कोरोना वेरिएंट को लेकर बयान पर बवाल, मनीष सिसोदिया बोले- केंद्र को बच्चों की नहीं, सिंगापुर की चिंता

मनीष सिसोदिया. फाइल फोटो.

मनीष सिसोदिया. फाइल फोटो.

Delhi Corona: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सिंगापुर में कोरोना स्ट्रेन को लेकर दिए गए बयान पर राजनीति शुरू हो गई है. भाजपा के बयान पर डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने आज पलटवार किया.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) के सिंगापुर में कोरोना स्ट्रेन को लेकर दिए गए बयान पर राजनीति शुरू हो गई है. उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बीजेपी के बयान पर पलटवार किया है. सिसोदिया ने कहा- दिल्ली मुख्यमंत्री ने कल सिंगापुर की स्थिति के बारे में बात की थी, जिसमें बताया गया था कि वहां बच्चों पर कोरोना का खतरा बढ़ रहा है. भाजपा ने आज इस पर बहुत घटिया राजनीति शुरू की है. मुख्यमंत्री ने सिंगापुर के स्ट्रेन के बारे में बोला. भाजपा को सिंगापुर की चिंता है जबकि मुख्यमंत्री को बच्चों की चिंता है.

सिसोदिया ने कहा कि लंदन में एक नया स्ट्रेन आया था. वैज्ञानिकों ने भी अलर्ट किया था, लेकिन भारत सरकार की नाकामी की वजह से हजारों लोगों की जान चली गई है. भारत सरकार इस स्ट्रेन से ना अलर्ट हुई और ना ही कोई कदम उठाये. जिसका खामियाजा आज पूरा देश उठा रहा है.

मुद्दा हमारे बच्चे हैं

दिल्ली के डिप्टी सीएम सिसोदिया ने कहा कि मुद्दा सिंगापुर नहीं, मुद्दा हमारे बच्चे हैं. हमारे वैज्ञानिक, सुप्रीम कोर्ट कह रहे हैं कि तीसरी लहर में बच्चों को ज्यादा खतरा है तो केंद्र सरकार को देश के बच्चों की चिंता करनी चाहिए. भाजपा को सिंगापुर में अपनी छवि की चिंता है. भाजपा को विदेश और सिंगापुर में अपनी छवि मुबारक हो हम तो देश के बच्चों की चिंता करेंगे. बता दें कि सीएम केजरीवाल के बयान के बाद विदेश मंत्री जयशंकर का बयान आया था, जिसमें उन्होंने केजरीवाल के बयान पर सवाल उठाए थे. इसके बाद बीजेपी की ओर से भी मामले में सवाल खड़े किए, जिसके बाद अब मनीष सिसोदिया का बयान सामने आया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज