• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • 50 हजार रुपये का महीना लेकर ISI के लिए मुखबिरी करता था सेना का नायक परमजीत, गिरफ्तार

50 हजार रुपये का महीना लेकर ISI के लिए मुखबिरी करता था सेना का नायक परमजीत, गिरफ्तार

ISI जासूसी: गिरफ्तार नायक परमजीत हबीबउर्रहमान के जरिए पाकिस्तान भेज रहा था खुफिया दस्तावेज, पूछताछ में कई खुलासे.

ISI जासूसी: गिरफ्तार नायक परमजीत हबीबउर्रहमान के जरिए पाकिस्तान भेज रहा था खुफिया दस्तावेज, पूछताछ में कई खुलासे.

पाकिस्तान आईएसआई के लिए सेना का गिरफ्तार नायक परमजीत कई साल से मुखबिरी कर रहा था. परमजीत साल 2018 से हबीबउर्रहमान के जरिये पाकिस्तान ISI के लिए काम करते हुए महत्वपूर्ण सूचनाएं और दस्तावेज लीक कर रहा था. इसके लिए उसे ISI 50 हजार रुपये महीना भेजती थी.

  • Share this:
नई दिल्ली. पाकिस्तान आईएसआई (Pakistan ISI) के लिए सेना का गिरफ्तार नायक परमजीत (Paramjit) कई साल से मुखबिरी कर रहा था. परमजीत साल 2018 से हबीबउर्रहमान के जरिये पाकिस्तान ISI के लिए काम करते हुए महत्वपूर्ण सूचनाएं और दस्तावेज लीक कर रहा था. इसके लिए उसे ISI 50 हजार रुपये महीना भेजती थी.

पूछताछ में खुलासा हुआ है कि परमजीत साल 2018 से हबीबउर्रहमान के जरिये पाकिस्तान ISI के लिए काम कर रहा था. जिसके लिए बाकायदा हर महीने पाकिस्तान ISI परमजीत को 50 हजार रुपये महीना भेजती थी. वह 6 मोबाइल का इस्तेमाल करता था और ये 6 मोबाइल फोन पाकिस्तान ISI के भेजे गए पैसे से ही खरीदे गए थे. 6 मोबाइल फोन के जरिये अलग अलग वाट्सएप और दूसरे ऐप के जरिए सेना के गोपनीय दस्तावेजों की जानकारी और नक्शे पाकिस्तान ISI को भेजे जाते थे.

लॉकडाउन में मिलते थे 20 हजार

लॉकडाउन में 20 हजार रुपए परमजीत को ISI भेजने लगी थी. ये तमाम पैसा हर महीने परमजीत की बहन के बैंक एकाउंट में ट्रांसफर किया जाता था. परमजीत के लिए
क्राइम ब्रांच को 9 दिन की कोर्ट से रिमांड मिली है. पूछताछ में जरूरी लगा तो क्राइम ब्रांच हबीबुर्रहमान और परमजीत को पोखरण और आगरा भी लेकर जाएगी. परमजीत और हबीबुर्रहमान से कई घण्टे मिलिट्री इंटेलिजेंस और दूसरी सुरक्षा एजेंसियों ने कड़ी पूछताछ भी की है.

हबीबुर्रहमान को पोखरण में फिलहाल सेना में मीट सप्लाई करने का टेंडर मिला हुआ था. इसके पहले मिले टेंडर में सब्जी सेना को सप्लाई करता था. बताया जा रहा है कि हबीबुर्रहमान की पोखरण यूनिट में सेना के कई छोटे बड़े अफसरों से सब्जी और मीट सप्लाई करने के दौरान दोस्ती भी हो गई थी, लेकिन सेना के यह अधिकारियों को तब बिल्कुल यह शक न हुआ कि यह शख्स पाकिस्तान के लिए जासूसी करता है. लगातार क्राइम ब्रांच दोनों से पूछताछ कर रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज