लाइव टीवी

भजनपुरा सामूहिक हत्याकांड का हुआ खुलासा, फुफेरा भाई निकला आरोपी, ऐसे रची साजिश

News18Hindi
Updated: February 14, 2020, 11:44 AM IST
भजनपुरा सामूहिक हत्याकांड का हुआ खुलासा, फुफेरा भाई निकला आरोपी, ऐसे रची साजिश
यहां आने पर उसने शंभू के साथ शराब पी. फिर 11 बजे रात आरोपी शंभू के साथ उसके घर पहुंच जाता है. (फाइल फोटो)

पुलिस का कहना है कि प्रभु चौधरी साढ़े 3 बजे शंभू के घर के अंदर जाता है और 4 घंटे में 4 हत्याएं कर देता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 14, 2020, 11:44 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भजनपुरा सामूहिक हत्याकांड (Bhajanpura massacre) को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने उजागर कर दिया है. पुलिस ने वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. उसका नाम प्रभु चौधरी (Prabhu Chaudhary) है. स्थानीय थाना पुलिस के अनुसार, प्रभु चौधरी और मृतक शंभू के बीच दोस्ती थी. उसने शम्भू से 30 हजार रुपये उधार लिए थे. इसको लेकर दोनों के बीच लड़ाई भी हुई थी.

पुलिस की पूछताछ में प्रभु चौधरी ने बताया कि वह शंभू का रिश्तेदार है. उसने बताया कि 3 फरवरी को शंभू को लक्ष्मीनगर बुलाया. जब शंभू लक्ष्मीनगर के लिए निकला तो आरोपी उसके घर भजनपुरा के लिए रवाना हो गया. ऐसे में शंभू के घर पर पहुंचते ही प्रभु चौधरी ने सबसे पहले उसकी पत्नी की हत्या कर दी. उसने पहले गला दबाया और फिर आयरन रॉड से मारा. इसके बाद आरोपी ने छोटी बेटी कोमल की भी रॉड से हत्या कर दी. फिर, शिवम को बुलाकर उसकी हत्या की. उसके बाद शंभू के दूसरे बेटे को भी मार डाला. इसके बाद वह वापस लक्ष्मीनगर लौट गया.

उसने शंभू के साथ शराब पी
यहां आने पर उसने शंभू के साथ शराब पी. फिर 11 बजे रात आरोपी शंभू के साथ उसके घर पहुंच जाता है. उसके घर पहुंचते ही चौधरी ने शंभू की भी हत्या कर दी. प्रभु चौधरी का कहना है कि मौके पर शंभू की पत्नी सुनीता से झगड़ा हुआ था, उसके बाद मारा. जानकारी के मुताबिक, मृतक शंभू, प्रभु चौधरी की बुआ का लड़का है. पुलिस का कहना है कि चौधरी साढ़े 3 बजे शंभू के घर के अंदर जाता है और 4 घंटे में 4 हत्याएं कर देता है.

एक ही परिवार के पांच लोगों के शव मिलने से सनसनी फैल गई थी
बता दें कि भजनपुरा इलाके में एक ही परिवार के पांच लोगों के शव मिलने से सनसनी फैल गई थी. पहली नज़र में पांच लोगों की मौत आत्महत्या के रूप में देखी जा रही थी. शव कई दिन पुराने थे. लेकिन, जब दिल्ली पुलिस की जांच और पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया तो खुलासा हुआ कि एक ही परिवार के पांच लोगों ने आत्महत्या नहीं की है, बल्कि किसी धारदार हथियार से उनकी हत्या की गई है. सभी की गर्दन और शरीर के दूसरे हिस्सों में ज़ख्म के निशान हैं.

(रिपोर्ट- दीपक बिष्ट)ये भी पढ़ें :- 

प्रियंका चोपड़ा की जेठानी सोफी टर्नर के घर में आने वाला है नन्‍हा मेहमान

भीमा कोरेगांव हिंसा मामले की जांच एनआईए से कराने को तैयार हुई ठाकरे सरकार

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 13, 2020, 7:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर