लाइव टीवी

CAA के विरोध में हुई हिंसा के खिलाफ BJP का प्रदर्शन
Delhi-Ncr News in Hindi

भाषा
Updated: January 5, 2020, 4:45 AM IST
CAA के विरोध में हुई हिंसा के खिलाफ BJP का प्रदर्शन
बीजेपी बूथ सम्मेलन में कार्यकर्ताओ को शामिल होने आए कार्यकर्ताओं को एक फोल्डर दिया जा रहा है.

विजय गोयल (Vijay Goal) ने अपनी पार्टी का यह आरोप दोहराया कि कांग्रेस और आप सीएए के खिलाफ शहर में हुए हिंसक प्रदर्शनों के लिए जिम्मेदार हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. बीजेपी (BJP) के राज्यसभा सदस्य विजय गोयल (Vijay Goal) के नेतृत्व में पार्टी ने शनिवार को विरोध प्रदर्शन किया. बीजेपी के इस प्रदर्शन में विजय गोयल के साथ पार्टी उपाध्यक्ष श्याम जाजू सहित पार्टी के कई नेता शामिल हुए. बीजेपी ने संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ हाल में हुए हिंसक प्रदर्शनों के खिलाफ अजमेरी गेट क्षेत्र में इस कानून के बारे में जागरुकता उत्पन्न की.

विजय गोयल ने अपनी पार्टी का यह आरोप दोहराया कि कांग्रेस और आप सीएए के खिलाफ शहर में हुए हिंसक प्रदर्शनों के लिए जिम्मेदार हैं. गोयल ने कहा कि वह नये कानून को लेकर मंगलवार को सदर बाजार से जामा मस्जिद तक पदयात्रा करेंगे. उन्होंने कहा कि इस पदयात्रा में सभी धर्म और समूहों के लोग शामिल होंगे और इस बारे में सूचना फैलाएंगे कि यह कानून किसी की नागरिकता नहीं लेता.

जाजू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने देश की सुरक्षा चिंताओं के समाधान के लिए यह संशोधित कानून लाया है. उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘विपक्षी पार्टियां इसे राजनीति और वोट बैंक के नजरिये से देख रही हैं और इसी कारण से वे एक विशेष समुदाय में झूठ फैला रही हैं.’’

गोयल ने दावा किया कि राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) पर अभी कोई चर्चा नहीं हुई है और इसको लेकर लोगों को भ्रमित किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) प्रत्येक 10 वर्षों पर अद्यतन किया जाता है और इससे सरकार को नीतियां बनाने में मदद मिलती है.



ये भी पढ़ें: 

CAA के विरोध प्रदर्शन में शामिल हुई भीम आर्मी, रखी चंद्रशेखर की रिहाई की मांग

गुरुग्रामः दोस्त के साथ घूमने गई नाबालिग के साथ गैंगरेप, दो आरोपी गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 5, 2020, 4:45 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर