• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • बिल्डर ने नहीं चुकाया लोन, 200 परिवारों को मिला फ्लैट खाली करने का नोटिस

बिल्डर ने नहीं चुकाया लोन, 200 परिवारों को मिला फ्लैट खाली करने का नोटिस

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank Of India) की ओर से सोसायटी के निवासियों को बताया गया कि गार्डेनिया इंडिया लिमिटेड ने बैंक से दिसंबर 2015 में 78.45 करोड़ रुपए का लोन लिया था जिसे चुकाया नहीं गया है. ऐसे में बैंक के पास अधिकार है कि वो लोन की भरपाई के लिए कंपनी की संपत्ति जब्‍त कर सकती है.

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank Of India) की ओर से सोसायटी के निवासियों को बताया गया कि गार्डेनिया इंडिया लिमिटेड ने बैंक से दिसंबर 2015 में 78.45 करोड़ रुपए का लोन लिया था जिसे चुकाया नहीं गया है. ऐसे में बैंक के पास अधिकार है कि वो लोन की भरपाई के लिए कंपनी की संपत्ति जब्‍त कर सकती है.

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank Of India) की ओर से सोसायटी के निवासियों को बताया गया कि गार्डेनिया इंडिया लिमिटेड ने बैंक से दिसंबर 2015 में 78.45 करोड़ रुपए का लोन लिया था जिसे चुकाया नहीं गया है. ऐसे में बैंक के पास अधिकार है कि वो लोन की भरपाई के लिए कंपनी की संपत्ति जब्‍त कर सकती है.

  • Share this:
    बिल्‍डरों (Builders) की कारस्‍तानियों का खामियाजा अक्सर आम लोगों को उठाना पड़ता है. ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के नोएडा (Noida) से आया है. नोएडा सेक्‍टर-75 (Noida Sector 75) की एक हाउसिंग सोसायटी गार्डेनिया गेटवे (Gardenia Gateway) सोसायटी में रह रहे लगभग 200 परिवारों को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank Of India) की ओर से फ्लैट खाली करने का नोटिस भेजा (Notice Sent) गया है.

    टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार 20 अगस्‍त तक फ्लैट खाली करने का नोटिस मिलने के बाद इनमें रह रहे लोगों के बीच डर का माहौल है. बैंक की ओर से सोसायटी के निवासियों को बताया गया कि गार्डेनिया इंडिया लिमिटेड ने बैंक से दिसंबर 2015 में 78.45 करोड़ रुपए का लोन लिया था जिसे चुकाया नहीं गया है. ऐसे में बैंक के पास अधिकार है कि वो लोन की भरपाई के लिए कंपनी की संपत्ति जब्‍त कर सकती है.

    लोग बोले किसी भी हालत में नहीं करेंगे फ्लैट खाली
    सोसायटी के रेजीडेंट वेलफेयर असोसिएशन (RWA) अध्यक्ष बीएस लवानिया ने बताया कि बिल्डर ने सभी फ्लैट मालिकों से पूरी रकम वसूल ली थी. इसके बाद ही उनको फ्लैट का पजेशन (Flat Possession) दिया गया था. ऐसे में बैंक के साथ अगर बिल्‍डर ने फ्रॉड किया है तो यह फ्लैट मालिकों की जिम्‍मेदारी नहीं है. उन्‍होंने कहा कि सोसायटी के लोगों ने एकमत होकर फैसला किया है कि वो किसी भी हालत में अपने फ्लैट खाली नहीं करेंगे.

    पुलिस में दी शिकायत
    सोसायटी के लोगों का कहना है कि वो इसके खिलाफ कानूनी कदम उठाएंगे. इस मामले में सभी लोगों ने मिलकर नोएडा के सेक्‍टर 49 स्थित पुलिस थाने में शिकायत दी है. बिल्‍डर की गलतियों की सजा फ्लैट के खरीदार क्‍यों भुगतें? जबकि वो फ्लैट की पूरी कीमत अदा कर चुके हैं. वहीं गार्डेनिया गेटवे के अतिरिक्‍त निदेशक सुरेंद्र देबाल का कहना है कि कंपनी बैंक के साथ बकाया राशि पर बातचीत कर रही है.

    ये भी पढ़ें:

    उलेमा ने किया सरकारी आदेश का स्वागत, कहा- कोई नहीं पढ़ेगा सड़क पर नमाज

    यहां सड़क पर नमाज पढ़ने या आरती करने पर लगा प्रतिबंध

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज