बेकाबू कोरोना को लेकर दिल्‍ली में फिर पाबंदियां, शादी और अंतिम संस्‍कार को लेकर नई गाइडलाइंस

दिल्ली सरकार का कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बड़ा फैसला.

दिल्ली सरकार का कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बड़ा फैसला.

कोरोना (Corona) के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए दिल्ली सरकार ने आयोजनों को लेकर नई गाइडलाइंस जारी की हैं. इनका अब सख्ती से पालन किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 28, 2021, 12:07 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए एक बार फिर दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने बड़ा फैसला किया है. अब शादी समारोह या अन्य किसी आयोजन में समारोह हॉल की क्षमता के 50 प्रतिशत ही लोग शामिल हो सकेंगे और ये संख्या भी 100 लोगों से ज्यादा नहीं होगी. वहीं खुले मैदान में होने वाले समारोह में ये संख्या 200 लोगों की होगी. दिल्ली सरकार के आदेशानुसार अब अंतिम संस्कार और उससे संबंधित कार्यक्रमों में 50 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे. इस दौरान कोरोना गाइडलांइस का सख्ती से पालन करना होगा.

केजरीवाल सरकार के अनुसार किसी भी कार्यक्रम या आयोजन के दौरान कोरोना गाइडलाइंस का आयोजकों के साथ ही मेहमानों को भी पालन करना होगा. इस दौरान थर्मल स्कैनिंग के साथ ही सभी को मास्क लगाना अनिवार्य होगा. वहीं सोशल डिस्टेंसिंग और सैनेटाइजेशन का भी पूरा ध्यान रखना होगा.

लॉकडाउन के मूड में नहीं सरकारइससे पहले दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने लॉकडाउन नहीं करने के संकेत दिए थे. मंत्री का मानना है कि कोरोना रोकने के लिए लॉकडाउन समाधान नहीं है. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने कहा कि 'लॉकडाउन की कोई संभावना नहीं है. लॉकडाउन करके देखा गया था, उसके पीछे एक लॉजिक था. उस समय किसी को नही पता था कि वायरस कैसे फैलता है. तब कहा गया था कि संक्रमित होने से लेकर ख़त्म होने तक 14 दिन का सायकिल है. तब एक्सपर्ट का कहना था कि अगर 21 दिनों के लिए एक्टिविटी को लॉक कर दें तो वायरस फैलना बन्द हो जाएगा. फिर भी लॉकडाउन बढ़ता गया, लेकिन इसके बावजूद कोरोना खत्म नहीं हुआ. मुझे लगता है कि लॉक डाउन समाधान नही है.'

उल्लेखनीय है कि दिल्ली में लगातार कई दिनों से कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं. 27 मार्च को जारी दिल्ली सरकार के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में लगातार तीसरे दिन 1500 से ज्यादा मामले सामने आए हैं. पिछले 24 घंटों में 1558 नए मामले सामने आए हैं. दिल्ली में मौत के आंकड़ों में भी बढ़ोतरी हुई है. पिछले 24 घंटों में 10 मरीजों की मौत हुई है. 23 जनवरी के बाद सबसे ज्यादा मौत का आंकड़ा सामने आया है. 23 जनवरी को भी 24 घंटों में 10 मरीजों की मौत हुई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज