छठ को लेकर AAP का BJP पर तंज, पहले गाइड लाइन जारी कर पूजा पर रोक क्यों लगाई

छठ पूजा 4 दिनों की होती है. इस दौरान व्रतधारी लगातार 36 घंटे का व्रत रखते हैं. व्रत के दौरान वह पानी भी ग्रहण नहीं करते हैं.
छठ पूजा 4 दिनों की होती है. इस दौरान व्रतधारी लगातार 36 घंटे का व्रत रखते हैं. व्रत के दौरान वह पानी भी ग्रहण नहीं करते हैं.

दुर्गेश पाठक ने कहा कि हम भाजपा से मांग करते हैं कि वह गृहमंत्री (Home Minister) अमित शाह (Amit Shah) से छठ पर्व मनाने की अनुमति लेकर आएं, फिर छठ पूजा की पूरी तैयारी कराने की जिम्मेदारी आम आदमी पार्टी सरकार की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2020, 7:43 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी (AAP) ने भाजपा (BJP) की केंद्र सरकार द्वारा गाइड लाइन जारी कर छठ पर्व मनाने पर रोक लगाने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने बीजेपी पर तंज कसते हुए कहा कि एक तरफ भाजपा की केंद्र सरकार ने गाइड लाइन जारी करके छठ पर्व (Chhath Puja) मनाने पर रोक लगा दी है और दूसरी तरफ भाजपा नेता आम आदमी पार्टी की सरकार पर पर्व मनाने की अनुमति नहीं देने का अरोप लगाकर राजनीति कर रहे हैं.

आप विधायक संजीव झा ने बीजेपी को दी यह नसीहत
आप विधायक संजीव झा ने कहा कि आम आदमी पार्टी इस आस्था के महापर्व पर किसी भी तरह की राजनीति नहीं करना चाहती है. भाजपा को भी ओछी राजनीति छोड़ कर गृहमंत्री से छठ पर्व मनाने की नई गाइड लाइन जारी करानी चाहिए. संजीव झा ने कहा कि जब दिल्ली में आम आदमी पार्टी सत्ता में आई उससे पहले पूरी दिल्ली में केवल 72 छठ घाट थे, जहां पर छठ पूजा का आयोजन किया जाता था. अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार ने उन छठ घाटों को बढ़ाकर पिछले 6 साल के कार्यकाल में लगभग 1200 जगहों पर छठ पूजा के आयोजन की व्यवस्था कराई.

ये भी पढ़ें-UP पुलिस का नया कारनामा- 2 दिन की बच्‍ची बिना कुछ बताए घर से चली गई



छठ पूजा के लिए यह कदम उठाने जा रही है दिल्ली सरकार
संजीव झा ने कहा कि आम आदमी पार्टी के तमाम विधायक हर्षोल्लास के साथ छठ पर्व को मनाने के लिए दिल्ली सरकार के समक्ष प्रस्ताव रखेंगे और हम वादा करते हैं कि पूरे उत्साह के साथ दिल्ली में छठी मैया की पूजा का आयोजन किया जाएगा. न केवल छठ पर्व, बल्कि पूर्वांचल के लोगों के जितने भी पर्व हैं, सभी को बड़ी ही उत्साह के साथ मनाने के लिए दिल्ली सरकार समय-समय पर इंतजाम करती रही है. उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के इस काल में छठ पर्व की पूजा कराना एक चुनौती जरूर है, परंतु पूरे देश में किसी भी कार्यक्रम के मनाने के लिए गाइड लाइन केंद्र सरकार की ओर से जारी की जाती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज