Delhi News: ड्रग्स रैकेट का पर्दाफाश, पकड़ी गई 60 करोड़ की हेरोइन, 2 सप्लायर गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल सर्विलांस के आधार पर ड्रग्स तस्करों पर नजर रखी थी.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल सर्विलांस के आधार पर ड्रग्स तस्करों पर नजर रखी थी.

Delhi Crime News: दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल ने 60 करोड़ की  हेरोइन के साथ दो सप्लायर को गिरफ्तार किया है. ये ड्रग्स (Drugs) इंडो म्यांमार बॉर्डर से पंप की जाती थी और बिहार , पश्चिम बंगाल के साथ दूसरे राज्यों में सप्लाई होती थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2021, 9:37 PM IST
  • Share this:
दिल्ली. गुरुवार को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल ने अंतर्राज्यीय ड्रग सप्लाई रैकेट का भंडाफोड़ कर दो ड्रग्स (Drugs) तस्करों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से 15 किलो हेरोइन बरामद की गई है जिसकी कीमत 60 करोड़ आंकी गई है. एक एक्सयूवी गाड़ी, मोबाइल फोन और सिम कार्ड भी इनके पास से बरामद किए गए हैं. स्पेशल सेल की नॉर्दर्न रेंज के एसीपी जसवीर और इंस्पेक्टर कृष्ण कुमार को एक जानकारी मिली थी कि दिल्ली में ड्रग तस्कर शहजाद और उसका साथी आमिर खान बड़ी खेप लेकर आने वाले हैं. इसके बाद इन दोनों को गिरफ्तार किया गया है.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल सर्विलांस के आधार पर ड्रग्स तस्करों पर नजर रखी थी. तभी उन्हें सर्विलांस के जरिए एक इनपुट मिला कि अवैध रूप से बिहार, वेस्ट बंगाल और मणिपुर होते हुए ड्रग्स की बड़ी खेप दिल्ली में आने वाली है. 17 मार्च को मजनू का टीला इलाके में यह बड़ी कंसाइनमेंट पहुंचने वाली थी जिसके बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मजनू का टीला और वजीराबाद के आसपास ट्रैप लगा के रखा था.

Youtube Video


ऐसे पकड़ में आए ड्रग डीलर
गुरुवार सुबह वजीराबाद फ्लाईओवर पर आती हुई एक कार को रोका गया. इसमें 2 लोग बैठे हुए थे. उनके पास काले रंग के 2 बैग थे. दोनों की पहचान शहजाद और आमिर के रूप में हुई. इनके पास से तलाशी पर शहजाद के पास 3 किलोग्राम तो 2 किलोग्राम हेरोइन आमीर के पास से बरामद की गई. इसके बाद गाड़ी की तलाशी लेने पर उसके अंदर छिपाई गई तकरीबन 10 किलोग्राम हेरोइन बरामद हुई. शहजाद पहले बाउंसर का काम करता था. उसके बाद वह ड्रग्स के धंधे में आ गया. बिहार के सहसराम से हेरोइन की कंसाइनमेंट लेकर सप्लाई करने लगा जिसे दिल्ली एनसीआर और यूपी में दी जाती थी. एक ट्रिप में वह 1लाख कमा लेता था, जबकि उसके दूसरे साथी को 50 हज़ार मिलते थे. ये ड्रग्स इंडो म्यांमार बॉर्डर से पंप की जाती थी और बिहार , पश्चिम बंगाल के साथ दूसरे पूर्वोत्तर राज्यों में की जाती थी. पुलिस इनके पूरे नेटवर्क को खंगाल रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज