड़ रहा है.

    Tags: Air pollution, Air Pollution AQI Level, Air Pollution Red Zone, Delhi pollution

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर