Kisan Aandolan: AAP के स्टैंड को लेकर BJP ने उठाया सवाल, केजरीवाल पर लगाया ये बड़ा आरोप

किसान आंदोलन पर केजरीवाल दोहरा मानदण्ड अपना रहे हैं.

किसान आंदोलन पर केजरीवाल दोहरा मानदण्ड अपना रहे हैं.

एक तरफ केजरीवाल ने नया कृषि कानून दिल्ली में लागू कर दिया और दूसरी तरफ वे किसान आंदोलन का समर्थन भी कर रहे हैं. ये बात भाजपा को नाागवार गुजरी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 7, 2020, 4:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कृषि बिल के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन (Kisan Aandolan) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janata Party) ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kwjriwal) को आड़े हाथों लिया है. बीजेपी ने केजरीवाल पर किसान आंदोलन पर दोहरा मानदण्ड अपनाने का आरोप लगाया है. दरअसल अरविंद केजरीवाल ने किसान आंदोलन को समर्थन देने का निर्णय लिया है, जिसे लेकर वे बीजेपी के निशाने पर आ गए.

भाजपा के वरिष्ठ नेता रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने सोमवार को मीडिया से कहा कि अरविंद केजरीवाल की सरकार ने 23 नवंबर को नए कृषि कानून को नोटिफाई करके दिल्ली में लागू कर दिया. इधर आप विरोध कर रहे हैं और उधर आप गजट निकाल रहे हैं. इससे उनका दोहरा मानदण्ड पता चलता है.



किसानों से मिले केजरीवाल और सिसोदिया
केजरीवाल सोमवार को हरियाणा-दिल्ली सीमा से लगे सिंधु बॉर्डर पर किसानों से मिलने पहुंचे. इस दौरान उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी उनके साथ थे. केजरीवाल ने किसानों से मुलाकात की और उनका हाल जाना. किसानों को दी जा रही सुविधाओं पर भी उन्होंने चर्चा की और हर संभव मदद देने की बात कही. दूसरी ओर सिसोदिया ने भी किसानों से चर्चा की और उन्हें आश्वासन दिये.

हम किसानों के सेवादार हैं

केजरीवाल ने किसानों से मुलाकात के बाद कहा कि वे किसानों के सेवादार हैं. उन्होंने कहा- किसानों का मुद्दा और उनकी मांग जायज है. मैं और मेरी पार्टी उनके साथ खड़े हैं. किसानों का आंदोलन शुरू होने के वक्त पुलिस ने हमसे 9 स्टेडियम को जेल में बदलने की इजाजत मांगी थी. मेरे ऊपर दबाव बनाया था, लेकिन मैंने अनुमति नहीं दी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज