COVID-19: दिल्‍ली में खुला देश का पहला 'प्‍लाज्‍मा बैंक', Corona पॉजिटिव को फायदा मिलने की उम्‍मीद
Delhi-Ncr News in Hindi

COVID-19: दिल्‍ली में खुला देश का पहला 'प्‍लाज्‍मा बैंक', Corona पॉजिटिव को फायदा मिलने की उम्‍मीद
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Dlehi CM Arvind Kejriwal) ने 2 जुलाई को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये प्‍लाज्‍मा बैंक (Plasma Bank) का उद्घाटन किया.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश की राजधानी दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को देश के पहले प्‍लाज्‍मा बैंक का उद्घाटन किया. इसे ILBS अस्‍पताल चलाएगा. हॉस्पिटल ने बताया कि कोरोना वायरस से संक्रमित और उसके बाद ठीक हो चुके लोग अपना प्‍लाज्‍मा डोनेट कर सकते हैं. अस्‍पताल का कहना है कि ऐसे लोगों का संक्रमण से ठीक हुए कम से कम 14 दिन हो जाना चाहिए और डोनर खुद को पूरी तरह से स्‍वस्‍थ अनुभव कर रहा हो. बता दें कि सीएम केजरीवाल ने पहले भी प्‍लाज्‍मा थेरेपी की उपयोगिता के बारे में बात की थी. उन्‍होंने इसको उपयोगी भी बताया था. केजरीवाल ने 2 जुलाई को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये प्‍लाज्‍मा बैंक का उद्घाटन किया.



ऐसे लोग जो प्लाज्मा डोनेट कर सकते हैं-
1. कोरोना पॉजिटिव हुए हों
2. अब निगेटिव हो गए हों


3. ठीक हुए 14 दिन हो गए हों
4. स्वस्थ महसूस कर रहे हों और प्लाज्मा डोनेट करने के लिए उत्साहित हों
5. उम्र 18 से 60 वर्ष के बीच हों

ऐसे लोग जो प्लाज्मा नहीं दे सकते

1. जिनका वजन 50 किलो से कम है
2. महिला जो कभी भी प्रेग्नेंट रही हो या अभी हों
3. डायबिटीज के मरीज जो इंसुलिन ले रहे हो
4. ब्लड प्रेशर 140 से ज्यादा हो
5. ऐसे मरीज जिनको बेकाबू डायबिटीज हो या हाइपरटेंशन हो
6. कैंसर से ठीक हुए व्यक्ति
7. जिन लोगों को गुर्दे/ह्रदय/ फेफड़े या लीवर की पुरानी बीमारी हो

प्लाज्मा दान करने की अपील

हाल ही में सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में कोरोना संक्रमण के इलाज के बाद ठीक हो चुके मरीजों और आम लोगों से प्लाज्मा दान करने की अपील की. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए सभी लोगों का आगे आना जरूरी है. केजरीवाल ने कई अस्पतालों में मरीजों को प्लाज्मा दिए जाने का उदाहरण देते हुए कहा कि इस काम में सबको भागीदारी निभानी होगी.

प्लाज्मा दान करना हो तो सरकार को बताएं

सीएम केजरीवाल ने दिल्लीवासियों से प्लाज्मा दान करने की अपील करते हुए कहा कि यह काम ज्यादा कठिन नहीं है. उन्होंने कहा कि ILBS हॉस्पिटल कोरोना अस्पताल नहीं है, फिर भी वहां व्यवस्था की गई है. अगर किसी को प्लाज्मा दान करना हो तो वह सरकार को बताए. उस व्यक्ति को ILBS हॉस्पिटल पहुंचाने का सारा जिम्मा सरकार उठाएगी. इसके लिए एक-दो दिन में फोन नंबर जारी कर दिए जाएंगे. इस नंबर पर फोन करने के बाद टैक्सी आपके पास पहुंचेगी और आपको ILBS हॉस्पिटल ले जाएगी, जहां आप प्लाज्मा दान कर सकेंगे. केजरीवाल ने अपील की कि ज्यादा से ज्यादा लोग प्लाज्मा दान करें, ताकि कोरोना से पीड़ित मरीजों का इलाज किया जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading