लाइव टीवी

अमित शाह बोले- दिल्ली की जनता तय करे, कर्मठ सरकार चाहिए या धरना सरकार
Delhi-Ncr News in Hindi

भाषा
Updated: January 23, 2020, 10:28 PM IST
अमित शाह बोले- दिल्ली की जनता तय करे, कर्मठ सरकार चाहिए या धरना सरकार
शाह दिल्ली में 3 नुक्कड़ सभा करने जा रहे हैं.

दिल्ली विधानसभा चुनाव-2020 में चुनाव प्रचार ने जोर पकड़ लिया है. इसी कड़ी में गुरुवार को

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election 2020) में प्रचार को रफ्तार देने के लिए उतरे गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने गुरुवार को कहा कि पिछले 5 साल में अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने एक भी चुनाव नहीं जीता है और दिल्ली की जनता को यह तय करना है कि अगले पांच साल के लिए नरेंद्र मोदी जी की तरह काम करने वाली सरकार चाहिए या धरना प्रदर्शन करने वाली सरकार चाहिए.

पिछले पांच साल में केजरीवाल ने एक भी चुनाव नहीं जीता

दिल्ली के मटियाला क्षेत्र में एक रैली को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, ‘‘पिछले पांच साल में केजरीवाल ने एक भी चुनाव नहीं जीता. पहले वाराणसी में हारे, हरियाणा में हारे, पंजाब में हारे, एमसीडी चुनाव में हारे, फिर लोकसभा चुनाव में भी सारी सीटें हार गए. एक चुनाव जिताने के बाद सारे चुनाव दिल्ली की जनता ने उन्हें हराए हैं.’’

काम करने वाली सरकार चाहिए या धरना प्रदर्शन करने वाली सरकार

उन्होंने कहा कि कुछ दिन बाद दिल्ली की जनता वोट डालकर दिल्ली की नई सरकार तय करने वाली है. शाह ने कहा कि आपका एक वोट ये तय करेगा कि पांच साल के लिए मोदी जी की तरह काम करने वाली सरकार चाहिए या धरना प्रदर्शन करने वाली सरकार चाहिए? ये आपको तय करना होगा.

आप और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि दो साल पहले जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में भारत विरोधी नारे लगे. मोदी जी ने इनको जेल में डाला तो तुरंत केजरीवाल और राहुल एंड कंपनी वहां पहुंच गई और कहने लगे कि ये उनको बोलने की आजादी है.

अरविंद केजरीवाल ने वादे पूरे नहीं किएगृह मंत्री ने कहा कि अरविंद केजरीवाल सत्ता में आने के साढ़े चार साल तक ये कहते थे कि मोदी जी ने मुझे कुछ काम ही नहीं करने दिया, इसलिए दिल्ली का विकास नहीं हुआ. अब कहते हैं, पांच साल में दिल्ली का विकास मैंने किया.

केजरीवाल सरकार ने नहीं लागू की आयुष्मान योजना 

उन्होंने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री आवास योजना लाए, ये भी केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में नहीं लागू की. करीब 112 ऐसी योजनाओं के बीच में केजरीवाल रोड़ा बन गए हैं. उन्होंने कहा कि एक बार ये रोड़ा हटा दो तो ये सभी योजनाएं दिल्ली वालों के घर तक पहुंच जाएगी. शाह ने कहा कि भारत सरकार की आयुष्मान भारत योजना के तहत देश के गरीबों को हर साल 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज मिल रहा है. लेकिन केजरीवाल सरकार के कारण ये योजना दिल्ली के लोगों को नहीं मिली.

मोदी सरकार ने किया अनधिकृत कॉलोनियों में मालिकाना हक देने का काम

उन्होंने कहा कि केजरीवाल को डर है कि अगर इस योजना से गरीब को फायदा होगा, तो वो मोदीजी को वोट दे देगा उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली की अनधिकृत कॉलोनियों को हम अधिकृत कर देंगे. लेकिन हमेशा इस काम में अड़ंगा लगाया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के करीब 1,731 अनधिकृत कॉलोनियों के लोगों को पांच हजार रुपये में अपने घर का मालिकाना हक देने का काम किया है.

ये भी पढ़ें-

 

'रिंकिया के पापा' का मजाक उड़ाने पर मनोज तिवारी का पलटवार, कही ये बात

दिल्ली में चुनाव प्रचार ने पकड़ा जोर, जेपी नड्डा और अमित शाह ने की रैली

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 10:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर