• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Delhi: फर्जी Passport के जरिये भारत से विदेश भेजे जाते थे बांग्लादेशी, 5 एयरपोर्ट पर गिरफ्तार

Delhi: फर्जी Passport के जरिये भारत से विदेश भेजे जाते थे बांग्लादेशी, 5 एयरपोर्ट पर गिरफ्तार

पुलिस ने दिल्ली आईजीआई एयरपोर्ट पर 5 बांग्लादेशियों समेत 6 जालसाजों को गिरफ्तार किया है.

पुलिस ने दिल्ली आईजीआई एयरपोर्ट पर 5 बांग्लादेशियों समेत 6 जालसाजों को गिरफ्तार किया है.

New Delhi News: पुलिस ने जिस गैंग को पकड़ा है, उसके सदस्य बांग्लादेश से बाहर जाने वालों को पहले मेडिकल वीजा के तहत भारत में प्रवेश करवाते हैं, उसके बाद फर्जी दस्तावेजों के सहारे उनके इंडियन पासपोर्ट बनाकर उन्हें आगे भेजते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Delhi IGI Airport) पुलिस ने 5 बांग्लादेशियों समेत 6 जालसाजों को गिरफ्तार किया है, जो बांग्लादेशी नागरिक हैं. उनके पास से इंडियन और बांग्लादेशी पासपोर्ट (Indian and Bangladeshi Passport) बरामद हुए हैं. जो फर्जी दस्तावेजों के सहारे ओरिजिनल पासपोर्ट बनाकर बांग्लादेशियों को भारत से बाहर विदेशों में भेजते थे. इनके पास बांग्लादेशी और इंडियन पासपोर्ट भी बरामद हुए हैं.

11 सितंबर को आईजीआई एयरपोर्ट पर सर्बिया जाने वाले 3 लोग एक साथ जा रहे थे, तभी उनको CISF ने चेकिंग के लिए रोका. चेकिंग के दौरान उनके पास मिले पासपोर्ट चेक किये गये तो उनके पास जाली पासपोर्ट बरामद हुये. इनसे आगे की पूछताछ के बाद इनके तीन साथियों को गिरफ्तार किया गया. इनके पास से 27 पासपोर्ट बरामद हुए हैं. ये सभी इंडिया, बांग्लादेश और नेपाल के पासपोर्ट हैं. 15 स्टाम्प भी मिली हैं, जो अलग-अलग देशों की हैं. जैसे इंडोनेशिया, श्रीलंका, बांग्लादेश, सिंगापुर, ऑस्ट्रेलिया और मलेशिया की हैं.

फर्जी दस्तावेजों के जरिये इंडियन पासपोर्ट बनवाकर भेजते थे आगे

बांग्लादेश से जो बाहर जाना चाहते हैं. गैंग उन्हें पहले मेडिकल वीजा के तहत भारत में प्रवेश करवाते हैं, उसके बाद फर्जी दस्तावेजों के सहारे उनके इंडियन पासपोर्ट बनाकर उन्हें आगे भेजते हैं. इस गैंग का सरगना अताउल तालुकदार है, जिसके पास बांग्लादेशी पास्पोर्ट भी है. जिसने एक कंस्ट्रक्शन कंपनी खोली है, जो बाहर से बांग्लादेशियो को बुलाकर उन्हें यहां से इसी कंपनी के नाम पर भेजता था. गैंग के सभी सदस्यों को टास्क सौपे गए थे. किसी को एजेंसी के साथ संपर्क बनाकर लोगों को बाहर भिजवाने का काम करता था तो कोई बांग्लादेशी को कोलकाता लेकर जाता था और उनके दस्तावेज बनाकर लाता था. कोई बॉर्डर के पास मेडिकल वीजा के नाम पर कागज मुहैया कराते थे.

विदेश भेजने के नाम पर दो से ढाई लाख ली जाती थी रकम 

विदेश भेजने के नाम पर 2 से ढाई लाख की रकम ली जाती थी. जो पैसेंजर थे, उन्होंने वाजिब वीजा लगवाया था. लेकिन सब इसी गैंग ने मुहैया करवाए थे. पुलिस से बचने के लिए ये पासपोर्ट पर कई अलग अलग देशों की मुहर भी लगवाते थे. ताकि सुरक्षा एजेंसियां ज्यादा पूछताछ न करे. दिल्ली पुलिस अब इनके पुराने रिकॉर्ड खंगाल रही है कि अब तक ये गैंग कितने बांग्लादेशियो को विदेश भेज चुके हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज