Home /News /delhi-ncr /

Delhi Violence: घनी आबादी और तंग गलियों के चलते समय से मौके पर नहीं पहुंच सकी पुलिस

Delhi Violence: घनी आबादी और तंग गलियों के चलते समय से मौके पर नहीं पहुंच सकी पुलिस

गृहमंत्रालय ने राज्यसभा में बताया है कि दिल्ली हिंसा के दौरान 3304 व्यक्तियों को गिरफ्तार और डिटेन किया गया है. (File Photo)

गृहमंत्रालय ने राज्यसभा में बताया है कि दिल्ली हिंसा के दौरान 3304 व्यक्तियों को गिरफ्तार और डिटेन किया गया है. (File Photo)

गृहमंत्रालय (Home Ministry) ने यह भी कहा है कि दिल्ली के उत्‍तर-पूर्वी जिले की मिश्रित आबादी वाले इलाकों में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने पेशेवर तरीके से तुरंत और मुस्तैदी से कार्रवाई की.

नई दिल्ली. दिल्ली में हुई हिंसा के बाद अब पुलिस इससे जुड़े सबूत और अरोपियों की तलाश में जुटी है. इस काम के लिए 40 टीम भी बनाई गई हैं. वहीं हिंसा के दौरान दिल्ली पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठने लगे हैं. राज्यसभा में भी इसी संबंध में उठे एक सवाल का गृहमंत्रालय ने जवाब दिया. मंत्रालय ने बताया कि घनी आबादी और तंग गलियों के चलते पुलिस और सुरक्षा बलों की गाड़ियों की आवाजाही ठीक से नहीं हो पाई. फिर भी दिल्ली के उत्‍तर-पूर्वी जिले की मिश्रित आबादी वाले इलाकों में पुलिस ने पेशेवर तरीके से तुरंत और मुस्तैदी से कार्रवाई की.

3304 व्यक्तियों को किया गया है गिरफ्तार और डिटेन
गृहमंत्रालय ने राज्यसभा में बताया है कि दिल्ली हिंसा के दौरान 3304 व्यक्तियों को गिरफ्तार और डिटेन किया गया है. अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए 40 टीम बनाई गई हैं. साथ ही हिंसा से जुड़े सभी सबूत भी जुटाए जा रहे हैं. मंत्रालय के अनुसार हिंसा के दौरान 52 लोगों की मौत हुई है और 545 लोग घायल हुए हैं. इसी के साथ 226 मकानों और 487 दुकानों को नुकसान पहुंचा है.

100 पुलिसकर्मी घायल
वहीं मंत्रालय ने बताया कि हिंसा के दौरान उपद्रवियों को काबू में करने के चलते 100 से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. कुछ के गंभीर चोट भी आई है. लेकिन इन सभी के बावजूद पुलिस ने हिंसा को काबू में कर उन्हें दूसरे इलाकों में फैलने से रोका.

13 अप्रैल को होगी सुनवाई
गौरतलब है कि गुरुवार को दिल्ली हिंसा मामले की हाईकोर्ट में सुनवाई हुई थी. हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस और केंद्र सरकार को भड़काऊ बयान को लेकर दाखिल याचिका पर विस्तृत जवाब दाखिल करने को कहा. कोर्ट ने चार सप्ताह में गृह मंत्रालय को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है. इस मामले में अगली सुनवाई 13 अप्रैल को होगी.



यह भी पढ़ें- फांसी से पहले यह थी धनंजय चटर्जी, अजमल और अफज़ल की आखिरी ख्वाहिश

कोरोना से 10 लाख टन चावल के एक्सपोर्ट पर संकट, किसानों की आमदनी पर पड़ेगा असर
undefined

Tags: Delhi police, Delhi Violence, Home ministry, Rajya sabha

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर