Assembly Banner 2021

केरल में RSS कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में BJP ने किया प्रदर्शन, मीनाक्षी लेखी बोलीं- NIA करे मामले की जांच

केरल में आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या का विरोध में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया.

केरल में आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या का विरोध में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया.

केरल में आरएसएस (RSS) कार्यकर्ता की हत्या के विरोध में बीजेपी (BJP) ने दिल्ली के जंतर-मंतर (Jantar Mantar) पर प्रदर्शन किया. बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी (Meenakshi Lekhi) के नेतृत्व में यहां एक मार्च भी निकाला गया. लेखी ने इस आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या की जांच एनआईए से कराने की मांग की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2021, 8:25 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केरल (Kerala) में आरएसएस कार्यकर्ता (RSS Worker) की हत्या के विरोध में भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर प्रदर्शन किया. बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी (Meenakshi Lekhi) के नेतृत्व में यहां एक मार्च भी निकाला गया. बीजेपी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए लेखी ने आरएसएस कार्यकर्ता के हत्या की जांच एनआईए से कराने की मांग की. साथ ही लेखी ने केरल के राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ के कार्यकर्ताओं के ऊपर लगतार हमले की निंदा की.

प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए लेखी ने केरल सरकार पर इस मामले को सही तरीके से जांच ना कराने का आरोप लगाया है. उन्होंने केरल सरकार पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई न करने और तुष्टिकरण की राजनीति का भी आरोप लगाया. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि हमारा आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक सरकार दोषियों को सजा नहीं दे देती.

Kisan Andolan: लाल किला हिंसा के आरोपी दो किसान 28 दिन बाद जमानत पर लौटे, गांव में हुआ भव्य स्वागत



उन्होंने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) पर प्रतिबंध लगाने की भी बात कही. लेखी ने कहा कि इस मामले में वास्तविक दोषी टी. कोया, मोहम्मद अली जिन्ना और अबू बकर स्माईल हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि देश भर में हुए कई बम धमाको में भी इन आरोपियों का हाथ है और ये कम्युनिस्टों का साथ देकर जेहादी ताकतों का साथ दे रहे हैं. लेखी ने केरल सरकार से मामले में तेजी से जांच करने या केस राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को जांच सौंपने की मांग की है.
पीएफआई पर साधा निशाना

इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष सुनील यादव ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयं सेवकों की इस तरह बेरहमी से हत्या बर्दाश्त से बाहर है. उन्होंने कहा कि देश में पहले भी जहां-जहां दंगे-फसाद हुए हैं, उनमें पीएफआई का ही हाथ रहा है. देश में सीएए के खिलाफ भी इसी संगठन ने अभियान छेड़ा और इसके लिए कई देश विरोधी संगठनों को पैसे दिए. उन्होंने कहा कि केरल सरकार ने हत्या के मामले में जिन लोगों को पूछताछ के नाम पर पकड़ा है उन्हें गिरफ्तार कर कड़ी कार्रवाई करे. प्रदर्शनकारियों में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के कार्यकारिणी सदस्य वेणुगोपाल, मलायाली एसोसिएशन के सचिव आर. आर. नैयर और प्रसन्ना पिल्लाई समेत सैकड़ों बीजेपी और आरएसएस के कार्यकर्ताओं ने भाग लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज