दिल्ली में Corona बेड के मामले पर केजरीवाल ने केन्द्र को लिखी चिठ्ठी, किया बड़ा खुलासा

सीएम अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)
सीएम अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन (Satyendra Jain) ने आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र सरकार (Central Government) ने दो-ढाई महीने पहले कहा था कि एक हजार के करीब बेड बढ़ाए जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2020, 8:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) में कोरोना (Corona) के बढ़ते मामलों के बीच अस्पतालों में बेड्स की संख्या को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM arvind kejriwal) ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को एक लैटर लिखा है. इसमें अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार से केन्द्र के अस्पतालों (Hospital) में 1092 बेड्स बढ़ाने को कहा है. इसमे 300 आईसीयू बेड्स भी शामिल हैं. केजरीवाल ने डॉ. वीके पॉल समिति की रिपोर्ट का ज़िक्र भी किया है. रिपोर्ट के मुताबिक आने वाले दिनों में 11909 मामले प्रतिदिन सामने आ सकते हैं.

सीएम केजरीवाल ने चिठ्ठी में इन रिपोर्टस का किया खुलासा

सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को लिखे लैटर में ज़िक्र किया है कि डॉ. वीके पॉल समिति की रिपोर्ट का ज़िक्र करते हुए लिखा है कि समिति की रिपोर्ट के मुताबिक आने वाले दिनों में 11,909 मामले प्रतिदिन सामने आ सकते हैं. जिसके लिये 20,604 बेड्स की जरूरत होगी. चिट्ठी में लिखा है कि एंपावर्ड ग्रुप की तीसरी रिपोर्ट के हिसाब से मौजूदा वक्त में करीब 4900 बेड्स की कमी है. इस कमी को पूरा करने के लिए दिल्ली और केंद्र सरकार के अस्पतालों में बेड्स की संख्या बढ़ानी होगी. लैटर में केंद्र से अपने कोरोना अस्पतालों में एक हजार बेड्स बढ़ाए जाने और साथ ही 300 के करीब आइसीयू बेड्स भी बढ़ाए जाने की मांग की है.



यह भी पढ़ें- Corona Case: दिल्ली में 1270 ICU बेड में से सिर्फ 108 बचे हैं खाली
प्राइवेट अस्पताल में भी आईसीयू बेड की कर रही मांग

इसके साथ ही दिल्ली के प्राइवेट अस्पतालों में 80 फीसदी आईसीयू बेड रिज़र्व रखने के आदेश पर हाईकोर्ट द्वारा लगायी गयी रोक के ख़िलाफ़ दिल्ली सरकार सुप्रीम कोर्ट गई थी. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को हाईकोर्ट की डबल बैंच के सामने रखने के की बात कही है. जिस पर सत्येन्द्र जैन ने कहा कि हाईकोर्ट के स्टे आर्डर के खिलाफ हम सुप्रीम कोर्ट गए थे.

सुप्रीम कोर्ट ने उस पर कहा है कि 12 तारीख को हाईकोर्ट की डबल बेंच के सामने जाइए. हम आशा करते हैं कि 12 अक्टूबर को इस मामले में कुछ अच्छा हो जाए. हालाँकि इस बीच मंत्री सत्येन्द्र जैन ने ये उम्मीद भी जतायी है कि आने वाले 2-3 दिनों बाद मामले में कमी आनी शुरू होगी. कुछ दिनों पहले ही कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुये सत्येन्द्र जैन ने इसे दिेल्ली में कोरोना का थर्ड पीक बताया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज