• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Chhath Puja : दिल्ली में कोरोना केस कम होने का हवाला देकर सीएम केजरीवाल ने LG से मांगी छठ पूजा की इजाजत

Chhath Puja : दिल्ली में कोरोना केस कम होने का हवाला देकर सीएम केजरीवाल ने LG से मांगी छठ पूजा की इजाजत

दिल्ली में कोरोना केस कम होने का हवाला देकर केजरीवाल ने उपराज्यपाल से छठ पूजा की इजाजत मांगी है.

दिल्ली में कोरोना केस कम होने का हवाला देकर केजरीवाल ने उपराज्यपाल से छठ पूजा की इजाजत मांगी है.

केजरीवाल ने कहा कि कोरोना अब नियंत्रण में है और कई अन्य राज्यों ने इसकी अनुमति दी है. बता दें कि दिल्ली में छठ पूजा आयोजन को लेकर सियासत तेज हो गई है. उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया द्वारा केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखे जाने के बाद अब दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी जी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखा है.

  • Share this:

    दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उप राज्यपाल अनिल बैजल को चिट्ठी लिख छठ पूजा समारोह की अनुमति देने का आग्रह किया है. केजरीवाल ने कहा कि मैंने माननीय एलजी से दिल्ली में छठ पूजा समारोह की अनुमति देने का आग्रह किया है. कोरोना अब नियंत्रण में है और कई अन्य राज्यों ने इसकी अनुमति दी है.

    वहीं, एक अन्य मामले में दिल्ली पॉल्यूशन कंट्रोल कमेटी(DPCC) ने आदेश जारी कर कहा है कि दिल्ली में किसी भी सार्वजनिक जगह पर दुर्गा मूर्ति विसर्जन की अनुमति नहीं होगी. लोगों को घरों में ही बाल्टी या कंटेनर में विसर्जन करना होगा. दुर्गा पूजा उत्सव से पहले दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (DPCC) ने बुधवार को किसी भी जलाशय में मूर्ति विसर्जन पर रोक लगा दी और लोगों से कहा कि वे अपने घरों में ही बाल्टी या कंटेनर में मूर्ति विसर्जन करें. समिति ने कहा कि इसके चलते नदियों और झीलों में होने वाला प्रदूषण चिंता का विषय है.

    दिल्ली पॉल्यूशन कंट्रोल कमेटी ने ये आदेश जारी किया है. आम लोगों और पूजा समिति से कहा गया है कि पूजा सामग्री जैसे फूल, सजावट का सामान आदि मूर्ति विसर्जन से पहले हटा लें. घर-घर जाकर जो लोग वेस्ट कलेक्ट कर रहे हैं उनको दें ताकि पर्यावरण सुरक्षित रहे. इसकी अवेहलना करने पर 50 हजार जुर्माना देना होगा.

     21 मई को जारी नई कोविड गाइडलाइन के अनुसार

    बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालयकी तरफ से 21 मई को जारी नई कोविड गाइडलाइन के अनुसार, केंद्र ने कोरोना को लेकर सतर्कता बरतने की सलाह दी और कुछ नए नियम जारी किए थे. स्वास्थ्य सचिव ने कहा था कि कंटेनमेंट जोन के रूप में चिह्नित किए जाने वाले क्षेत्र और ऐसे क्षेत्र जहां कोरोना संक्रमण दर 5 प्रतिशत से अधिक है वहां सामूहिक समारोह से बचना होगा.

    जिन क्षेत्रों में संक्रमण दर 5 प्रतिशत से कम होगी वहां कार्यक्रम के आयोजन से पहले अग्रिम अनुमति लेना जरूरी होगा. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि अगले दो महीने साप्ताहिक मामले की सकारात्मकता दर के आधार पर क्षेत्रों में छूट और प्रतिबंध लगाए जाएंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज