• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Corona मरीजों के लिए बेड का बंदोबस्त करने केजरीवाल खुद इस दिन से उतरेंगे मैदान में

Corona मरीजों के लिए बेड का बंदोबस्त करने केजरीवाल खुद इस दिन से उतरेंगे मैदान में

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री ने एक बड़ा फैसला लिया है.

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री ने एक बड़ा फैसला लिया है.

केजरीवाल ने कहा कि टीवी पर कुछ लोग कह रहे थे कि केंद्र सरकार (Central Government) दिल्ली की कैबिनेट के फैसले को पलट नहीं सकती है. दिल्ली में चुनी हुई सरकार है. अभी कुछ महीने ही चुनाव हुए थे, जिसमें 62 सीट हमें मिली थी. मैं इतना कह सकता हूं कि तन, मन, धन से जो भी बन सकेगा, हम पूरी कोशिश करेंगे.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) अस्पतालों में बेड का इंतजाम अब खुद देखेंगे. बुधवार को केजरीवाल ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि केंद्र सरकार (Central Government) और एलजी (LG) के आदेश का पालन करेंगे. केजरीवाल ने कहा, 'अब मैं खुद कल या परसों से जमीन पर उतरूंगा. स्टेडियम, बैंक्वेट हॉल, होटल को तैयार कराऊंगा. जितना ज्यादा से ज्यादा हो सकेगा, हम कोशिश करेंगे. लेकिन, यह विपदा और मुसीबत इतनी बड़ी है कि मानव जाति के इतिहास में शायद इतनी बड़ी विपदा कभी नहीं आई. हमारे काम में 100 कमियां रह सकती हैं, लेकिन हमारी नियत और कोशिश में कोई कमी नहीं आएगी.'

    केजरीवाल की रहेगी अस्पतालों में बेड पर नजर
    बता दें कि दो दिन पहले ही एलजी ने दिल्ली कैबिनेट के उस फैसले को पलट दिया था, जिसमें दिल्ली सरकार के अस्पतालों में केवल दिल्ली के लोगों का इलाज करने का निर्णय लिया गया था. इस फैसले पर केजरीवाल ने कहा कि अब इस संबंध में उपराज्यपाल ने आदेश जारी कर दिया है. अब हमें किसी वाद-विवाद में नहीं पड़ना है.

    केजरीवाल कल या परसों से उतरेंगे मैदान में
    केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि एलजी के आदेश के बाद अब दिल्ली को 15 जुलाई तक 65 हजार और 31 जुलाई तक 1.5 लाख बेड की जरूरत पड़ेगी. यह समय आपस में लड़ने और राजनीति करने का नहीं है. हम एकजुट होकर लड़ेंगे, तभी कोरोना से जीत पाएंगे. इसके लिए खुद मुझे मैदान में उतरना पडे़गा. चुनौती बड़ी है, लेकिन हम पूरी ईमानदारी से कोशिश करेंगे. दिल्ली में अभी 31 हजार केस हैं. इसमें 12 हजार लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं, 18 हजार केस अभी एक्टिव हैं और 900 लोगों की मौत हो चुकी है.

    जन आंदोलन बनाना है-केजरीवाल
    केजरीवाल ने कहा है कि सबसे पहले हम सभी को अपने आप को कोरोना से बचाना है. इसे रोकने के लिए अब हमें तीन बातों को जन आंदोलन बनाना है. हमें हमेशा मास्क पहन कर घर से निकलना है. हमें बार-बार हाथ धोना और सैनेटाइज करना है और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है. अभी तक हम कहते थे कि हमें करना है. अब हमें यह भी करना है कि यदि कोई इसका पालन नहीं कर रहा है, तो उससे हमें हाथ जोड़ कर अनुरोध करना है कि यह आपके और दूसरों की सेहत के लिए भी अच्छा है. यदि कोई पालन नहीं कर रहा है, तो उसकी वजह से दूसरों को कोरोना हो सकता है. इसलिए अब इसे जन आंदोलन बनाना है.

    केजरीवाल ने कहा कि टीवी पर कुछ लोग कह रहे थे कि केंद्र सरकार दिल्ली की कैबिनेट के फैसले को पलट नहीं सकती है. दिल्ली में चुनी हुई सरकार है. अभी कुछ महीने ही चुनाव हुए थे, जिसमें 62 सीट हमें मिली थी. मैं इतना कह सकता हूं कि तन, मन, धन से जो भी बन सकेगा, हम पूरी कोशिश करेंगे. यह हमारी जिम्मेदारी भी है और यह सेवा का काम है.

    ये भी पढ़ें:- 

    दिल्ली में आज से शराब सस्ती, अमल में आया 70% Corona Tax खत्म करने का फैसला

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज