Delhi-NCR News: एड्रेस प्रूफ के बिना भी बनता है वोटर आईकार्ड, जान लें यह आसान तरीका

वोटर लिस्‍ट में नाम जुड़वाने के लिए बीएलओ की रिपोर्ट पर्याप्‍त -सांकेतिक फोटो

वोटर लिस्‍ट में नाम जुड़वाने के लिए बीएलओ की रिपोर्ट पर्याप्‍त -सांकेतिक फोटो

अगर आपकी उम्र वोटर बनने की हो गई है और आपके पास निर्वाचन आयोग (Election Commission) द्वारा तय डाक्‍यूमेंट्स (Documents ) में से कोई भी नहीं है तो बीएलओ (BLO) की रिपोर्ट से ही नाम जुड़ जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 19, 2021, 10:16 AM IST
  • Share this:

गाजियाबाद. अगर आपकी उम्र मतदान करने लायक हो गई है और आपके पास निर्वाचन आयोग (Election Commission) द्वारा तय डाक्‍यूमेंट्स (Documents ) में कोई भी नहीं है तो भी परेशान होने की बात नहीं है. आप अपने क्षेत्र के बूथ लेवल ऑफीसर (बीएलओ-BLO) से संपर्क कर सकते हैं. उसकी रिपोर्ट ही वोटर कार्ड (Voter Card) बनवाने के लिए पर्याप्‍त होगी. नाम जुड़वाने, कटवाने या फिर करेक्‍शन करवाने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से आवेदन कर सकते हैं.

गाजियाबाद के तहसीलदार (सदर) प्रवर्धन शर्मा बताते हैं कि आप पहली बार वोटर बनने जा रहे हैं तो आपकी उम्र 1 जनवरी 2021 को 18 साल पूरी होनी चाहिए. ऑनलाइन आवेदन के लिए आपको निर्वाचन आयोग की वेबसाइट https://www.nvsp.in पर जाकर नाम शामिल करने के लिए फॉर्म 6 भरना होगा. नाम  कटवाने के लिए फार्म 7, नाम में करेक्‍शन करवाने के लिए फार्म 8, पता बदलवाने के लिए फार्म 8 ए भरना होगा. इसके बाद यह फार्म आपके जिले, तहसील और बीएलओ के पास पहुंच जाएगा. बीएलओ आवेदनकर्ता की भौतिक जांच करेगा और ऑनलाइन रिपोर्ट भेज देगा. इस तरह आप एक सप्‍ताह में वोटर बन सकते हैं. लेकिन, मतदाता सूची में नाम तब दिखेगा, जब सूची अपडेट होकर प्रकाशित होगी. इसी तरह वोटर कार्ड भी बल्‍क में एक साथ बनते हैं, जिसमें समय लगता है.

अगर आप ऑफलाइन आवेदन करना चाह रहे हैं तो क्षेत्र के एसडीएम या तहसीलदार कार्यालय में फिर बूथ लेबल ऑफीसर (बीएलओ) के पास सीधा आवेदन कर सकते हैं. इस बात का ध्‍यान रखें कि इस प्रक्रिया से आपका नाम लोकसभा और विधानसभा चुनाव की सूची में जुड़ेगा. अगर आप स्‍थानीय निकाय के लिए नाम जुड़वाना चाह रहे हैं तो आपको स्‍थानीय निकाय (नगर निगम या नगर पंचायत) में आवेदन करना होगा, दोनों लिस्‍ट अलग अलग होती हैं.

इन दस्तावेजों की होगी जरूरत
एक पासपोर्ट आकार की तस्वीर और पते के प्रमाण में राशन कार्ड या पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस या फोन या बिजली-पानी, गैस का बिल, नेशनलाइज्ड बैंक या पोस्ट ऑफिस की करंट पासबुक हो सकती है. आप अपने आवेदन का स्‍टेटस ऑनलाइन देख सकते हैं.

एज प्रूफ के लिए

नगर निगम ऑफिस से जारी बर्थ सर्टिफिकेट या 10वीं का सर्टिफिकेट, जिस पर उम्र दर्ज हो. अगर इनमें से कोई दस्तावेज नहीं है तो पहले से वोटर लिस्ट में शामिल माता या पिता में से कोई एक अपने साइन के साथ उम्र का डिक्लेरेशन दे सकते हैं. यह डिक्लेरेशन एक निश्चित फॉर्मेट में होता है, जिसे भरना  होगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज