Home /News /delhi-ncr /

बड़ी खबर: दिल्ली में 465 इलेक्ट्रिक बसें खरीदेगी केजरीवाल सरकार, जानें ये कब सड़क पर दौड़ेंगी

बड़ी खबर: दिल्ली में 465 इलेक्ट्रिक बसें खरीदेगी केजरीवाल सरकार, जानें ये कब सड़क पर दौड़ेंगी

दिल्‍ली में इसी साल नवंबर में इलेक्ट्रिक-बसें नजर आ सकती हैं. (सांकेतिक फोटो)

दिल्‍ली में इसी साल नवंबर में इलेक्ट्रिक-बसें नजर आ सकती हैं. (सांकेतिक फोटो)

Electric-Buses in Delhi: दिल्‍ली सरकार ने वायु प्रदूषण (Air Pollution) पर लगाम लगाने की खातिर इलेक्ट्रिक बसों की खरीद का फैसला किया है. परिवहन विभाग के मुताबिक, अरविंद केजरीवाल सरकार ने क्लस्टर योजना के तहत 465 ई-बसों की खरीद को मंजूरी दे दी है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. दिल्ली सरकार के परिवहन विभाग (Delhi Transport Corporation) ने राजधानी में वायु प्रदूषण (Air Pollution) बढ़ाए बिना सार्वजनिक परिवहन को बढ़ावा देने के लिए अब इलेक्ट्रिक बसों (Electric-Buses) की खरीद पर ध्यान केंद्रित किया है. इस बीच बुधवार को परिवहन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल सरकार (Arvind Kejriwal Government) ने क्लस्टर योजना के तहत 465 ई-बसों की खरीद को मंजूरी दे दी है और अब जल्द ही निविदाएं जारी किए जाने की उम्मीद है. इन इलेक्ट्रिक बसों के नवंबर में शुरू होने की संभावना है. गौरतलब है कि डीटीसी में एक बार में 300 इलेक्ट्रिक बसों को शामिल करना किसी भी राज्य परिवहन द्वारा अपने बेड़े में शामिल की जाने वाली बसों की सबसे बड़ी संख्या होगी.

    सूत्रों ने दावा किया कि शहर में वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए आने वाले दिनों में सार्वजनिक परिवहन बेड़े में केवल ई-बसों को शामिल करने का निर्णय किया गया है. अधिकारियों ने बताया कि परिवहन विभाग इन इलेक्ट्रिक बसों के लिए बुराड़ी और सराय काले खां में डिपो तैयार करने की भी योजना बना रहा है.

    मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कही थी ये बात
    इससे पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली सरकार राजधानी में वायु प्रदूषण के उच्च स्तर से लड़ने के लिए सार्वजनिक परिवहन को इलेक्ट्रिक मोड में बदलने के लिए प्रतिबद्ध है. डीटीसी की ई-बसों के लिए सुभाष प्लेस डिपो, मायापुरी डिपो, रोहिणी-II डिपो, राजघाट-II डिपो और मुंडेला कलां डिपो में भी पार्किंग की जगह तैयार की जा रही है.

    ये भी पढ़ें- UP: फिल्म सिटी का जल्द शुरू होगा निर्माण, 6000 करोड़ आएगी लागत, फाइव स्टार होटल समेत होंगी ये सुविधाएं

    डीटीसी बेड़े में इलेक्ट्रिक बसों को शामिल किया जाना ओपेक्स (परिचालन व्यय) मॉडल पर आधारित है. यह अब तक अपने स्वामित्व वाली बसों का संचालन कर रहा है. अधिकारियों ने बताया कि बस ऑपरेटर ‘जेबीएम’ और ‘टाटा मोटर्स’ क्रमशः 200 और 100 बसों का संचालन करेंगे. इस योजना के तहत, बसें एक बार चार्ज करने पर कम से कम 140 किलोमीटर का सफर तय करेंगी. ऑपरेटर की ओर से ड्राइवर उपलब्ध कराया जाएगा और डीटीसी की ओर से उन बसों में कंडक्टर प्रतिनियुक्ति किए जाएंगे.

    Tags: Delhi air pollution, Delhi CM Arvind Kejriwal, Delhi Government, Delhi news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर