अजय जड़ेजा गैंग का बदमाश गिरफ्तार, हवाला के जरिए मांगे थे 25 करोड़
Delhi-Ncr News in Hindi

अजय जड़ेजा गैंग का बदमाश गिरफ्तार, हवाला के जरिए मांगे थे 25 करोड़
पकड़ा गया अजय जड़ेजा गैंग का आरोपी जितेंद्र

दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने अजय जडेजा गैंग के कुख्‍यात बदमाश को गिरफ्तार किया है. यह वही बदमाश है जिसने अपहरण करने के बाद 25 करोड़ रुपये की फरौती हवाला के जरिए मांगी थी. तभी से पुलिस इसकी तलाश कर रही थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 11, 2017, 7:17 PM IST
  • Share this:
दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने अजय जडेजा गैंग के कुख्‍यात बदमाश को गिरफ्तार किया है. यह वही बदमाश है जिसने अपहरण करने के बाद 25 करोड़ रुपये की फरौती हवाला के जरिए मांगी थी. तभी से पुलिस इसकी तलाश कर रही थी.

अजय जड़ेजा उर्फ जगन यादव गैंग के गुर्गे जितेंद्र को दिल्‍ली के रोहिणी से गिरफ्तार किया गया है. इसके ऊपर 50 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया जा चुका था. इस गैंग पर कई अन्‍य मामले भी दर्ज थे. वहीं यूपी की पुलिस इस गैंग के सरगना को पकड़ने के लिए काफी कोशिश कर चुकी थी.

दिल्‍ली क्राइम ब्रांच के मुताबिक 12 जुलाई 2017 की शाम झांसी में 2 नामी ज्वैलर्स का अपहरण किया गया था. इनमें अजय जड़ेजा गैंग का हाथ होने की बात सामने आई. वहीं पुलिस को पता चला कि साजिश को अंजाम देने वाला जितेंद दिल्ली में ही कहीं छिपा है. यहां तक कि यूपी पुलिस की एसटीएफ समेत कई जांच एजेंसिया ज्‍वैलर्स और आरोपियों की तलाश में हाथ-पांव मार रही थी लेकिन बदमाश हाथ नही आ रहे थे.



हालांकि दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने जितेंद्र को पकड़ लिया. पुलिस के मुताबिक जिस वक़्त दो ज्वेलर्स का अपहरण किया गया था. तब दोनों ज्वेलर्स स्कूटी से बैडमिंटन खेलने जा रहे थे और रास्ते से ही उनका अपहरण कर लिया गया. पुलिस के मुताबिक कुछ दिन बाद दोनों  ज्वेलर्स को छोड़ने के एवज में 30 करोड़ की फिरौती मांगी गई थी. जो बाद में 25 करोड़ में फाइनल हुई.
यूपी पुलिस की एसटीएफ समेत कई जांच एजेंसिया ज्‍वैलर्स की तलाश में हाथ-पांव मार रही थीं. लेकिन बदमाश हाथ नही आ रहे थे. क्राइम ब्रांच का कहना है कि आरोपियों द्वारा फिरौती की रकम भारत के बाहर मांगी गई थी, लेकिन इस मामले में फिरौती देने से पहले ही एसटीएफ ने दोनों ज्‍वैलर्स को तो बिना रकम दिए सकुशल छुड़ा लिया लेकिन बदमाश फरार रहे.

इसके बाद यूपी पुलिस ने कुछ आरोपियों को तो गिरफ्तार कर लिया लेकिन मास्टरमाइंड अजय जडेजा और जितेंद्र फरार चल रहे थे. इस गैंग को मास्टमाइंड जगन यादव उर्फ अजय जडेजा ऑपरेट कर रहा था.  गैंग के सरगना की शक्ल क्रिकेटर अजय जडेजा से मिलती थी इसलिए उसे अजय जडेजा कहते थे.

ये गैंग दुबई में फिरौती की रकम को हवाला के जरिये मंगा रहा था ताकि मोटी रकम उनके पास आसानी से पहुंच जाए लेकिन पुलिस को उससे पहले ही इस योजना की भनक लग गई. यूपी पुलिस के मुताबिक इस किडनेपिंग में ज्‍वैलर्स को बिना रकम दिए छुड़ा लिया गया. क्रइम ब्रांच की मानें तो ये बड़ी रकम सीधे विदेश में जानी थी. हालांकि पुलिस अब अजय जडेजा की तलाश में जुट गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज