कोरोना के समय लोगों ने दी गलत सलाह, लेकिन नहीं होने दिया दिल्ली में फ्रॉड: सीएम केजरीवाल

 सीएम अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

सीएम अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैंने सभी को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि हमारे लिए नंबर जरुरी नहीं हैं, हमारे लिए लोगों की जान जरूरी है. अगर हम नंबर कम करेंगे तो हम सही इलाज कैसे करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 19, 2020, 1:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कोरोना पर बात करते हुए कहा कि ऐसा लग रहा है हमने मिल-जुल कर दिल्ली में कोविड-19 की तीसरी लहर पर काबू पा लिया है, सक्रिय मामले घट कर करीब 12 हजार के आसपास हैं. उन्होंने कहा कि जब दिल्ली में कोरोना की मामले बढ़ने लगे तो इधर उधर से मुझे ग़लत सलाह मिलने लगी. कुछ ने मुझसे कहा कि परीक्षण में कमी की जानी चाहिए या परीक्षण में धोखाधड़ी करनी चाहिए. सीएम ने कहा कि एक राज्य का एक वीडियो आया कि एक डॉक्टर अपने ही पचास टेस्ट कर रहा और वही पचास टेस्ट निगेटिव बता दिए गए जिससे उस राज्य के कोरोना टेस्ट में नंबर कम आने लगे.

जिसके बाद मुझे समझ आया कि इसी तरह की धोखाधड़ी अन्य स्थानों पर चल रही है. लेकिन मैंने सभी को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि हमारे लिए नंबर जरुरी नहीं हैं, हमारे लिए लोगों की जान जरूरी है. अगर हम नंबर कम करेंगे तो हम सही इलाज कैसे करेंगे. हमने नंबर में बिलकुल भी फ्रॉड नहीं किया. और इसके लिए मैं अपने डॉक्टरों / अधिकारियों को सलाम करता हूं.

सीएम ने बताया कि आज दिल्ली में हर दिन 4500 टेस्ट प्रति मिलियन हो रहे हैं. वहीं उत्तर प्रदेश में हर दिन 670 टेस्ट प्रति मिलियन हो रहे हैं और गुजरात में हर दिन 800 टेस्ट प्रति मिलियन हो रहे हैं.


सीएम ने कहा कि जब न्यूयॉर्क में एक दिन में 6300 केस आए थे, उस समय वहां के अस्पतालों में अफरा तफरी का माहौल था. लेकिन दिल्ली में 8600 केस आने के बाद भी कोई अफरा तफरी का माहौल नहीं था. उस दिन हमारे पास 7000 बेड्स खाली थे. ये सब दिल्ली के बेहतर कोविड मैनेजमेंट का नतीजा था.

वहीं केजरीवाल ने कहा कि मैं आज दिल्ली के सभी लोगों को और कोरोना वारियर्स को धन्यवाद देता हूं. साथ ही सभी धार्मिक, सामाजिक और सरकारी संस्थानों का भी सहयोग के लिए धन्यवाद करता हूं. अभी भी लड़ाई खत्म नहीं हुई है. जब तक कोरोना की दवाई नहीं आती, हम सभी को सावधानी बरतनी होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज