केजरीवाल पर बरसे BJP सांसद, बोले-दिल्ली देहात की हुई घोर उपेक्षा, किसानों को नहीं मिला किसानी दर्जा!

पिछले 6 सालों के दौरान में दिल्ली देहात के विकास की घोर उपेक्षा की गई है.

भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री और राज्यसभा सांसद भूपेंद्र यादव ने आम आदमी पार्टी पर भी गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले 6 सालों के दौरान में दिल्ली देहात के विकास की घोर उपेक्षा की गई है. दिल्ली देहात के विकास की सारी संभावनाओं को समाप्त करने का काम केजरीवाल सरकार ने किया है. अरविंद केजरीवाल दिल्ली के किसानों को किसान नहीं समझते हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) के राष्ट्रीय महामंत्री और राज्यसभा सांसद भूपेंद्र यादव (Bhupender Yadav) ने कृषि कानूनों को लेकर आज बवाना में आयोजित किसान महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) को संबोधित किया.

    उन्होंने कहा कि कृषि सुधार कानून (Agriculture Reform Laws) किसानों की आय बढ़ाने तथा उन्हें उनकी उपज को अपनी शर्तों पर बेचने की स्वतंत्रता देने वाला कदम है. कृषि सुधारों का विरोध करने वाले लोग किसान हितों की नहीं बल्कि आढ़तियों के हित का बचाव कर रहे हैं.

    राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र सिंह यादव ने आम आदमी पार्टी (AAP) पर भी गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले 6 सालों के दौरान में दिल्ली देहात के विकास की घोर उपेक्षा की गई है. दिल्ली देहात के विकास की सारी संभावनाओं को समाप्त करने का काम केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) ने किया है. अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) दिल्ली के किसानों को किसान नहीं समझते हैं.



    भूपेन्द्र यादव ने नरेन्द्र मोदी सरकार (Narendra Modi Government) की किसान नीतियों की तारीफ करते हुए कहा कि भारत में 99 से ज्यादा कृषि संबंधित परियोजनाओं को पूरा करने में एक लंबा समय लगा था. लेकिन उन योजनाओं को 90 प्रतिशत पूरा करने का काम केंद्र की मोदी सरकार ने पहले पांच सालों में किया.

    कोरोना (Corona) काल के दौरान 35 करोड़ महिलाओं के खाते में 500 रुपये और 10 करोड़ किसानों के खाते में किसान सम्मान नीधि योजना (Kisan Samman Nidhi Yojna) के तहत सीधे पैसे भेजे गए. यही नहीं लगभग 6000 खातों में वृद्धा पेंशन भी भेजी गई. 8 करोड़ बहनों के खातों में उज्ज्वला की सब्सिडी देने का काम केंद्र सरकार (Central Government) ने किया है.

    भूपेन्द्र यादव ने कहा कि खेती को बंधनों से मुक्त करने के लिए ही पीएम नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) किसानों के लिए तीन नए बिल लेकर आए. आज किसानों के अंदर कोई रोष नहीं है. लेकिन किसान आंदोलन (Kisan Andolan) के नाम पर MSP को खत्म करने का जो भ्रामक प्रचार किया गया वह काफी शर्मनाक है. उन्होंने जोर देकर कहा कि कल MSP था, आज है और कल भी रहेगा ताकि किसानों को उनके फसल का उचित मूल्य मिल सके.

    आदेश गुप्ता (Adesh Gupta) ने केजरीवाल सरकार से सवाल पूछते हुए कहा कि किसान आंदोलन का समर्थन करने वाली सरकार आखिर किसानों के लिए क्या किया है? आज दिल्ली में किसानों को ट्यूबेल बोरिंग कराने की अनुमति नहीं है और ना ही ट्रैक्टर की खरीद पर कोई लाभ मिलता है.

    पूरे देश के किसानों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की किसान सम्मान निधी योजना का लाभ मिलता है. लेकिन दिल्ली के किसानों को इससे वंचित रखने वाली केजरीवाल सरकार ने किसान को किसान का दर्जा तक नहीं दिया है.

    आदेश गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल सिर्फ किसानों के लिए बात करने का ढोंग रचते हैं जबकि वास्तविकता ये है कि दिल्ली का किसान आज पूरी तरह परेशान है. ना सब्सिडी है और ना ही कोई छूट, ये दिल्ली सरकार की सच्चाई है. आज दिल्ली का किसान अपने फसल को कम मूल्यों पर बेचने को मजबूर है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.