Home /News /delhi-ncr /

दिल्ली विधानसभा में बोले अरविंद केजरीवाल- केंद्र ने अहंकार में पारित कराए थे कृषि कानून, हम किसानों के साथ

दिल्ली विधानसभा में बोले अरविंद केजरीवाल- केंद्र ने अहंकार में पारित कराए थे कृषि कानून, हम किसानों के साथ

आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किसानों की मांगों का समर्थन किया है. (फाइल फोटो)

आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किसानों की मांगों का समर्थन किया है. (फाइल फोटो)

Kisan Andolan: दिल्ली विधानसभा ने शुक्रवार को एक प्रस्ताव पास कर तीन कृषि कानूनों को वापस लेने (Agriculture law return), आंदोलन के दौरान दिवंगत हुए 700 किसानों के परिवारों को मुआवजा (Compensation of Farmers Family ) देने तथा फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) की कानूनी गारंटी दिये जाने की मांग की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में घोषणा की थी कि जिन तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन कर रहे हैं, उन्हें वापस लिया जायेगा. साथ ही कल मोदी कैबिनेट ने इस प्रस्ताव पर अपनी मुहर लगा दी थी.

अधिक पढ़ें ...

    नयी दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने शुक्रवार को किसानों को उनकी आंदोलन की सफलता (Successful Kisan Andolan ) के लिये बधाई देते हुये कहा कि उनकी जीत, लोकतंत्र की जीत है. आम आदमी पार्टी की सरकार (AAP Government) उनकी मांगों का समर्थन करती है.

    दिल्ली विधानसभा ने शुक्रवार को एक प्रस्ताव पास कर तीन कृषि कानूनों को वापस लेने (Agriculture law return), आंदोलन के दौरान दिवंगत हुए 700 किसानों के परिवारों को मुआवजा (Compensation of Farmers Family ) देने तथा फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) की कानूनी गारंटी दिये जाने की मांग की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में घोषणा की थी कि जिन तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन कर रहे हैं, उन्हें वापस लिया जायेगा. साथ ही कल मोदी कैबिनेट ने इस प्रस्ताव पर अपनी मुहर लगा दी थी.

    विधानसभा में हुई चर्चा में शामिल हुए केजरीवाल

    सदन में प्रस्ताव पर एक चर्चा का जवाब देते हुये केजरीवाल ने विधानसभा में कहा, ‘‘किसानों की जीत लोकतंत्र की जीत है. हम किसानों की लंबित मांग का समर्थन करते हैं, और हम किसानों के साथ हैं.’’ विधानसभा में यह प्रस्ताव ध्वनि मत से पारित हो गया. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने लोकसभा में बहुमत होने के कारण ‘‘अहंकार’’ में तीनों कृषि कानून पारित किया था.

    केजरीवाल ने कहा, ‘‘लोकसभा में बहुमत होने के कारण कृषि कानून अहंकार में पारित कराया गया. मैं किसानों की सफलता पर उन्हें बधाई देता हूं. देश के लोगों, महिलाओं, युवाओं एवं व्यापारियों के हित में जो कुछ भी होगा, उसका समर्थन करता हूं. मैं विशेष रूप से पंजाब के किसानों को बधाई देता हूं.’’

    किसान कानून व्यापारिक घरानों के पक्ष में बनाया गया 

    विधानसभा में पारित प्रस्ताव में कहा गया है कि केंद्र सरकार की ओर से पारित तीन कृषि कानून सामान्य तौर पर किसानों एवं जनता के हित के खिलाफ था. मुट्ठी भर व्यापारिक घरानों के पक्ष में बनाया गया था. उन्होंने कहा कि किसानों को सफलता प्राप्त करने के लिये कोविड, खराब मौसम और डेंगू जैसी परिस्थितियों से गुजरना पड़ा.

    केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार ने भारी दबाव के बावजूद स्टेडियमों को जेल में तब्दील नहीं होने दिया. प्रस्ताव में लखीमपुर खीरी मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा को पद से हटाने और उन्हें गिरफ्तार किये जाने की मांग की गयी है.

    Tags: Delhi Singhu Border, Farmer Agitation, Haryana Border, Kisan Andolan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर