लाइव टीवी

शाहीन बाग प्रोटेस्टर्स को कोचिंग दे रहीं तीस्ता सीतलवाड़, BJP IT सेल के हेड अमित मालवीय ने ट्वीट किया वीडियो
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 19, 2020, 3:00 PM IST
शाहीन बाग प्रोटेस्टर्स को कोचिंग दे रहीं तीस्ता सीतलवाड़, BJP IT सेल के हेड अमित मालवीय ने ट्वीट किया वीडियो
शाहीन बाग में CAA के खिलाफ पिछले 68 दिनों से प्रदर्शन हो रहे हैं.

अमित मालवीय (Amit Malviya) ने बुधवार को ट्वीट कर आरोप लगाया कि तीस्ता सीतलवाड़ (Teesta Setalvad) प्रदर्शनकारी महिलाओं को बता रही हैं कि बातचीत करने के लिए आने वाले लोगों से क्या पूछना है. ये वो वार्ताकार हैं जिन्हें सुप्रीम कोर्ट ने प्रदर्शनकारी महिलाओं से बातचीत करने के लिए नियुक्त किया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 19, 2020, 3:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और नेशनल रजिस्टर फॉर सिटिजनशिप (NRC) के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में जारी प्रदर्शन को दो महीने से ज्यादा समय बीत चुका है. शाहीन बाग प्रोटेस्ट (Shaheen Bagh Protest) पर बीजेपी (BJP) की आईटी सेल (IT Cell) के हेड अमित मालवीय (Amit Malviya) ने धरने पर बैठी महिलाओं पर आरोप लगाया है. अमित मालवीय ने बुधवार को ट्वीट कर आरोप लगाया कि तीस्ता सीतलवाड़ (Teesta Setalvad) प्रदर्शनकारी महिलाओं को बता रही हैं कि बातचीत करने के लिए आने वाले लोगों से क्या पूछना है. ये वो वार्ताकार हैं जिन्हें सुप्रीम कोर्ट ने प्रदर्शनकारी महिलाओं से बातचीत करने के लिए नियुक्त किया है.

ये आरोप लगाते हुए अमित मालवीय ने अपने ट्वीट के साथ एक वीडियो भी शेयर किया है. उन्होंने तंज करते हुए कहा है कि देखें कि यह आंदोलन कितना जैविक और सहज है? बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर बुधवार को वार्ताकार शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने के लिए वहां जा सकते हैं.

यह दिखाया गया है मालवीय के ट्वीट किए वीडियो में



बीजेपी के आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने अपने ट्वीट के साथ जो वीडियो शेयर किया है उसमें दो-तीन महिलाएं हाथ में कागज लिए कुछ सवालों को पढ़ रही हैं. उनके सामने महिलाओं की भीड़ है जो जमीन पर बैठी हुई हैं. साथ ही उसके बाद दोहराया जा रहा कि यह तो सिर्फ सवाल हैं जिनके आपको जवाब देने हैं.






सुप्रीम कोर्ट ने दिया है यह आदेश
सुप्रीम कोर्ट में शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ धरना दे रहे प्रदर्शनकारियों को हटाने की याचिकाओं पर सुनवाई हुई थी. इसमें कोर्ट ने कहा था कि आपको विरोध करने का अधिकार है, लेकिन इसके लिए आप सड़क जाम नहीं कर सकते. अदालत ने इस मामले में सीनियर वकील संजय हेगड़े को प्रदर्शनकारियों के साथ बातचीत करने की जिम्मेदारी दी है. साथ ही दिल्ली पुलिस कमिश्नर को इस मामले में हलफनामा दाखिल करने को कहा है. अब इस मामले की 24 फरवरी को सुनवाई होगी. सुप्रीम कोर्ट ने वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े के साथ वकील साधना रामचंद्रन को भी वार्ताकार के तौर पर नियुक्त किया है. इसके अलावा वजाहत हबीबुल्लाह भी वार्ताकारों की मदद करेंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 19, 2020, 1:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading